एफएडीए डीलर सैटिस्‍फेक्‍शन स्‍टडी 2022: एमजी मोटर इंडिया टॉप 3 ऑटोमोटिव ब्राण्‍ड्स में से एक

0
282

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ । रिपोर्ट अजय वर्मा । गुरूग्राम, 15 सितंबर, 2022: फेडरेशन ऑफ ऑटोमोटिव डीलर्स एसोसिएशंस (एफएडीए) द्वारा हाल ही में किये गये एक अध्‍ययन के अनुसार, एमजी मोटर इंडिया ने भारत में डीलर की संतुष्टि के मामले में टॉप 3 ब्राण्‍ड्स के बीच अपनी स्थिति को बरकरार रखा है।

अध्‍ययन के हाल के संस्‍करण के अनुसार, एमजी ने 792 पॉइंट्स हासिल किये, जो पिछले साल के स्‍कोर से 14 पॉइंट्स ज्‍यादा थे। इस कारमेकर ने इस साल के डीलर संतुष्टि के 719 पॉइंट्स के औसत स्‍कोर से 73 पॉइंट्स की बढ़त दिखाई।
एमजी मोटर लगातार डीलर को सर्वोत्‍तम संतुष्टि देने वाले टॉप ब्राण्‍ड्स में से एक बनी हुई है। एफएडीए के अध्‍ययन ने इस कारमेकर को पिछले साल भी टॉप 3 ऑटो कंपनियों में शामिल किया था और उस समय इसका स्‍कोर 778 था।

एफएडीए डीलर सैटिस्‍फेक्‍शन स्‍टडी का संचालन फेडरेशन द्वारा हर साल किया जाता है और भारत में ऑटोमोटिव कंपनियों के डीलर पार्टनर्स के अपने-अपने ओरिजिनल इक्विपमेंट निर्माताओं को लेकर उनकी संतुष्टि के स्‍तर का मूल्‍यांकन किया जाता है। अंक महत्‍वपूर्ण कारकों को ध्‍यान में रखकर दिये जाते हैं, जैसे मॉडल्‍स की रेंज, उत्‍पाद की विश्‍वसनीयता, वाहन की आपूर्ति का समय और पार्ट्स के लिये टर्नअराउंड टाइम, आदि। इस अध्‍ययन के परिणामों से एमजी की टीम काफी संतुष्‍ट है और अपने ग्राहकों को ऑटो के सबसे उन्‍नत और सुरक्षित अनुभव देने के लिये अपनी प्रतिबद्धता को मजबूती देना जारी रखेगी।

एमजी मोटर इंडिया के विषय में
साल 1924 में यूके में संस्‍थापित मोरिस गैराजेस के वाहन स्‍पोर्ट्स कार्स, रोडस्‍टर्स और कैब्रियोलेट सीरीज के लिये विश्‍व-प्रसिद्ध थे। अपनी स्‍टाइलिंग, सुंदरता और उत्‍साही प्रदर्शन के कारण एमजी के वाहन कई सेलीब्रिटीज की पसंद थे, इसमें ब्रिटिश प्रधानमंत्री और ब्रिटिश राज परिवार भी शामिल हैं। यूके के एबिंगडन में साल 1930 में स्‍थापित एमजी कार क्‍लब के हजारों वफादार प्रशंसक हैं, जो इसे कार के एक ब्राण्‍ड के लिये विश्‍व के सबसे बड़े क्‍लबों में से एक बनाते हैं। विगत 98 वर्षों में एमजी एक आधुनिक, भविष्‍यगामी और अभिनव ब्राण्‍ड के तौर पर विकसित हुआ है। हलोल, गुजरात में स्थित उसकी अत्‍याधुनिक विनिर्माण सुविधा 125000 वाहनों के वार्षिक उत्‍पादन की क्षमता रखती है और वहाँ लगभग 2500 लोग काम करते हैं। सीएएसई (कनेक्‍टेड, ऑटोनॉमस, शेयर्ड और इलेक्ट्रिक) परिवहन के अपने सपने के आधार पर यह तेजतर्रार कारमेकर आज ऑटोमोबाइल सेगमेंट में विभिन्‍न ‘अनुभवों’ को शामिल कर चुका है। इसने भारत में कई ‘पहलों’ की पेशकश की है, जैसे भारत की पहली इंटरनेट एसयूवी- एमजी हेक्‍टर, भारत की पहली प्‍योर इलेक्ट्रिक इंटरनेट एसयूवी- एमजी जेडएस ईवी, भारत की पहली ऑटोनॉमस (लेवल 1) प्रीमियम एसयूवी- एमजी ग्‍लॉस्‍टर और पर्सनल एआई असिस्‍टेन्‍ट और ऑटोनॉमस (लेवल 2) टेक्‍नोलॉजी वाली भारत की पहली एसयूवी एमजी एस्‍टर ।

एफएडीए के विषय में
फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशंस (एफएडीए) भारत में ऑटोमोबाइल के खुदरा उद्योग का शीर्ष राष्‍ट्रीय निकाय है, जिसकी संस्‍थापना 1964 में हुई थी। यह 15000 से ज्‍यादा ऑटोमोबाइल डीलरों का प्रतिनिधित्‍व करता है, जिनके देशभर में 26500 डीलरशिप्‍स हैं। इसमें क्षेत्रीय, शहरी और प्रांतीय स्‍तरों पर ऑटोमोबाइल डीलरों के कई असोसिएशंस शामिल हैं। एफएडीए इंडिया सड़क सुरक्षा, वाहन पंजीकरण प्रक्रियाओं, कराधान, ऑटो नीति, आदि पर अपनी राय और सुझाव भी देता है।

LEAVE A REPLY