अखिल भारतीय मानव कल्याण ट्रस्ट के द्वारा राम प्रसाद बिस्मिल जयंती मनाई गयी।

0
66

TODAY EXPRESS NEWS : अखिल भारतीय मानव कल्याण ट्रस्ट के द्वारा राम प्रसाद बिस्मिल जयंती के उपलक्ष में सर्व शिक्षा अभियान के तहत  बल्लभगढ़ सेक्टर 2 के गरीब झुग्गी झोपड़ियों के बच्चों को उनके जीवन के बारे में बताया व बच्चों में बिस्कुट व चॉकलेट बांटी गई ट्रस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष पुष्पेंद्र शर्मा जी ने राम प्रसाद बिस्मिल के बारे में बच्चों को बताया कि राम प्रसाद बिस्मिल जी का जन्म 11 जून 1897 को शाहजहांपुर ब्रिटिश भारत में हुआ था l और उनकी मृत्यु  गोरखपुर ब्रिटिश भारत 19 दिसंबर 1927 को हुई थी उनका उपनाम बिस्मिल ‘राम ‘अज्ञात था उनकी माता का नाम  मूलमती और पिता का नाम  मुरलीधर था उनके भाई का नाम  रमेश सिंह वह बहन शास्त्री देवी , ब्रहादेवी देवी भगवती देवी थी राम प्रसाद बिस्मिल जी भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की क्रांतिकारी धारा के एक प्रमुख सेनानी थे जिन्हें 30 वर्ष की आयु में ब्रिटिश सरकार ने फांसी दे दी वे मैनपुरी षडयंत्र काकोरी कांड जैसी कई घटनाओं में शामिल थे तथा हिंदुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन के सदस्य थे रामप्रसाद एक कवि, शायर ,अनुवादक बहु भाषा भाषा ,इतिहासकार व साहित्यकार भी थे बिस्मिल उनका उर्दू त तख्ल्लूस उपनाम था जिस का हिंदी में अर्थ होता है.

आत्मिक रूप से आहत ! बिस्मिल के अतिरिक्त वे राम और अज्ञात के नाम से भी लेख कविताएं लिखते थे ट्रस्ट के महासचिव महेश शर्मा वत्स जी ने कहा किपंडित राम प्रसाद बिस्मिल जी बहुत अच्छे कवि थे उन्होंने बहुत सी कविताएं व साहित्य लिखें थी अमर शहीद पंडित राम प्रसाद बिस्मिल संग्रहालय मध्य प्रदेश व उनकी समाधि बाबा राघव दास आश्रम( बरहज) देवरिया उत्तर प्रदेश में है 11वर्ष के क्रांतिकारी जीवन में उन्होंने कई पुस्तकें लिखी और सेम ही उन्हें प्रकाशित किया उन पुस्तकों को बेचकर जो पैसा मिला उससे उन्होंने हथियार खरीदे और उन हथियारों का उपयोग ब्रिटिश राज का विरोध करने के लिए किया!

11पुस्तक में उनकी जीवन काल में प्रकाशित हुई चश्मे से अधिकतर सरकार द्वारा जप्त कर ली गई ट्रस्ट के राष्ट्रीय महामंत्री हृदयेश सिंह  ने कहा कि राम प्रसाद बिस्मिल  बहुत अच्छे साहित्यकार एवं कवि थे उन्होंने ब्रिटिश सरकार के खिलाफ लड़ाई लड़ी थी बिस्मिल को तत्कालीन संयुक्त प्रांत आगरा व अवध की लखनऊ सेंट्रल जेल की 11नंबर बैरक में रखा गया था. इसी जेल में उनके दल के अन्य साथियों को एक साथ रखकर उन सभी पर ब्रिटिश राज के विरुद्ध साजिश रचने का ऐतिहासिक मुकदमा चलाया गया था और 30 वर्ष की आयु में राम प्रसाद बिस्मिल ब्रिटिश सरकार ने फांसी दे दी थी . उनकी मृत्यु 19 दिसंबर 1927 हुई थीट्रस्ट के डॉक्टर महेंद्र भारद्वाज  ने कहा कि आजकल बढ़ते हुए तापमान की गर्मी में बच्चों को ज्यादा मात्रा में पानी ग्लूकोस पानी नींबू पानी वे सत्तू  पानी तथा का अन्य तरल पदार्थ का सेवन करना चाहिए प्रतिदिन स्नान व साफ-सुथरे कपड़े पहनने चाहिए प्रतिदिन दांतो की सफाई करनी चाहिए वह सप्ताह में 1 दिन नाखून काटने चाहिए और सबसे मुख्य बात खाना खाने से पहले साबुन से हाथ अवश्य साफ करें ट्रस्ट के मीडिया प्रभारी संजय शर्मा ने कहा कि हम गरीब बच्चों वह लोगों की मदद के लिए हमेशा तत्पर रहेंगे इसी तरह से इन लोगों के लिए समय समय पर कार्य करते रहेंगे और मैं लोगों से अपील करता हूं कि पर्यावरण को देखते हुए हर एक व्यक्ति एक पेड़ जरूर लगाएं वह अखिल भारतीय मानव कल्याण ट्रस्ट में ज्यादा से ज्यादा लोग जुड़े ताकि हम देश के गरीब बच्चों के लोगों की मदद कर सके आप सभी की सेवा में ट्रस्ट के राष्टिय अध्यक्ष  पुष्पेन्द्र  शर्मा,महासचिव महेश शर्मा वत्स, महामंत्री हृदयेश सिंह,कोषाध्यक्ष मधु शर्मा ,मीडिया प्रभारी संजय शर्मा , डॉ महेंद्र भारद्वाज ,नीरज भारद्वाज जितेंद्र कुमार, , राकेश शर्मा ,मनोज शर्मा मनीष कुमार, लोकेश अग्रवाल, मनीष ,करन  बीर, पुष्पेंद्र सिंह ,अभिषेक , पवन जी , संगीता  नेगी , ऊर्मिला  फौजदार ,सुबलेश मलिक ,शिल्पी जी ,कविता शर्मा, विमलेश  देवी, ओमवती देवी ,वेद वीर, नीरज कुमार , अभय शर्मा ,अभय चौधरी, कमल  कांत  और बच्चू   व अन्य युवा साथी मौजूद रहे

( टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ के लिए अजय वर्मा की रिपोर्ट )


CONTACT FOR NEWS : JOURNALIST AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY