छात्र हितो के लिए एनएसयूआई का अनिश्चितकालीन धरना रात को भी जारी रहा : कृष्ण अत्री

0
733

TODAY EXPRESS NEWS / फरीदाबाद । 6 अगस्त को छात्रहितों को ध्यान में रखते हुए एनएसयूआई फरीदाबाद ने हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री के नेतृत्व में अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। यह धरनाप्रतिदिन 24 घंटे यानी दिन रात चलेगा। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव ने कहा कि फरीदाबाद ही नही बल्कि पूरे हरियाणा में छात्र-छात्राएं दाखिले को लेकरलगातार शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन अभी तक खट्टर सरकार और यूनिवर्सिटी प्रशासन ने यूजी, पीजी कक्षाओ में 20 प्रतिशत सीट नही बढ़ाई है। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही हम पिछलेकाफी समय से रीजनल सेंटर एवं छात्र संघ चुनाव के लिए प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन वो मांग भी अभी तक पूरी नही हो पाई है। अत्री ने कहा कि यही कारण है कि अब छात्रों ने परेशान होकर एनएसयूआईके तत्वाधान में शांतिपूर्ण ढंग से धरना प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है । एनएसयूआई का अनिश्चितकालीन धरना रात को भी जारी रहा. अत्रि ने कहा ना हटेंगे और ना ही किसी से डरेंगे छात्रों का हक़ हर हाल में लेकर रहेंगे।  जब तक बीस प्रतिशत सीटे नहीं बढ़ाई जाएंगी और तमाम मांगे नहीं मानी जायेगी तब तक दिन रात धरना जारी रहेगा।

धरने की प्रमुख मांगे इस प्रकार है –

1) सभी सरकारी कॉलेजों में यूजी, पीजी कक्षाओ में 20 प्रतिशत सीट बढ़ाने के लिए ।

2) छात्रसंघ चुनाव बहाल तथा प्रत्यक्ष रूप से बहाल करने के लिए ।

3) फरीदाबाद में रीजनल सेंटर बनवाने के लिए ।

4) नेहरू कॉलेज की जर्जर पड़ी इमारत का निर्माण कराने के लिए ।

5) सभी सरकारी कॉलेजो में मूलभूत सुविधाएं एवं स्टाफ पूरा कराने के लिए ।

6) मैगपाई चौक पर छात्रों को रोड पार कराने के लिए फुटओवर ब्रिज का निर्माण जल्द कराने के लिए ।

वही जिला उपाध्यक्ष सुनील मिश्रा एवं छात्र नेता विक्रम यादव ने संयुक्त रूप से कहा कि हम पिछले काफी समय से छात्रों को लेकर कुछ मांगे सरकार के समक्ष रख रहे हैं, जगह जगह सरकार के नुमाइंदोंको ज्ञापन भी सौंपा है लेकिन खट्टर सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है। उन्होंने कहा कि हमारी कुछ मांगे तो ऐसी हैं जोकि खट्टर सरकार ने स्वयं छात्रों से अपने चुनावी घोषणा पत्र में वायदे किए थेलेकिन उन्हें पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कि समय रहते अगर सरकार ने हमारी मांगे नही मानी तो यह धरना अनिश्चतकालीन चलता रहेगा और हम भूख हड़ताल करने से भी पीछे नही हटेंगे।

LEAVE A REPLY