( महापंचायत ) 1200 परिवारों पर लटकी बेघर होने की तलवार ( क्लिक करें पढ़े पूरी खबर )

0
312

TODAY EXPRESS NEWS ( REPORT BY AJAY VERMA ) फरीदाबाद में नगर निगम के आदेश के बाद 1200 परिवार बेघर होने की कगार पर है और उन्हें बेघर करने का आदेश नगर निगम फरीदाबाद ने दिया है।  दरअसल नगर निगम फरीदाबाद ने 2 नंबर इलाके की हरिजन बस्ती को  अवैध बताते हुए इसे तोड़ने के आदेश जारी किये है ,जिसके बाद वहां के स्थानीय निवासी सदमे में है ।  इसी को लेकर आज हजारों की संख्या एकत्रित लोगो ने महापंचायत कर इस समस्या से निबटने  के लिए मंथन किया। इस महापंचायत में लोगो ने भाजपा पर दलित विरोधी सरकार होने का आरोप लगाया ।गौरतलब है की इस हरिजन बस्ती में लगभग 1200 परिवार रहते है,जिनमे लगभग 800 दलित परिवार रहते है उन्होंने कहा घर टूटे तो बच्चों सहित जेसीबी के सामने लेट जाएंगे लोग ।

कद्दावर विपक्षी नेताओ ने दिया लोगो को समर्थन ( PHOTO – पूर्व विधायक चन्द्र भाटिया और कांग्रेस युवा नेता नलिन हुड्डा )

अपने आशियाने उजड़ने के आदेश  के डर के चलते महापंचायत कर महामंथन करते दिखाई दे रहे ये पुरूष और महिलाये फरीदाबाद ने  2 नंबर इलाके कीहरिजन बस्ती के रहने वाले है। इनकी माने तो पिछले करीब 60 सालों से वो यहाँ पर रह रहे है और अब नगर निगम ने इस कॉलोनी के लगभग 1200 घरो को तोड़ने का फरमान सुनाया है । इस फरमान के बाद लोगो में हडक़ंप मंच गया और वह सडक़ो पर उतर आये थे और स्थानीय लोगो ने शहर की सडकों पर भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए रोष मार्च निकाला था, और आज नगर  निगम के उसी आदेश के खिलाफ लोगो ने महापंचायत कर मंथन किया की वह लोग इस बेघर  करने के सरकार के आदेश से कैसे निबटे ,महापंचायत शामिल लोगो का कहना की यहाँ पर पिछले 50 – 60 साल से वह रह रहे है और उन्हें यही रहने दिया जाए। वह लोग नगर निगम के इस आदेश के खिलाफ है सरकार  का काम बसाने का होता है न  उजाड़ने का ,वही उन्होंने सरकार पर आरोप लगाते हुए सरकार 1200 घरो को उजाड़ कर पार्क बनाने का काम करने जा रही है और उन्हें कही और बसाने की बात कह रही है जब सरकार अपनी ही जमीन पर बसाने की बात कर रही है तो  उन्हें यहीं क्यों नहीं रहने दिया जाए ,वही उन्होंने बताया की वह लोग इस समस्या को लेकर केंद्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर से  मिले है उन्होंने उन्हें आश्वासन दिया है की वह उन्हें वहां से नहीं उजड़ने देंगे और उनकी महापंचायत में शिरकत करेंगे लेकिन वह महापंचायत में नहीं पहुंचे है।  वही उन्होंने कहा की यदि सरकार उनकी नहीं मानती तो भी वह विद्रोह नहीं करेंगे अगर उनके यहाँ तोड़ फोड़ की कार्यवाही हुई तो  वह और तो कुछ नहीं कर सकते लेकिन वह अपने बच्चो समेत  जीसीबी के आगे लेट जाएंगे बेशक इसके लिए उन्हें अपनी जान ही क्यों ना देनी पड़े । 

 

CONTACT : AJAY VERMA 9953753769 , 9716316892

EMAIL : faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY