बच्चों और विभाग ने ली बालश्रम न करने और न करवाने की शपथ

0
48

TODAY EXPRESS NEWS : फरीदाबाद 12 जून – श्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संचालित राष्ट्रीय बालश्रम परियोजना फरीदाबाद की ईकाई ने 12 जून के दिन फरीदाबाद सेक्टर 12 में विश्व बालश्रम निषेध दिवस मनाया, बालश्रम रोकने और जागरूकता फैलाने के लिये शहर में रैली भी निकाली गई, जिसे डिप्टी लेबर कमीश्नर सुधा चैधरी ने हरी झंडी दिखाई। विश्व बालश्रम निषेध दिवस बालश्रम से शिक्षा तक पहुंचने वाले विद्यार्थियों ने नुक्कड नाटक के जरिये बालश्रम रोकने का संदेश दिया। वहीं इस कार्यक्रम में पहुंचे बच्चों को संचालित राष्ट्रीय बालश्रम परियोजना फरीदाबाद की ईकाई ने बालश्रम जागरूकता से संबंधित प्रिंट््ेड टी-शर्ट और कैप भी वितरित की। इस दौरान कार्यक्रम में पहुंचे विभाग के पदाधिकारियों और बच्चों ने शपथ ली कि वह अपने आसपास ने तो बालश्रम करवायेंगे और न ही करने देंगे, इतना ही नहीं कसम खाई गई कि जिस होटल, दुकान या फिर और किसी व्यवसाहिक जगह पर बालश्रम हो रहा होगा तो वहां से कोई सामान नहीं खरीदेंगे और न ही कोई संबंध रखेंगे। बालश्रम को कहें न और शिक्षा को कहें हां, बालश्रम न करें और न करने दें जैसे स्लोगन लिखे हुए बैनर पोस्टर लेकर छोटे – छोटे बच्चों ने फरीदाबाद की सडकों पर विश्व बालश्रम निषेध दिवस के दिन बालश्रम रोकने और जागरूक करने का संदेश दिया।

बता दें कि श्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संचालित राष्ट्रीय बालश्रम परियोजना फरीदाबाद की ईकाई ने फरीदाबाद सेक्टर 12 में विश्व बालश्रम निषेध दिवस मनाया, जिसमें पहले बच्चों ने नुक्कड नाटक करके बालश्रम रोकने का संदेश दिया और शहर की सडकों पर जागरूकता रैली निकाली। कार्यक्रम के दौरान डिप्टी लेबर कमीश्नर सुधा चैधरी ने उन बच्चों को भी सम्मनित किया जिन्होंने पेंटिंग प्रतियोगिता के दौरान बालश्रम रोकने का संदेश दिया।  इस कार्यक्रम के दौरान डिप्टी लेबर कमीश्नर सुधा चैधरी ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि उनका कार्य बालश्रम करने वाले बच्चों को शिक्षा की मुख्य धारा से जोडना है ताकि उनका भविष्य उज्ज्वल हो सके, जिस पर उनकी टीम लगातार काम कर ही है और बालश्रम करने वाले बच्चों की जांच करके उन्हें शिक्षा प्रदान करवाती है। इस पूरे कार्यक्रम की जिला स्तर पर देखरेख कर रहीं राष्ट्रीय बालश्रम परियोजना की प्रोजेक्ट डायरेक्टर रूकमनी ने बताया कि प्रतिबर्ष फरीदाबाद में श्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संचालित राष्ट्रीय बालश्रम परियोजना की ईकाई 12 जून के दिन विश्व बालश्रम निषेध दिवस मनाती है। रूकमनी ने बताया कि फरीदाबाद में इस परियोजना के तहत गरीब व बालश्रम करने वाले बच्चों को मुफ्त में शिक्षा, वोकेशनल टृृेनिंग, खाना और स्टेशनरी दी जा रही है। अब तक हजारों बच्चे शिक्षा गृहण करने के बाद उंचाई पर पहुंच गये हैं।  इस मौके पर डिप्टी लेबर कमीश्नर कार्यालय से विनोद दहिया, भगत प्रताप, राजबीर, कपिल, रामफल, रूपेश, कमलेश और शशिबाला, मौजूद रहीं, इनके अलावा समाजिक संस्थाओं की बात करें तो जनकल्याण, प्रयास, आईसीडब्ल्यूए, प्रकाशदीप, राईजिंग, महिला जागृति और रैंनू फाउडेशन सहित कई अन्य संस्थाओं के पदाधिकारी भी मौजूद रहे। वहीं राष्ट्रीय बालश्रम परियोजना प्रोजेक्ट डायरेक्टर रूकमनी, शिवकुमार, ज्ञान, सूरज, सतपाल भाटी, नवीन, अशोक और तमाम आंगनवाडी कार्यकर्ताओं ने भी हिस्सा लिया।

( टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ के लिए अजय वर्मा की रिपोर्ट )


CONTACT FOR NEWS : JOURNALIST AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY