कोहरे को देखते हुए सीएम मनोहरलाल खटटर ने बहुआयामी रणनीति अपनाने के दिए निर्देश

0
353

TODAY EXPRESS NEWS : चंडीगढ़- हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मौजूदा धुंध भरे मौसम की स्थिति के मद्देनजर राज्य में सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए बहुआयामी रणनीति अपनाने के निर्देश दिए है।

मुख्यमंत्री ने बहुमूल्य मानव जीवन को बचाने हेतु सड़क दुर्घटनाओं की संख्या को न्यूनतम करने के लिए पुलिस, परिवहन और लोक निर्माण विभाग सहित सभी संबंधित एजेंसियों को समन्वय के साथ इस दिशा में काम करने के लिए कहा है।

सर्दी के मौसम के दौरान घने कोहरे के कारण लौ विजिबिलिटी होने से सड़क दुर्घटना के मामलों में बढ़ोतरी देखी जाती है। इसे ध्यान में रखते हुए, हरियाणा पुलिस महानिदेशक (डीजीपी), श्री बी.एस. संधू ने सभी पुलिस आयुक्तों और ज़िला पुलिस अधीक्षकों को निर्देश जारी किए हैं कि वे आम जनता के हित में सुबह / शाम कोहरे के दौरान सुरक्षित सड़क यात्रा सुनिश्चित करें। उन्होंने लोगों से यह भी आग्रह किया कि वे अपनी और अन्य लोगों की सुरक्षा के लिए कोहरे के दौरान ऐसी कठिन परिस्थितियों में सावधानी से गाड़ी चलाएं।

निर्देशों में उचित दृश्यता की कमी जैसे प्रमुख मुद्दों के कारण होने वाली सड़क दुर्घटना को रोकने व इसके संभावित समाधानों को अपनाने की सलाह दी गई है। यह निर्देश दिया गया है कि क्रॉसिंग ब्लाइंड कर्व्स, ब्लैक स्पॉट्स और ट्रैफिक कंजेशन पॉइंट्स पर पर्याप्त ट्रैफिक ड्यूटी लगाकर ऐसे हादसों को रोकने के लिए सभी संभव निवारक उपाय किए जाएं। किसी भी वाहन को सड़कों पर खड़ा न होने दिया जाए।

वर्तमान धुंध के मौसम के दौरान चौबीस घंटे सड़क यातायात को सुचारू रूप से चलाने के लिए प्रत्येक जिले में डीएसपी / एसीपी के स्तर के एक अधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त करने के भी निर्देश दिये गए है। साथ ही, यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि राष्ट्रीय और राज्य राजमार्गों व अन्य सड़कों पर यात्रियों को दुर्घटनाओं, टूटे वाहनों, सड़क पर पार्किंग, गलत साइड ड्राइविंग के कारण यातायात जाम का सामना न करना पड़े। इसके अलावा, हाईवे पर अवरोधक लगाते समय, ट्रैफिक बैरिकेड्स का उपयोग फ्लैशिंग लाइटों के साथ किया जाना चाहिए।

पुलिस अधिकारियों को एनएचएआई, पीडब्ल्यूडी बीएंडआर, स्थानीय निकाय जैसे नागरिक कार्यालयों के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए भी कहा गया है ताकि सड़क पर किसी भी प्रकार के अवरोधक को दूर करने के साथ साथ टूटी हुई बैरिकेडिंग को मानक रोड साइड बैरियर और डायवर्जन विधियों से बदलना सुनिश्चित किया जा सके। सभी यात्रियों को अपने वाहनों पर रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप लगाने की सलाह देने के भी निर्देश दिए गए हैं। नशे में वाहन चलाने और ओवर स्पीडिंग करने वाले वाहनों की जाँच को और प्रभावी बनाने के लिए भी कहा गया है।

( टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ के लिए अजय वर्मा की रिपोर्ट )


CONTACT FOR NEWS : JOURNALIST AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY