52% निवेशकों की नज़र संभावनाशील फिनटेक स्टार्टअप्स पर है

0
333

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ । अजय वर्मा । 23 फरवरी, 2022 : औपचारिक आरम्भ के लगभग चार महीनों के बाद, उद्यमियों, बड़े निवेशकों, और उद्योग विशेषज्ञों के बीच दूरी कम करने वाला आधुनिक बुटीक प्लैटफॉर्म स्कोप ने एक आतंरिक सर्वेक्षण संचालित किया है। यह सर्वेक्षण भरोसेमंद सेक्टर-आधारित निवेश डेटा प्राप्त करने के लिए स्कोप एप्लीकेशन से संकलित सूचना पर आधारित था। यह प्रगतिशील रूप से बढ़ते स्टार्टअप परितंत्र का जानकारी से पूर्ण दृष्टिकोण प्रदान करता है और हितधारकों को बेहद रुचिकर सेक्टर्स की आर्थिक एवं वित्तीय संभावनाओं का आंकलन करने में सक्षम बनाता है। स्कोप का आतंरिक सर्वेक्षण निवेशकों, उद्यमियों और उद्योग विशेषज्ञों के बीच सम्बन्ध बढ़ाने में मदद के लिए उद्यमिता परितंत्र की सबसे चर्चित प्रवृत्तियों का विश्लेषण करने के लिए किया गया था।

बेहद गहन विश्लेषण के बाद, यह पाया गया कि सबसे बड़े हिस्से पर फिनटेक सेक्टर का अधिकार है। सर्वेक्षण के अनुसार, स्कोप पर 52% निवेशक भविष्यवादी सोच वाले फिनटेक स्टार्टअप में निवेश करना चाहते हैं। इसके विपरीत, केवल 12% निवेशकों की दिलचस्पी ई-कॉमर्स सेगमेंट में है। इसके अलावा, स्वदेशी उत्पाद-आधारित आधुनिक उपभोक्ताओं की ज़रूरतें पूरी करने के लिए नवाचारी और बेमिसाल विचारों का लाभ उठाने वाले स्टार्टअप्‍स को 17.6% निवेशकों का समर्थन हासिल है। बाकी 18.4% निवेशक बिजनेस-टू-बिजनेस (बी2बी) स्टार्टअप्स के पक्ष में हैं।

स्कोप के फाउंडर और सीईओ, अप्पला साईंकिरण ने कहा कि, “सर्वेक्षण उद्योग की नवीनतम प्रवृत्तियों को समझने के लिए एक महत्वपूर्ण दृष्टिकोण होते हैं। इस सन्दर्भ में हमने सेक्टर-आधारित निवेश परिदृश्य के व्यावसायिक सूझ-बूझ प्राप्त करने के एक आंतरिक सर्वेक्षण किया। स्कोप का आतंरिक सर्वेक्षण बताता है कि फिनटेक स्टार्टअप परितंत्र में सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला उद्योग है, जबकि ई-कॉमर्स सबसे कम पसंद किया जाने वाला उद्योग है। इस विश्लेषण से उद्यमिता परितंत्र के अनेक हिस्सेदारों को इस बारे में अर्थपूर्ण जानकारी मिलती है कि किसी विशेष उद्योग में कंपनियों के किस प्रकार प्रदर्शन करने की सबसे ज्यादा संभावना है।”

यह ध्यान देना जरूरी है कि स्कोप 21वीं शताब्दी के एप्लीकेशन का प्रतीक है जो उद्यमियों को उनकी पृष्ठभूमि, आयु, जेंडर, या योग्यता का विचार किये बगैर साइन-इन करने और स्‍टार्ट-अप परितंत्र के भीतर अनुकूल लोग पाने में मदद करता है। यह प्लैटफॉर्म मुख्यतः तीन सी : संपर्क, सहयोग और सृजन (कॉन्‍टैक्‍ट, कोलैबोरेट एवं क्रिएशन) पर काम करता है। अपनी शुरुआत से स्कोप ने अनेक दमदार निवेशकों और उद्योग विशेषज्ञों को अपने साथ जोड़ा है।

स्कोप के विषय में
स्कोप का मुख्यालय हैदराबाद में है और इसकी स्थापना युवा उद्यमी अप्पला साईंकिरण ने की है। यह स्टार्ट-अप परितंत्र में बदलाव लाने वालों को तीन सी – संपर्क, सहयोग, और सृजन – के माध्यम से अधिकारसंपन्न करता है, जिसका उद्देश्य आकांक्षी उद्यमियों को अपने सपनों को साकार करने के प्रयास में प्रोत्साहन, प्रेरणा और मार्गदर्शन प्रदान करना है। स्कोप अपने ग्राहक-केन्द्रीयता में अद्वितीय है और अपने संरक्षकों को मूल्य प्रदान करने पर फोकस करता है। इसने अपनी सफलता को अपने ग्राहकों के साथ संरेखित किया है, जो केवल अपने चयनित सेवाओं में परफॉरमेंस के लिए और परिमाण प्राप्त होने के बाद भुगतान करते हैं। यह ब्रांड यूजर के पैसों का पूरा मूल्य सुनिश्चित करता है।

LEAVE A REPLY