कोलकाता पुलिस की इंफोर्समेंट ब्रांच ने केंट के नकली स्पेयर पार्ट्स के निर्माण और बिक्री के लिए हिंदुस्तान इंजीनियर्स के को-फाउंडर को गिरफ्तार किया

0
1209
Enforcement Branch of Kolkata Police arrests co-founder of Hindustan Engineers for manufacturing and selling counterfeit spare parts of Kent

Today Express News | Ajay verma |नई दिल्ली: कोलकाता पुलिस की इंफोर्समेंट ब्रांच (प्रवर्तन शाखाने बुधवार को नई दिल्ली में हिंदुस्तान इंजीनियर्स के सहमालिक विनय श्रीवास्तव को गिरफ्तार किया है। इस यूनिट का स्वामित्व तीन भाइयों विजय श्रीवास्तवअजय श्रीवास्तव और विनय श्रीवास्तव के पास है। इस यूनिट और उसके मालिक नई दिल्ली में वाटर प्यूरीफिकेशन इंडस्ट्री की प्रतिष्ठित मैन्युफैक्चरिंग एसोसिएशन वापटेमा (वाटर प्यूरीफिकेशन एंड ट्रीटमेंट इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरर एसोसिएशनके संस्थापक सदस्य हैं। श्री विजय श्रीवास्तव वापटेमा के अध्यक्ष भी हैं।

कोलकाता पुलिस की प्रवर्तन शाखा ने 28 जुलाई 2021 को कोलकाता में तीन अलगअलग स्थानों परजिनमें जे.एलनेहरू रोड पर ग्लोमेक्स इंडिया के परिसर मेंन्यू रोड प्रेस क्लब में गैलेक्सी एंटरप्राइज और राधाबाजार स्ट्रीट में जेजे एसोसिएट के परिसर में लगातार छापेमारी की और भारी मात्रा में केंट ब्रांड के नकली स्पेयर पार्ट्स को जब्त किया। मौके पर पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ में आपूर्तिकर्ता का नाम सामने आया।

इंफोर्समेंट ब्रांच कथित आरोपियों से पूछताछ से प्राप्त सुरागों पर काम कर रही थी। इसके बाद पुलिस ने मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेटकोलकाता से तलाशी वारंट प्राप्त किया और कोलकाता पुलिस की इंफोर्समेंट ब्रांच ने नई दिल्ली में स्थित 151, वर्धमान कॉरपोरेट प्लाजाएच-9, नेताजी सुभाष प्लेसदिल्ली -110034 में हिंदुस्तान इंजीनियर्स के परिसरों में छापेमारी की।

टीम का नेतृत्व श्री सुवरो मित्रा (एसआईऔर उनकी टीम के सदस्यों ने किया। टीम ने हिन्दुस्तान इंजीनियर्स के सहमालिक और वापपटेमा के संस्थापक सदस्य श्री विनय श्रीवास्तव को गिरफ्तार किया है।

उक्त कंपनी नकली केंट आरओ मेम्ब्रेन और इनलाइन सेडिमेंट फिल्टर के साथसाथ अन्य सहायक पार्ट्स एसेसरीज को बना और बेच रही थी। ये सभी पार्ट्स अवैध रूप से समान ब्रांड नाम केंट‘ के तहत निर्मित और बेचे जा रहे थे। निर्माता काफी समय से केंट ब्रांड के लोगो के साथ अवैध रूप से स्पेयर पार्ट्स बेच रहे हैं।

कोलकाता पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली के छापे में नकली केंट ब्रांडेड 750 इनलाइन सेडिमेंट फिल्टर, 750 पीसी केंट इनलाइन कार्बन फिल्टर, 250 पीसी केंट आरओ मेम्ब्रेन, 189 डायाफ्राम पंप और 25 पीसी आउटर बॉक्स जब्त किए गए।

इस मामले की जानकारी प्रदान करते हुए केंट आरओ की ब्रांड कस्टोडियन एजेंसी ने कहा कि “जांच के दौरान यह देखा गया कि ये एक बड़ा रैकेट है जो नकली स्पेयर पार्ट्स का निर्माण और विभिन्न शहरों में सप्लाई कर रहा था। वापटेमा के संस्थापक सदस्य संस्था की आड़ में ये कंपनी नकली उत्पादों को बड़ी मात्रा में बाजार में भेज रही है और बेकसूर उपभोक्ताओं के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। केंट आक्रामक रूप से पूरे भारत के सभी हिस्सों में जांच एजेंसियों को नियुक्त करके डुप्लिकेट पार्ट्स को जब्त करने का प्रयास कर रहा है। नकली आरओ उत्पादों और वाटर प्यूरीफायर के नकली स्पेयर पार्ट्स की बाजार में आपूर्ति में शामिल इस पूरे रैकेट का पता लगाने के लिए जल्द ही अभियान चलाया जाएगा और नकली सामान को जब्त करने के लिए छापे भी मारे जाएंगे।

LEAVE A REPLY