बाईपास रोड़ पर दिखा नशे में रफ्तार का कहर – 1 महिला की मौत 4 घायल

0
213
TODAY EXPRESS NEWS ( AJAY VERMA ) फरीदाबाद में एक बार फिर दिखा रफ्तार का कहर । तड़के सुबह बाई पास रोड़ पर स्विफ्ट कार अनियंत्रित होकर झुग्गी में जा घुसी । झुग्गी में सो रही माँ ओर बेटी पर गाड़ी चढ़ने के कारण महिला की मौके पर मौत हो गयी जबकि घायल बेटी का निजी हस्पताल में इलाज चल रहा है । जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है । स्थानीय लोगो ने कार में सवार तीन युवकों पर नशे में होने का आरोप लगाया है । जिन्हे भी चोटिल होने के चलते अस्पताल में भर्ती करवाया है, हादसे की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुची ओर मृतक महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए  सरकारी हस्पताल भिजवाया गया । 
 
परिजन  की मानें तो उसकी बहन सड़क किनारे तम्बू लगा कर सेक्टर -18 के सामने मिटटी का बर्तन  बेचने का कार्य करती थी और वह बीती रात अपने तम्बू में एक साथ खाट पर मां -बेटी सो रही थी। उनका कहना हैं कि आज प्रात तक़रीबन पांच बजे एक काले रंग की स्विफ्ट कार जिसमें तीन लड़के सवार थे ने उसकी तम्बू व दोनों मां -बेटी को कुचलते हुए,वहां खड़ी एक थ्री -व्हीलर को पार करती हुई  दूर जाकर पलट गई।  उनका कहना हैं कि घटना के तुरंत बाद पुलिस  मौके पर पहुंच और गंभीर रूप से घायल मां -बेटी व कार में सवार तीनों लड़कों को एक निजी अस्पताल में ले जाया गया हैं जहां पर घायल महिला की डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। जबकि गंभीर रूप से घायल 15 वर्षीय लड़की की हालत जाएदा गंभीर हैं जिसका इलाज एक निजी अस्पताल में चल रहा हैं जहां वह लड़की जिंदगी और मौत से जूझ रहीं हैं।
 
ओल्ड फरीदाबाद थाना के एसएचओ सुखबीर सिंह धनखड़ का कहना हैं कि इस घटना में मां की मौत हो गई हैं और घायल लड़की का अभी ईलाज एक निजी अस्पताल में चल रहा हैं। सवाल के जवाव में उनका कहना हैं कि स्विफ्ट  कार में तीन लड़के सवार थे जिनमें से एक शख्स मामूली रूप से घायल हैं और दो लड़के बिल्कुल हैं व कार काफी तेज रफ़्तार में थी जोकि बुरी तरह से क्षति ग्रस्त हो गई  और पुलिस ने स्विफ्ट कार को अपने कब्जे में ले लिया हैं। उनका कहना हैं कि पीड़ित की तरफ से जैसी भी शिकायत आएगी उस हिसाब से इसके आगे की कार्रवाई कर दी जाएगी। फ़िलहाल पुलिस महिला के शव का पोस्टमार्टम करवाने की तैयारी चल रहीं हैं। 
CONTACT : AJAY VERMA 9953753769 , 9716316892
EMAIL : faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY