नगर निगम द्वारा संग्रह शिविर में 773519 लाख रूपये की सम्पत्ति कर की राशि वसूली की गई।

0
214

TODAY EXPRESS NEWS : फरीदाबाद नगर निगम के आयुक्त मोहम्मद शाइन के निर्देश पर सेक्टर-21 सी के सामुदायिक भवन में साप्ताहिक अवकाश वाले दिन नगर निगम द्वारा आयोजित किये गये कर संग्रह शिविर में 773519 लाख रूपये की सम्पत्ति कर की राशि वसूली की गई। नगर निगम एनआईटी जोन द्वितीय की भूमि एवं अनुमति अधिकारी सुमन मल्होत्रा के नेतृत्व में लगाए गए इस कैम्प में सोसायटी के प्रधान व अन्य नागरिकों का योगदान भी सराहनीय रहा। निगम की टीम में श्रीमती सुमन मल्होत्रा के अलावा संजीव, ,अजयबीर सिंह, राजवीर, कुलदीप, वीरेन्द्र, टेकचंद व परविन्द्र, इशा, करन आदि भी शामिल थे।

निग्मायुक्त शाईन ने कहा है कि निगम अपने बकाया करों की वसूली के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगा और आने वाले कुछ महीनों में एक रिकार्ड करों की वसूली सुनिश्चित की जायेगी। उन्होंने कहा कि न केवल बकाया करों की वसूली के लिए इसी प्रकार के कैम्प निगम के तीनों जोनों में लगाए जायेंगे बल्कि बड़े-बड़े डिफाल्टर्स की संपत्तियों को सील करने के साथ-साथ कुर्क करने की कार्यवाही भी अमल में लाई जाएगी।

क्षेत्रीय एवं कर अधिकारी ने बताया कि सेक्टर-21 सी में कई सोसायटियों/अपार्टमेंट तथा बीएसनएनएल दूर संचार निगम, भारत पेट्रोलियम, स्टील अथोरिटी ने अभी तक अपना संपत्ति कर जमा नहीं करवाया है और इन अपार्टमैन्टों/सोसायटी पर निगम का संपत्ति कर बहुत ज्यादा बकाया है। यहां के निवासियों की सुविधा हेतु आरडब्ल्यूएस वैलफेयर सेक्टर-21 सी के प्रधान के सहयोग आज रविवार को संपत्ति कर कैम्प का आयोजन किया गया जिससे यहां रह रहे संबंधित नागरिकों ने कैम्प के माध्यम से अपने करों का भुगतान करवाया।

सुमन मल्होत्रा ने बताया कि निग्मायुक्त मोहम्मद शाइन के निर्देशानुसार बकाया सम्पति कर की वसूली और अवैध पानी व सीवर के कनैक्शनों को वैध करने के लिए निगम के सभी जोनों में जनहित में साप्ताहिक अवकाश के दिनों शनिवार-रविवार को निरन्तर कैम्प आयोजित किए जा रहे है जिसके परिणामस्वरूप करदाता अपना बकाया कर इनैैैै कैम्पों में जमा कराने के लिए आगे आ रहे है।

( टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ के लिए अजय वर्मा की रिपोर्ट )


CONTACT FOR NEWS : JOURNALIST AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY