हरियाणा इंस्टिट्यूट ऑफ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन व जिला प्रशासन फरीदाबाद के तत्वाधान में आपदा प्रबंधन पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

0
272

TODAY EXPRESS NEWS ( REPORT BY AJAY VERMA )  फरीदाबाद 10 नवंबर हरियाणा इंस्टिट्यूट ऑफ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन व जिला प्रशासन फरीदाबाद के तत्वाधान में लघु सचिवालय के कमरा नंबर 106 में आपदा प्रबंधन पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया । जिस का विधिवत उद्घाटन उपायुक्त श्री अतुल द्विवेदी ने बतौर मुख्य अतिथि किया जिसमें प्रताप सिंह एस डी एम फरीदाबाद , अमरदीप जैन एस डी एम बल्लभगढ़ , प्रभु दयाल शर्मा जिला राजस्व अधिकारी, डॉक्टर एम पी सिंह विषय विशेषज्ञ ,जिला आपदा प्रबंधन व वार्डन सिविल डिफेंस, बी बी कथूरिया रैड क्रॉस सचिव, मुख्य रूप से उपस्थित थे। कार्यक्रम में हि्प्पा से आई डॉ अंशु तिवारी ने अपने उद्बोधन में कहा के फरीदबाद सेंसिटिव जोन 4 में आता है जिसकी वजह से कभी भी यहां पर डिजास्टर हो सकता है । इसलिए हम सभी विभागों को पहले से ही अपनी जिम्मेवारी निर्धारित कर जिला आपदा प्रबंधन योजना बनाकर सुरक्षा के उपाय मजबूत कर लेने चाहिय । बैठक में प्रकृति आपदा से पहले आपदा के दौरान आपदा के बाद के सभी विषयो पर गंभीरता से चर्चा की गई । उक्त कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए उपायुक्त अतुल द्विवेदी ने कहा की आपदा के प्रति जागरूकता से ही आपदा से होने वाले नुकसानों से बचा जा सकता है। जिला राजस्व अधिकारी शर्मा ने पुराणों में ग्रंथों में लिखने संस्कृत के श्लोक की व्याख्या करते हुए आपदा के बारे में जानकारी दी। डॉ एम पी सिंह ने मंच का संचालन करते हुए अतिथियों का स्वागत किया और सभी विभागों से आए अतिथियों का धन्यवाद  किया कि सभी विभाग अपने अपने स्तर पर इस बारे योजना  बनाकर जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण को अति शीघ्र भेजें, ताकि 2018 तक का आपदा प्रबंधन प्लान नए तरीके से तैयार किया जा सके । इस सेमिनार में बिजली, नगर निगम ,सिंचाई, जिला उद्योग ,होमगार्ड, सिविल डिफेंस, फायर विभाग ,शिक्षा, जिला पंचायत ,सेंट जॉन एंबुलेंस एसोसिएशन ,फूड एंड सप्लाई, सिविल अस्पताल ,हेल्थ सेफ्टी से जुड़े प्रतिनिधि विशेष तौर पर उपस्थित थे । इस कार्यक्रम में अंकिता प्रसून  रिसर्च ऑफिसर व गजराज आपदा सहायक ने भी सेमिनार को सफल बनाने मे  विशेष योगदान दिया।

CONTACT : AJAY VERMA 9953753769 , 9716316892

EMAIL : faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY