नसीरपुर ग्राम पंचायत में लगा गंदगी का अंबार अधिकारी नहीं देते ध्यान

0
361
TODAY EXPRESS NEWS ( श्रवण चौहान –  उत्तर प्रदेश ) यू तो  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हैं कि 2019 तक स्वच्छ भारत बना देंगे लेकिन उसकी ज़मीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है जो करोड़ों रुपए लगाने के बाद भी स्वच्छता के नाम पर ठेंगा दिखाना ही है। उदाहरण के लिए बाराबंकी के विकासखंड सिद्धौर की ग्राम पंचायत नसीरपुर का है  जहां पर  ग्राम प्रधान के घर में ही शौचालय नहीं है जबकि सरकार का निर्देश रहा है कि ग्राम प्रधान के घर में शौचालय का  होना अनिवार्य है । लेकिन यहां पर ग्राम प्रधान सुबह उठकर शौच के लिए  नहर की पटरीओ  का  सहारा लेते हुए देखा जा सकता है । इस गांव में अगर साफ-सफाई की बात की जाए तो साफ सफाई यहां पर ना के बराबर है। और वहीं के ग्रामीणों का कहना है कि क्या करें साहब यहां ना तो अभी तक स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत शौचालय का निर्माण हुआ है और ना ही गांव में तैनात सफाई कर्मी गांव में साफ सफाई करने के लिए आता है और अगर महीने में एक आधी बार आता भी है तो ग्राम प्रधान की जी हुजूरी में लगा रहता है और  सफाई कर्मी से  अगर साफ-सफाई की बात की जाए तो उल्टा  आंख दिखाया करते हैं वही के विजय कुमार गौतम का कहना है कि जो यहां  का पूर्व माध्यमिक विद्यालय बना हुआ है उस विद्यालय में ना तो बच्चे आते हैं और ना ही समय  से अध्यापक आते हैं और विद्यालय में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। जिससे बच्चों के ऊपर किसी भी समय संक्रमण रोग अपना कब्जा कर सकता है
क्या कहते हैं जिम्मेदार
जब इसके बारे में सिद्धौर ब्लाक के सहायक खंड विकास अधिकारी हितेंद्र कुमार सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि
मामला प्रकाश में आया है जल्द से जल्द उचित कार्यवाही की जाएगी । और सफाई कर्मी के खिलाफ नोटिस भी जारी की जाएगी
बॉक्स
बाबू बनकर घूम रहे हैं सफाई कर्मी गांव में लगा गंदगी का अंबार अधिकारी नहीं देता ध्यान

CONTACT : AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY