लिंग्याज विद्यापीठ (डीम्ड-टू-बी यूनिवर्सिटी) के स्कूल ऑफ लॉ के विद्यार्थियों ने न्यायालय भ्रमण किया

0
589

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़।  रिपोर्ट अजय वर्मा। फरीदाबाद, 1 दिसंबर: लिंग्याज विद्यापीठ (डीम्ड-टू-बी यूनिवर्सिटी) के स्कूल ऑफ लॉ द्वारा विद्यार्थियों को जिला एवं सत्र न्यायालय, फरीदाबाद की न्यायिक प्रक्रिया का अवलोकन हेतु न्यायालय भ्रमण करवाया गया।

हेड ऑफ द स्कूल प्रोफेसर (डॉ.) मोनिका रस्तोगी ने बताया कि इस दौरान छात्र-छात्राओं ने जिला एवं सत्र न्यायालय, परिवार न्यायालय, मध्यस्थम केंद्र समेत विभिन्न न्यायालयों की प्रक्रिया का अवलोकन किया। इस कार्यक्रम का उद्देश्य छात्र-छात्राओं को न्यायिक प्रक्रिया से अवगत कराना एवं व्यवहारिक ज्ञान का विकास करना था। छात्र-छात्राओं ने जिला एवं सत्र न्यायाधीश संदीप गर्ग से वकालत के बारे में मार्गदर्शन लिया तथा इस दौरान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने अन्वेषण में न्यायाधीश एवं पुलिस के कार्य के बारे में विस्तार से चर्चा की।

न्यायालय में चल रहे केस को भी छात्र-छात्राओं ने बारीकी से देखा तथा कोर्ट परिसर से जुड़े विभागों का दौरा किया एवं किस प्रकार से केस फाइल को तैयार किया जाता है इसका भी अवलोकन किया। इस दौरान छात्र-छात्राओं ने जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष से भी मुलाकात कर मार्गदर्शन प्राप्त किया। यह कार्यक्रम युनिवर्सिटी चांसलर डॉ. पिचेश्वर गड्डे एवं प्रो चांसलर प्रोफेसर (डॉ.) एम. के. सोनी की प्रेरणा द्वारा सफल बनाया जा सका। इस कार्यक्रम की सफलता पर रजिस्ट्रार प्रेम कुमार सलवान और अकैडमिक डीन प्रोफेसर (डॉ.) सीमा बुशरा ने विभाग के सभी स्टाफ सदस्यों को बधाई दी। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में डॉ. अंजली दीक्षित, शिल्पा शर्मा, शिवेंद्र कुमार, विवेक गुप्ता, रुचि कौशिक, मोहिनी तनेजा, स्वेक्षा भदौरिया, डॉ. सुरेश नागर और दुर्गेन्द्र सिंह राजपूत का योगदान महत्वपूर्ण रहा।

LEAVE A REPLY