FARIDABAD : प्रदेशाध्यक्ष बराला और मंत्री मनीष ग्रोवर ने जाट आंदोलनकारी नेता यशपाल मलिक को लिया आड़े हाथो – कहा आंदोलन का राजनीतिकरण हो गया है – प्रदेश की व्यवस्था नहीं बिगड़ने दी जायेगी !!!

0
278
 
FARIDABAD : कृषि सम्मेलन में पहुचे भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला और मंत्री मनीष ग्रोवर ने जहाँ तीन दिवसीय कृषि सम्मलेन के आयोजन को लेकर कृषिमंत्री को बधाई दी वहीँ सुभाष बराला ने जाट आंदोलन की लड़ाई को लेकर कहा की अब इस आंदोलन की लड़ाई का पूरी तरह राजनीतिकरण हो गया है और अब इस राजनितिक लड़ाई को जनता समझने लगी है क्योंकि उत्तर प्रदेश में यशपाल मलिक ने भाजपा को हारने की बात कही थी उसी यशपाल मलिक के गाँव से भाजपा जीतकर आयी वहीँ दूसरी तरफ जाट आंदोलन को लेकर मंत्री मनीष ग्रोवर ने कहा की उनकी सरकार हरियाणा में किसी भी सूरत में हालात खराब नहीं होने देगी। वहीँ उन्होंने कहा की यशपाल मलिक ने कहा था की वह अफसरों से नहीं बल्कि मंत्रियो से बात करेगा लेकिन मंत्री राम बिलास से बातचीत में फैसला होने के बाद अब वह विपक्षी नेताओ की शह पर राजनीति कर रहे है अब वो चाहे भगवान् से मिले लेकिन जनता बहकावे में नहीं आने वाली। 

कृषि सम्मलेन में पहुचे भजापा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने कृषि सम्मलेन के आयोजन पर कृषि मंत्री को बधाई दी और कहा की इस कृषि सम्मलेन से प्रगतिशील किसानों को जहाँ बहुत फायदा होगा वहीँ सरकार की नीति है की किसानों को आधुनिक सुविधाएं दी जा सके जिसके लिए सरकार प्रयासरत है. इन मेलो का मुख्य मकसद किसानों को फसलो के विविधिकरण की और प्रेरित करना है. ताकि इसे अपनाकर वह जायदा से जायदा फायदा उठा सके. सरकार ने दुग्ध उत्पादन को बढ़ाने की और कदम बढ़ाते हुए 50 गाय या भैंस की डेरी खोलने वाले किसान को लोन उपलब्ध करवाने की बात कही है जिसका ब्याज सरकार खुद वहन करेगी। यह एक सरकार का क्रांतिकारी कदम है.

 जाट आंदोलन पर पूछे सवाल पर बराला ने कहा की जाट आंदोलन की लड़ाई का पूरी तरह राजनीतिकरण हो गया है जबकि पिछली बार सरकार ने जो वायदा बिल पास करने का किया था उसे सरकार ने निभाया लेकिन जहाँ तक मैं सोचता हूँ की यह आरक्षण की लड़ाई नहीं बल्कि राजनितिक लड़ाई है और अब हरियाणा की जनता इसे समझने लगी है.क्योंकि उत्तर प्रदेश में यशपाल मालिक ने भाजपा को हारने की बात कही थी उसी यशपाल मलिक के गाँव से भाजपा जीतकर आयी.

वहीँ कृषि मेले में पहुचे मंत्री मनीष ग्रोवर ने जाट आंदोलन पर बोलते हुए कहा की इस बार हरियाणा में हालात खराब नहीं होने दिए जाएंगे और कानून व्यवस्था बनाकर रखी जायेगी। उन्होंने हैरानी जतलाते हुए कहा की 16 मार्च को पानीपत में यशपाल मलिक और हमारे मंत्रियो के बीच जो फैसला हुआ था और उसे मान लिया गया था लेकिन 17 तारिख की रात को यशपाल मालिक ने विपक्षी नेताओ के साथ मिलकर हरियाणा को गुमराह करने की योजना बनायी। कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा की मलिक ने कहा था की यूपी में भाजपा को वोट नहीं मिलेगा जबकि उनके गाव से ही भाजपा कमल खिलाकर आयी. वहीँ उन्होंने कहा की यशपाल मलिक ने कहा था की वह अफसरों से नहीं बल्कि मंत्रियो से बात करेगा लेकिन मंत्री राम बिलास से बातचीत में फैसला होने के बाद अब वह विपक्षी नेताओ की शह पर राजनीति कर रहे है अब वो चाहे भगवान् से मिले लेकिन जनता बहकावे में नहीं आने वाली।

( REPORT BY AJAY VERMA 971 631 6892 )

LEAVE A REPLY