FARIDABAD : ट्रैन हत्याकांड जुनैद मामले में पीड़ित परिजनों से मिलने पहुंचे भारत के चीफ इमाम डाक्टर इमाम उमेर इल्यासी – पीड़ित परिजनों को एक करोड़ मुआवजा दिए जाने की – कि मांग।

0
492

TODAY EXPRESS NEWS FARIDABAD ( रिपोर्ट अजय वर्मा ) ट्रैन में जुनैद मर्डर मामले में परिजनों के साथ दुःख बांटने के लिए जहाँ राजनीति से जुडी हस्तियां रोजाना बल्लभगढ़ के खंदावली गांव पहुंच रही है वहीँ इस मामले में अभी तक आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही ना होता देख. जुनैद के परिवार से मिलने पहुंचे सिख समुदाय से  ” साईं मिया मीर इंटरनेशनल फाउंडेशन ” के चेयरमैन कुलदीप सिंह भोगल और मुस्लिम समुदाय के भारत के चीफ इमाम  डाक्टर इमाम उमेर इल्यासी। इस मौके पर उन्होंने पीड़ित परिजनों को संतावना दी।  इस अवसर पर भारत के  चीफ इमाम ने मृतक जुनैद की आत्मा की शान्ति और देशभर में भारत देश की छवि को सुधारने के लिए अल्लाह से दुआ की. सभी ने उनके साथ दुआ पढ़ी. वहीँ सिख समुदाय से आये कुलदीप सिंह भोगल ने सरकार से पीड़ित परिवार को एक करोड़ रूपये मुआवजा राशि देने की मांग की और दोषी आरोपियों की गिरफ़्तारो कर मामले को फास्ट ट्रैक मुक़दमे के तौर पर सुनवाई करने की मांग की.

 

ट्रैन में जुनैद मर्डर मामले को लेकर ” साईं मिया मीर इंटरनेशनल फाउंडेशन ” के चेयरमैन कुलदीप सिंह भोगल और मुस्लिम समुदाय के भारत के चीफ इमाम  डाक्टर इमाम उमेर इल्यासी पीड़ित के घर पहुंचे और अपनी संवेदनाये व्यक्त की. इस मौके पर  डाक्टर इमाम उमेर इल्यासी ने मृतक की आत्मा की शांति और देश में आपसी भाई चारा बने रहने की दुआ की. उनके साथ चेयरमैन कुलदीप सिंह भोगल और बँगला साहिब गुरुद्वारे के चेयरमैन ने भी उनके साथ दुआ की.

 

डाक्टर इमाम उमेर इल्यासी – चीफ इमाम आफ इंडिया

वहीँ भारत के चीफ इमाम डाक्टर इमाम उमेर इल्यासी ने कहा की आज इस दुःख की घडी में सिख समुदाय की ओर से कुलदीप सिंह भोगल ख़ास तौर पर इसलिए आये है की जुनैद मामले को लेकर आज जो भारत की छवि पूरे विश्व में धूमिल हो गयी है उससे देश की छवि को भारी नुक्सान पहुचा है. उन्होंने बताया की इस मामले को लेकर अमरीका की कल के वाशिंग्टन पोस्ट न्यूज़ की पहली जो खबर बनी है जिसमे इस मामले को लेकर भारत की जो तस्वीर पेश की गयी है वह बेहद शर्मनाक है. उन्होंने कहा की मरने वाला बच्चा सिर्फ मुस्लिम नहीं बल्कि भारत का बच्चा था. उन्होंने कहा की इस मामले में उन्होंने सरकार से मांग की है की सरकार द्वारा जो मुआवजा राशि दस लाख रूपये घोषित की गयी है उसको बढ़ाकर एक करोड़ रूपये किया जाए. जिसके लिए वह 1 जुलाई को प्रधानमन्त्री मोदी से मिलेंगे। साथ ही साथ उन्होंने कहा की जो घायल बच्चे अब भी हस्पताल में इलाज करवा रहे है उन्हें भी 20 – 20 लाख रूपये मुआवजा दिया जाए.   चीफ इमाम ने कहा की पीड़ित परिजन में से एक को सरकारी नौकरी भी दी जाए. चूँकि यह हादसा रेलवे में घटित हुआ है तो रेल मंत्री सुरेश प्रभु को भी पीड़ित परिजनों से मिलने के लिए यहाँ पहुचना चाहिए और पीड़ित परिजनों को रेलवे में ही सरकारी नौकरी दी जाए. इस मामले में फरार आरोपियो की भी उन्होंने जल्द गिरफ्तारी की मांग की और कहा की इस मामले की सुनवाई  फास्ट ट्रैक कोर्ट में होनी चाहिए।

 

कुलदीप सिंह भोगल – चेयरमैन – साईं मिया मीर इंटरनेशनल फाउंडेशन

वहीँ इस मौके पर  ” साईं मिया मीर इंटरनेशनल फाउंडेशन ” के चेयरमैन कुलदीप सिंह भोगल ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा की हरियाणा में एक बच्चा जो ईद वाले दिन दिल्ली से अपने परिवार के लिए खरीददारी करके अपने घर की और लौट रहा था तब उसको कुछ शरारती तत्वो ने शहीद कर दिया था उन्होंने बताया की वह शहीद शब्द का इसलिए इस्तेमाल कर यह है क्योंकि शहीद शब्द में ईद जैसा पवित्र शब्द छुपा हुआ है इसलिए वह जुनैद को शहीद ही मानते है. उन्होंने कहा की जिस तरह से जुनैद और उसके साथियो को निहत्थे होते हुए पांच लोगो द्वारा मारा गया वह बेहद निंदनीय है. उन्होंने देश के प्रधानमंत्री और प्रदेश के मुख्यमंत्री से मांग की है की पांचो आरोपियों को जल्दी से जल्दी गिरफ्तार किया जाए और परिजनों में से एक को सरकारी नौकरी दी जाए. मुआवजा राशि की बात करते हुए उन्होंने कहा की हरियाणा सरकार ने पीड़ित परिवार के लिए दस लाख घोषित किया है इसलिए उसको बढ़ाकर एक करोड़ मुआवजा देना चाहिए. उन्होंने कहा की जो बेटा हरियाणा का मारा गया है इसमें सभी धर्म के लोग पीड़ित परिवार जे साथ कंधे से कंधा मिला साथ खड़े है चाहे वह हिन्दू , मुस्लिम , सिख और ईसाई हो सब पीड़ित के परिवार के दुःख में शामिल है. वहीँ उन्होंने इस हादसे की घोर निंदा की और कातिलों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की मांग की .

FILE PHOTO JUNAID 

 

खबरे शेयर करने के लिए संपर्क : 9716316892 , 9953753769

ईमेल : faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY