आदि अम्बेडकर आंदोलन पूरे देश मे किया बड़े आंदोलन का आह्वान ।

0
380

TODAY EXPRESS NEWS : आदि अम्बेडकर आंदोलन अंतर्गत आदि धर्म समाज ने दिल्ली जंतर मंतर पर 24 फरवरी को बड़े आंदोलन का विभूल बजा दिया है । सीवर में लगातार वाल्मीकि सफाई कामगार समाज की बढ़ती हत्याओं को व वाल्मीकि समाज को जन संख्या के आधार पर अलग आरक्षण को लेकर देश  देश के वाल्मीकि समाज ने आसमानी क्रांति का आह्वान किया है आगामी 24 फरवरी को बड़े पैमाने पर दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन करने जा रहा है देश के अलग अलग प्रदेशो में उत्तर प्रदेश , मध्यप्रदेश , उत्तराखंड , पूर्वंचल , राजस्थान , वही आज जिला भरतपुर के काम , पहाड़ी , नगर , में वाल्मीकि समाज के आदि अम्बेडरक आंदोलन की  टीम धर्म गुरु दर्शन रत्न रावण जी के आह्वान पर हरियाणा फरीदाबाद से पहुँच कर जन सभा कर प्रदर्शन के प्रचार के लिए लोगो से सम्पर्क कर प्रदर्शन में पहुँचने का निवेदन किया है । वही हमारे पत्रकार से बातचीत में सौरव वाल्मीकन ने बताया कि  अलग आरक्षण की न होने की वजहाँ से कई प्रदेशों में  वाल्मीकि समाज के बच्चे को पढ़े लिखी होने के बाबजूद भी मजबूरन सीवर में सफाई के लिए उतरना पड़ता है और वो सीवर की गंदी जहरीली गैस का शिकार हो अपनी जान गवा देते है । औऱ न कोई सरकार व वो निजी ठेकेदार जिनके कहने पर वाल्मीकि समाज के हमारे युवा साथी सीवर में उतरते है। मरने के बाद कोई उनके परिवार की सुद्द नही लेता अगर कोई सैनिक देश की सीमा पर मरता है तो उसे शहीद का दर्जा दिया जाता है महर हमारे समाज का दुर्भाग्य शहीद का दर्जा तो दूर जब वो देश व समाज के बीच उस नरक की सफाई करते है तो लोग अपनी नाक दबा कर निकलते है लेकिन हमारा समाज उसी नरख में अपनी जीवन लीला समाप्त कर देता है । औऱ देश को स्वछ रखता है और बीमारियों से नागरिको को दूर रखने में अपनी प्रथम भूमिका निभाता है। लेकिन इनका स्वस्थ की कोई सरकार ध्यान नही देती इसी लिए वाल्मीकि समाज को अलग आरक्षण की जरूरत है। भरतपुर के वाल्मीकि समाज के लोगो ने भी इन मांगों का समर्थन किया और दिल्ली जंतर मंतर पर 24 फरवरी प्रदर्शन में पहुचने की  और सरकार से वाल्मीकि समाज को जनसँख्या के आधार पर अलग आरक्षण की मांग शांति से या फिर क्रांति से बहाल करने की  प्रतिज्ञा ली यहां जन सभा इस जनसभा में फरीदाबाद से सौरव वाल्मीकन , राजकुमार, विकाश , व कामा से अमन ,रोहित , मुकेश , सचिन पेंग्वाल , दलीप कुमार , महिष वाल्मीकि , सुनील ,पहाड़ी से विक्रम , रमेश , शोषण , गब्बर , सोनू , मुकेश , राजेश ,मनोज , जिले व वाल्मीकि समाज के सैकड़ों युवाओं ने इस जनसभा में हिस्सा लिया.

LEAVE A REPLY