बेटे के ससुराल पक्ष की प्रताड़ना के चलते व्यापारी ने गोलीमारकर की आत्महत्या

0
1128

TODAY EXPRESS NEWS : बेटे के ससुराल पक्ष और बहु की प्रताडना से तंग आकर मशहूर लोहा व्यापारी ने दुनाली बदंूक से अपने आप को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। वहीं मृतक प्रदीप कालरा ने मरने से पहले अपना एक विडियो भी मोबाइल फोन कैद कर जिसमें उसने अपनी बहु व उसके परिजनों का अत्याचार के बारे में बताया है। आत्महत्या करने से पहले लोहा व्यापारी प्रदीप कालरा ने एक सुसाईड नोट लिखा और विडियो भी बनाई। इस आत्महत्या के बाद परिजनों और पडोसियों में हडकंप मच गया। घटना की सूचना पुलिस को दी गई मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के पास से सुसाईड नोट कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। इस सुसाईड नोट में मृतक ने अपने समधी, बहु, और एक अन्य का नाम दर्शाया है जिसमें उनको अपनी मौत का जिम्मेदार बताया गया है। 

मृतक प्रदीप कालरा ने मरने से पहले बनाए गए अपने विडियो में दर्द बंया करते हुए बताया है” मै प्रदीप कालरा अपना एक बयान देकर जा रहा हुं। मैने अपने बडे लडके की शादी नागपाल परिवार से की जो एक धोखा था। इसने शादी करके हमारे पूरे परिवार को तहश नहश कर दिया है। शादी इसने धोखे से इसलिए की है कि हमारी जमींन जायदाद को हडप सके। इस फरौडी आदमी को पूरा फरीदाबाद जानता है। यह एक फरोडी आदमी है। लडके की इच्छा के आगे मैने अपने घुटने टेक दिए थे और उससे शादी करा दी थी। तब तक हमें इनके बारे में नही पता था। शादी के होने के फौरन बाद इसने गलत तरीके से अडौपशन और घर में आतंक मचा दिया।  छोटे बच्चों पर जुल्म करना लडकी को समझाना की अपने बच्चों को दुध नहीं पिलाना किसी की कोई बात नहीं सुनना, और बार बार धमकी देना की लडकी वाले हम है और पावर फुल हैं। अगर प्रॉपर्टी हमारे नाम नहीं की तो आपकों अजांम तक पहुंचा देगें और पुलिस में फसां देगें। हम इनको अभी तक सह रहे हैं। और ये हमें तंग किए जा रहे हैं। ”  बताया जाता है कि मृतक लोहा व्यापारी प्रदीप कालरा ने अपने बेटे की शादी एनएच एक की रहने वाली हिना के साथ की थी। हिना पहले से की तलाक शुदा थी और उसमे से उसे एक बच्चा भी हुआ था। बाद में हिना की दूसरी शादी लोहा व्यापारी के बेटे से हुई थी जिसमेें से उसे जुडंवा बच्चे पैदा हुए थे। लेकिन इस शादी के बाद भी हिना घर नहीं बसा पाई और हिना के परिजनों ने दोनों जुडवां बच्चे अपने कब्जे में ले लिए और उन पर कहर ढाना शुरू कर दिया। इस पर  लोहा व्यापारी के परिवार ने कोर्ट के माध्यम से बच्चों की कस्टडी मांगी जिस पर कोर्ट ने बच्चे कालरा परिवार को सौंपने के आदेश दिए। इसके बाद हिना के परिजनों ने कोर्ट में एक और अपील दायर करते हुए दलील दी की बच्चे छोटे हैं और मां ही उनकी सही देख रेख कर सकती है . इस पर कोर्ट ने अपना फैंसला बदलते हुए बच्चे फिर से मां को सौंप दिए। चुंकि कालरा परिवार का बच्चों में मोह था जिसे वह छोड नहीं पा रहे थे। इसी का फायदा हिना व उसके परिजनों उठाना शुरू कर दिया। लेकिन कालरा परिवार हिना और उसके बच्चों की देखरेख के लिए प्रतिमाह सत्तर से अस्सी हजार रूपये दे रहे थे। लेकिन इस पर भी उनका पेट नहीं भर रहा था। और उन्होंने करोडों की जायदाद हिना के नाम करने का दबाब बनाना शुरू कर दिया। जिसके चलते यह परिवार टूट गया और प्रदीप कालरा ने अपनी जान देने का फैंसला कर  लिया। हिना और उसके परिजनों की प्रताडना से तंग आकर लोहा व्यापारी ने अपने आप को अपनी लाईसैंसी दुनाली बंदूक से खुद को गोली मारकर अपनी जीवन लीला का अंत कर दिया। वहीं मृतक के भाई चंद्रपकाश कालरा ने बताया कि जो उनकी बहु थी उनके भाई व उसके बेटे को बच्चों के नाम पर प्रताडित कर रही थी और उनको इतना टार्चर किया की उनहेांने अपनी जान ही दे दी। उनके उपर हिना लगातार जमींन जायदाद लेने के लिए दबाब बना रही थी।   वहीं पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को कब्जे में ले लिया है। एसएचओ अरूण ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी की किसी शख्स ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। इस पर वह मौके पर पहुंंचे उन्होंने बताया कि मौके से उन्हें सुसाईड नोट और विडियो क्लिप मिली है। जिसकी जांच की जा रही है। 

( टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ के लिए अजय वर्मा की रिपोर्ट )


CONTACT FOR NEWS : JOURNALIST AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY