द डर्टी पिक्चर के 12 साल: निर्देशक मिलन लुथरिया ने कहा “द डर्टी पिक्चर चुनौतियों से भरी यात्रा थी!

0
138

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़। रिपोर्ट मोक्ष वर्मा। फ़िल्म “द डर्टी पिक्चर” को आज 12 साल पूरे हो चुके हैं। इस अवसर पर मिलन लुथरिया ने हमें अपने सामने आने वाली बाधाओं के बारे में बताया और उन क्षणों के बारे में भी बताया जब उन्हें लगा कि फिल्म शायद ही बन पाएगी।

द डर्टी पिक्चर—दिवंगत अभिनेत्री और डांसर सिल्क स्मिता के जीवन से प्रेरित एक बायोग्राफिकल म्यूजिकल ड्रामा आज अपनी 12वीं सालगिरह मना रही है। मिलन लुथरिया द्वारा निर्देशित और विद्या बालन, इमरान हाशमी, नसीरुद्दीन शाह और तुषार कपूर द्वारा महत्वपूर्ण भूमिकाओं में अभिनीत, यह 2 दिसंबर 2011 को दुनियाभर में हिंदी, तेलुगु और तमिल भाषाओं में रिलीज़ हुई थी। बालाजी मोशन पिक्चर्स द्वारा निर्मित, यह फिल्म एक मेगा हिट बन गई और देखते ही देखते बॉक्स-ऑफिस पर 100 करोड़ से अधिक की कमाई कर गई।

मिलन ने अपना अनुभव साझा करते हुए कहा, “द डर्टी पिक्चर’ बनाना चुनौतियों से भरी एक यात्रा थी, जिसने परियोजना के प्रति हमारे प्रतिबद्धता का परीक्षा थी। तीन महत्वपूर्ण क्षण थे, जब ऐसा लगा कि फिल्म शायद ही बन पाएगी। सबसे पहले हमारे पास कास्टिंग में बाधाएं थीं लेकिन विद्या बालन की मेरी पसंद सफल रही। फिल्मिंग ने एक और चुनौती पेश की क्योंकि विद्या की छवि उनके किरदार के साथ विरोधाभासी थी, फिर भी विक्रम गायकवाड़ द्वारा एक परिवर्तन ने रेशमा को प्रस्तुत किया। हमारी आखिरी चुनौती तब थी जब डिस्ट्रीब्यूटर्स ने फ़िल्म के टाइटल को लेकर अपनी चिंता जाहिर की। लेकिन एकता कपूर ने अपना पैसा लगाकर दृढ़ निश्चय के साथ फिल्म की रिलीज सुनिश्चित की। इसके साथ ही फ़िल्म की रिलीज के बाद सोमवार को, भारत में केवल महिलाओं के लिए स्पेशल शोज आयोजित किये गए।”

एक सफल फिल्म निर्माता अब्राहम की भूमिका निभाने वाले अभिनेता इमरान हाशमी कहते हैं, “द डर्टी पिक्चर मेरे दिल में एक विशेष स्थान रखती है क्योंकि आज इसके 12 साल पूरे हो गए हैं। फिल्म की बोल्ड, अपने समय से आगे की कहानी के साथ-साथ टीम का रीयलिस्टिक विजन, दर्शकों को पसंद आया। गहरे और भिन्न मानवीय अनुभवों के साथ एक जटिल किरदार निभाना हमेशा खुशी की बात रही है, जो फिल्म के नायक से प्यार करता है। मुझे उस टीम का हिस्सा होने पर गर्व है, जिसने करीब से दर्शकों के साथ जुड़ने का साहस किया।”

द डर्टी पिक्चर ने फिल्म इंडस्ट्री में सीमाओं को तोड़ते हुए एक पूरी तरह से नया आयाम स्थापित किया। इसके अभूतपूर्व दृष्टिकोण ने न केवल दर्शकों को एंटरटेन किया बल्कि इसे तीन राष्ट्रीय पुरस्कार जीतने का प्रतिष्ठित सम्मान भी दिलाया।

LEAVE A REPLY