FARIDABAD : मानव रचना ने चौथे फाउंडर डे पर स्वप्नदर्शी फाउंडर को दी श्रृद्धांजलि – फाउंडर चेयरमैन की सोच के साथ टैक्नोप्लैनेट लैब प्राइवेट लिमिटेड की रिचर्स एंड डिवेलपमेंट सेंटर का एमएसडीसी के सीईओ व एडी ने किया उद्घाटन – 2 दिवसीय टैक फेस्ट इनोस्किल 2017 का हुआ समापन !

0
490

TODAY EXPRESS NEWS FARIDABAD : पूरे मानव रचना परिवार ने मंगलवार को स्वप्नदर्शी फाउंडर डॊ. ओपी भल्ला को उनकी वर्षगांठ पर श्रद्धाजलि अर्पित की। चौथे फाउंडर डे की शुरुआत प्रेरणा स्थल पर पूरे मानव रचना संस्थान के सदस्यों ने डॊ. ओपी भल्ला जी को फूल अर्पित करके की। इस मौके पर भजंनों की श्रंखला ने वातावरण को भग्तिमय कर दिया। इसके बाद हवन का आयोजन किया गया।

हमेशा से स्टूडेंट्स में कुछ अलग व नया करने की सोच को बढ़ावा देने वाले डॊ. ओपी भल्ला को उनकी वर्षगांठ पर रिसर्च एंड डिवेलपमेंट सेंटर के रूप में श्रृद्धांजलि अर्पित की गई। इस दिन टेक्नोप्लैनेट लैब प्राइवेट लिमिटिड की रिसर्च एंड डिवेलपमेंट सेंटर की उद्घाटन एनएसडीसी के एमडी व सीईओ श्री मनीष कुमार ने किया। इस मौके पर 2 दिवसीय टैक्नीकल फैस्ट का समापन किया गया और विजयी स्टूडेंट्स को सम्मानित किया गया।

टैक्नोप्लैनेट की शुरुआत नई खोज के प्रति उत्साहित स्टूडेंट्स के द्वारा की गई थी। इस टैक्नीकल क्लब ने माइक्रोसोफ्ट, एसैंचर, इंफोसिस जैसे बड़ी बड़ी कंपनियों से सराहना प्राप्त करने के बाद मानव रचना इनोवेशन एंड इंक्यूबेशन सेंटर से निकले टैक्नोप्लैनेट स्टार्टअप की शुरुआत की। यह शुरुआत मानव रचना के पूर्व स्टूडेंट मनस्वी सिहाग व मोहित बह्ल ने की। आज टैक्नोप्लैनेट स्टूडेंट्स को प्रोजेक्टों की मदद से पढ़ाने के लिए काम कर रहा है। यह स्टूडेंट्स में 21वीं सैंचुरी की स्किल व लर्निंग बढ़ाने में लगे हुए हैं। स्कूलों में स्टीम (साइंस, टैक्नोलॊजी, इंजीनियरिंग, आर्ट्स एंड मैथमैटिक्स) स्टूडेंट्स को प्रोजेक्ट बेस्ट प्रोजेक्ट तैयार करने में मदद कर रहा है।

अब तक मानव रचना के स्टूडेंट्स के द्वारा 70 से अधिक स्टार्टअप शुरू किए हैं, जिसको मानव रचना शैक्षणिक संस्थान ने फंड भी किया है। यहीं स्टूडेंट्स की अलग व नई सोच का परिचय देता है।

इनोस्किल 2017 में पहुंचे एनएसडीसी के एमडी व सीईओ श्री मनीष कुमार ने रिसर्च एंड डिवेलपमेंट लैब का उद्घाटन करते हुए कहा कि मानव रचना का इंफ्रास्ट्रक्चर और स्किल डिवेलपमेंट के लिए दी जा रही सुविधाएं सराहनीय है। जिस तरह से स्टूडेंट्स को आने वाले समय के लिए कुशलता के साथ तैयार किया जा रहा है वह काबिले तारीफ है।

इस मौके पर मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के प्रेसिडेंट डॊ. प्रशांत भल्ला ने कहा कि आज अपने स्वप्नदर्शी फाउंडर की 70वीं वर्षगांठ पर श्रद्धांजलि देते हुए रिसर्च एंड डिवेलपमेंट लैब का उद्घाटन किया गया है। स्टूडेंट्स को रिसर्च व नई खोजों के लिए तैयार करने की सोच फाउंडर चेयरमैन की थी और उन्ही की दिखाई राह में हम सभी बढ़ रहे हैं। उन्हीं की सोच के साथ हम राष्ट्रीय निर्माण के लिए भारत सरकार के स्किल इडिया पहल में अपनी भूमिका निबा रहे हैं।

इनोस्किल के समापन समारोह के मौके पर एनएसडीसी के क्वालिटी एश्योरेंस के हैड श्री राजीव माथुर, एमआरईआई के वाइस प्रेसिडेंट डॊ. अमित भल्ला, एमारईआई के एमडी डॊ. संजय श्रीवास्तव, एमआरआईयू के वाइस चांसलर डॊ. एनसी वाधवा, एमआरईआई के सहायक प्रोफेसर डॊ. आरके मल्होत्रा, मानव रचना यूनिवर्सिटी के प्रो वीसी डॊ. वीके महना व अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

( REPORT BY AJAY VERMA & RAJA PATEL – 971 631 6892 )

EMAIL : faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY