आजीविका एवं कौशल विकास दिवस के अवसर पर जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

0
294

TODAY EXPRESS NEWS (बिलाल अहमद)  ग्राम स्वराज अभियान के तहत शनिवार को स्थानीय पंचायत भवन में आजीविका एवं कौशल विकास दिवस के अवसर पर जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उपायुक्त अशेाक शर्मा ने सामुहिक निवेश निधि के अन्र्तगत 138 समुहों को 50-50 हजार तथा 18 समुहों की महिलाओं को 10-10 हजार रुपए की राशि के चैक वितरित किए। इस मौके पर उपायुक्त अशोक शर्मा ने बैंक लोन के 40 गु्रपों को दो-दो लाख रुपए के चैक भी वितरित किए। इस अवसर पर उन्होंने कौशल पंजी केंद्र का रिबन काटकर उद्घाटन किया। इस केंद्र द्वारा लगभग 212 पंजीकरण किए। उन्होनें विभिन्न विभागों की लगाई गई स्टालों का अवलोकन भी किया।

        उपायुक्त अशोक शर्मा ने कहा कि राष्ट्रीय ग्रामीण आजिका मिशन का उद्देश्य जमीनी स्तर पर सशक्त एवं स्थायी संस्था बनाकर ग्रामीण परिवारों को लाभप्रद स्व-रोजगार एवं हुनरमंद-मजदुरी-रोजगार के अवसर प्राप्त करने में समर्थ बनाते हुए गरीबी को कम करना है। जिसके फलस्वरुप उनकी आजीविका और आमदनी में लगातार उल्लेखनिय बढौतरी हो सकें।
        उपायुक्त ने कहा कि प्रधानमंत्री के सर्वे के अनुसार हमारा जिला काफी पिछड़ा हुआ था। लेकिन जिला प्रशासन व आप लोगों के सहयोग से अब हमारा जिला तीसरे स्थान पर है। उन्होने कहा कि यह हमारे बडे सोभाग्य की बात है कि हम दुसरों ब्लॉको को गोद ले रहें है। जिसमें पलवल जिले के दो ब्लॉक होडल, हथीन को भी गोद लिया हुआ है। उन्होंने इस उपस्थित महिलाओं को शुभकामनांए दी, और कहा कि आप लोगों की इस मेहनत से जल्द ही हम और ब्लॉको को भी गोद लेगें। उन्होंने कहा कि जिले में पिछले चार महीनों में 20 कोशल विकास केंद्र खोले गए है। जिसमें संबंधित गांव की महिलाएं व लड़कियां बढ़-चढ़ प्रशिक्षण प्राप्त कर रही है। उन्होंने समूहों की महिलाओं से आह्वान किया कि वे अपने गांव में टीकाकरण व पोलिया में अपना पूर्ण योगदान दे। रुबेला, खसरा जैसी बिमारियों से निपटने के लिए गांव में टीकाकरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अभिावकों को बिना हिचक के दोनों बिमारियों से बचाव का टीका अपने बच्चों को लगवाने के लिए आगे आने चाहिए ताकि देश की भावी पीड़ी को सुरिक्षत और कुशाल जीवन प्रदान किया जा सकें।
    अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि यह कार्यक्रम आज राज्य स्तरीय पर पंचकुला में आयोजित किया जा रहा है जिसमें मुख्य अतिथि महामहीम राज्यपाल हरियाणा है, जिसमें मेवात जिले से 50 स्वयं सहायता समूह की महिलाएं राज्य स्तरीय प्रोग्राम पंचकुला में भाग लिया है। साथ ही बताया कि जिले के लगभग सभी ग्राम पंचायतों में स्वयं सहायता समूहों का गठन किया गया है उक्त समूहों के तहत गरीब परिवारों की महिलाएं बतौर सदस्या जुड़ी हुई हैं। उक्त समूहों के माध्यम से समूहों की सदस्याओं के सामाजिक एवं आर्थिक विकास के लिए विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण दिये जाते हैं।
    कार्यक्रम के दौरान एलडीएम ने सरकार द्वारा क्रियान्वित योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने सरकार द्वारा क्रियान्वित प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी।
        इस अवसर पर हरियाणा राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के जिला कार्यक्रम प्रबन्धक मौ. असरी कार्यक्रम में ने बताया कि विभिन्न स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी लगभग 500 महिलाओं ने भाग लिया। समारोह में स्वयं सहायता समहू से जुड़ी सक्रिय महिलाओं ने अपने सफलता के अनुभव भी महिलाओं के बीच सांझा किए। सैल्प हैल्प गु्रप से बारोटा गांव की सदस्य पुष्पा ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के बारे में प्रकाश डाला, क्लैस्टर महिला फैडरेशन की सचिव रेनू बाला गांगोली तथा कोषाध्यक्षक छपैड़ा कि पद्दमावती ने भी अपने अनुभव सांझा किए।
    इस मौके पर जिला बाल कल्याण अधिकारी विश्वास मलिक, जिला समाज कल्याण अधिकरी विरेन्द्र यादव, सहित अन्य अधिकारी व समूह की महिलाएं मौजूद रही।

CONTACT : AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY