नशे की खेप ले जा रहे नाइजीरियन की इनकाउंटर नहीं हाथापाई में हुई मौत ( पढ़िए पूरी खबर )

0
666

TODAY EXPRESS NEWS ( REPORT / Ajay verma ) फरीदाबाद के सूरजकुंड इलाके में ड्रग्स सप्लाई करने वाले दो विदेशी नाइजीरियन में से एक नाइजीरियन युवक मारा गया जबकि दूसरे को पुलिस ने काबू कर लिया। गुरुग्राम क्राइम ब्रांच पुलिस सूचना के आधार पर इन आरोपियों की गाडी का पीछा कर रही थी जो ओला कैब में सवार होकर फरीदाबाद की तरफ आ रहे थे. समय रहते गुरुग्राम पुलिस ने  सूरजकुंड रोड स्थित एमवीएन नाके की पुलिस को सूचना दी जिस पर पुलिस ने गाडी को जैसे ही रुकवाया तो उनमे से एक नाइजीरियन युवक झाड़ियों की तरफ भागने लगा पुलिस पीआरओ द्वारा जारी जानकारी के अनुसार युवक ने हथियार निकालकर पुलिस पर फायर करने की कोशिश की जिसे पुलिस के जवानो ने पकड़ने की कोशिश की. इसी दौरान पकड़ा – पकड़ी में नाइजीरियन युवक को उसी के हथियार से गोली लग गयी और उसकी मौत हो गयी. पुलिस को गाडी में से नशीले पदार्थ की खेप भी मिली है. 

 

हालांकि अभी तक  पुलिस ने किसी किस्म के इनकाउंटर की पुष्टि नहीं की है जबकि पुलिस पीआरओ द्वारा जारी प्रेस नॉट में यह कहा गया है की जब गुरुग्राम से आ रही ओला कैब को सूरजकुंड इलाके की पुलिस के नाके पर रोका गया तो गाडी में बैठा एक नाइजीरियन हाथो में हथियार लेकर झाड़ियों की तरफ फायर करता हुआ भागने लगा पीछा करने पर पुलिस पार्टी ने उसे घेर लिया और जब उसे हथियार समेत काबू करना चाहा तो इसी दौरान उसी के रिवाल्वर की गोली उसे लग गयी और उसकी मौत हो गयी. मरने वाले नाइजीरियन का नाम  माइकल चार्ल्स बताया गया है जबकि दूसरे  आरोपी को पुलिस ने काबू कर लिया। पुलिस पीआरओ के अनुसार इन लोगो के कब्जे से एक पिस्टल दो ज़िंदा कारतूस और सफ़ेद और ब्राउन रंग का नशीला पदार्थ मिला है. आरोपी नाइजीरियन की डेड बॉडी को सरकारी हस्पताल में रखवा दिया गया है.   
 
 
हमारी कैमरा टीम ने मृतक नाइजीरियन माइकल चार्ल्स के ग्रीन फील्ड कालोनी स्थित फ्लेट नंबर 2821 / A  की जांच की तो वहां ताला लटका हुआ मिला। इसी बिल्डिंग में रहने वाले अन्य लोगो ने बताया की यह विदेशी युवक पिछले एक साल से यहाँ रह रहा था और वह कई – कई दिन तक अपने फ्लेट पर नहीं आता था. उन्होंने बताया की इस फ्लेट में वह अकेला रहता था और किसी से मिलता जुलता नहीं था. वहीँ फ्लेट्स में काम करने वाली एक बाई ने बताया की एक बार इसी नाइजीरियन ने उसे साफ़ सफाई के काम के लिए कहा था लेकिन उसने इंकार कर दिया था. क्योंकि उसे देखकर ही उसे डर लगता था. 
(  खबर मीडिया में खबर आने के बाद पुलिस ने अपना पक्ष मिडिया के सामने रखा  )
नाइजीरियन इनकाउंटर मामले की खबर मीडिया में खबर आने के बाद पुलिस ने अपना पक्ष मिडिया के सामने रखा है और डीसीपी लोकेन्द्र सिंह ने बताया है की गुरुग्राम सीआईए टीम दो नाइजीरियन सस्पेक्ट्स के पीछे थी जो एनडीपीएस ( ड्रग्स ) की सप्लाई में इन्वाल्व थे.  जिन्हे पकड़ने के लिए फरीदाबाद सूरजकुंड रोड पर गुरुग्राम की सीआईए आई हुई थी. तो एमवीएन चौक पर जब नाका लगाया गया तो  उक्त नाइजीरियन आरोपियों की कैब को रुकवाया गया  तो दोनों नाइजीरियन में से एक नाइजीरियन युवक बैग छोड़कर भागने लगा तो गुरुग्राम की क्राइम ब्रांच टीम ने उनका पीछा किया तो नाइजीरियन युवक ने हवाई फायर भी किये थे जिसमे क्राइम ब्रांच की टीम बाल बाल बची है. पीछा करते हुए क्राइम ब्रांच गुरुग्राम ने उक्त नाइजीरियन युवक को काबू करने की कोशिश कोशिश की तो पुलिस और नाइजीरियन युवक के बीच हाथापाई हुई इसी दौरान नाइजीरियन युवक के ही हथियार से ही उसके पीठ पर गोली चल गयी और वह गोली लगने से घायल हो गया जिसके बाद पुलिस उसे उठाकर हसपताल ले गयी जहाँ नाइजीरियन युवक की मौत हो गयी. डीसीपी ने साफ़ किया की फरीदाबाद क्राइम ब्रांच की टीम केवल सहयोग के लिए गुरुग्राम की टीम के साथ मोके पर थी लेकिन जिस वक्त आरोपी भागा था तब क्राइम ब्रांच फरीदाबाद सूरजकुंड रोड पर ही थी जबकि गुरुग्राम की टीम के साथ आरोपी की मुठभेड़ झाड़ियों में जारी थी.  उन्होंने बताया की यह दोनों फरीदाबाद की ग्रीन फील्ड कालोनी में रहने वाले थे. उन्होंने बताया की पुलिस की जांच अभी जारी। 
 
अगर मौके के हालात के अनुसार यह पुलिस इनकाउंटर माना जा रहा है लेकिन एक विदेशी नागरिक की मौत का मामला होने के कारण अब पुलिस इसे दुसरा ऐंगल देकर अपना स्पष्टीकरण दे रही है हालांकि अभी पकडे गए दूसरे आरोपी से पूछताछ के बाद ही सच्चाई सामने आ पाएगी फिलहाल अभी तक पुलिस का पक्ष नहीं मिला है और पुलिस के वर्जन के बाद ही साफ़ हो पायेगा की क्या यह इनकाउंटर था या पुलिस के साथ आरोपी की हाथापाई में उसकी मौत हुई है. एक और बड़ा सवाल खड़ा होता है की पिछले एक साल से उक्त नाइजीरियन किराय के फ्लेट में रह रहा था तो ऐसे में उस फ्लेट मालिक ने पुलिस से उसका वेरिफिकेशन करवाया था या नहीं इसकी भी जांच होनी चाहिए।
—————————————————————————————————–
( टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ के लिए फरीदाबाद से अजय वर्मा के साथ मंजीत सिंह की रिपोर्ट )

CONTACT FOR NEWS : JOURNALIST AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY