आयुष्मान भारत योजना के तहत मिलेगा प्रति वर्ष पांच लाख रुपये तक का मुफ्त ईलाज – धीरेंद्र खडगटा

0
394
Under Ayushman Bharat Yojana, free treatment up to five lakh rupees per year - Dhirendra Kharagta
Photo Nuh DIPRO

बिलाल अहमद/ब्यूरो नूह मेवात। नूंह,उपायुक्त धीरेंद्र खडगटा ने प्रधानमंत्री जन आरोग्य (आयुष्मान भारत) योजना बारे जानकारी देते हुए बताया कि यह योजना नागरिकों और उनके परिवार के सदस्यों को सामूहिक रूप से अस्पताल में प्रतिवर्ष पांच लाख रुपये तक के मुफ्त ईलाज की सुविधा प्रदान करता है। इसका लाभ पूरे भारत में कहीं भी सूचीबद्ध अस्पतालों में उठाया जा सकता है। अस्पताल में भर्ती होने पर पांच लाख रुपये के ईलाज मुफ्त है, आपको अस्पताल में भुगतान जमा करने की आवश्यकता नहीं है। किसी भी मदद के लिए या अपने आस-पास के सूचीबद्ध अस्पताल के बारे में पता लगाने के लिए अथवा शिकायत दर्ज करने के लिए टोल फ्री नंबर 14555 पर कॉल करें या एमईआरए डॉट पीएमजेएवाई डॉट जीओवी डॉट आईएन पर जाएं अथवा गूगल प्ले स्टोर से आयुष्मान भारत (पीएम-जेएवाई) एप डाउनलोड करें। उपायुक्त ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने योजना के उद्देश्य को देखते हुए त्वरित ढंग से जरूरतमंदों को इसका लाभ पहुंचाया है। योजना के तहत प्राइवेट अस्पतालों में भी स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत निजी अस्पताल भी पैनल किए गए है। इन पैनल अस्पतालों की जानकारी सभी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों से प्राप्त की जा सकती है।

Nuh- Mewat Deputy Commissioner and District Election Officer Dhirendra Kharagtaउन्होंने बताया कि योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 14555 पर भी संपर्क किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र व्यक्ति के पास स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी गोल्डन कार्ड होना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि सभी पात्र व्यक्ति अपने नजदीकी सरकारी स्वास्थ्य केंद्र से अपना गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं। योजना के पात्र व्यक्ति सभी सरकारी व प्राइवेट पैनल अस्पताल में नि:शुल्क गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं। नजदीकी सीएससी पर भी यह कार्ड बनवाया जा सकता है। उपायुक्त धीरेंद्र खडगटा ने बताया कि किसी भी नागरिक के पास पैसे के अभाव में ईलाज न होने से किसी की मृत्यु न हो, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना शुरू की है, जिसके तहत प्रत्येक परिवार को साल में 5 लाख रुपये तक का नि:शुल्क ईलाज उपलब्ध करवाया जाता है। उन्होंने कहा कि योजना के तहत पंजीकरण करवाने से वंचित सभी पात्र परिवार अपना गोल्डन कार्ड जरूर बनवा लें। आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएम-जेएवाई) गरीब व जरूरतमंद परिवारों की स्वास्थ्य सेवाओं में हिस्सेदारी सुनिश्चित करने में बेहद कारगर कार्यक्रम साबित हुआ है। सरकार के इस महत्वाकांक्षी कार्यक्रम के तहत प्रदेश के सभी जिलों में पात्र सरकारी व प्राइवेट पैनल अस्पतालों में विभिन्न बीमारियों के उपचार व सर्जरी आदि स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठा रहे हैं।

अजय वर्मा की रिपोर्ट ( ख़बरों व विज्ञापन के लिए todayexpressnews24x7@gmail.com मेल करें )

LEAVE A REPLY