कर्मचारियों की समस्याएँ हल नही हुई तो किया जायेगा अधिकारियों का करेंगे घेराव: कर्मवीर यादव प्रधान एचएसईबी वर्कर यूनियन ।

0
1092

Today Express News / Ajay Verma / फरीदाबाद/ कर्मचारियों की समस्याओं से रूबरू होते यूनिट प्रधान कर्मवीर यादव ने बल्लभगढ़ स्तिथ 66 केवी ओरियंट स्टील पावर हाउस कंप्लेंड सेंटर के हालातों को देख चिन्ता व्यक्त करते हुए बताया कि बिजली निगम के अधिकारी कर्मचारियों की परेशानियों की तरफ कोई ध्यान नही देते हैं । खुद अधिकारियों के दफ्तर वातानुकूलित सुविधाओं से लैस हैं । लेकिन लोगों के घरों को अँधेरे से उजाले की ओर रोशन करने वाले मेहनतकस और दिनरात एककर बिजली की अवरुधित लाइनों को सुचारू रूप से ठीक करने के काम मे जुटे कर्मचारियों के लिये एक भी कम्पलेण्ड सेन्टर पर ना तो पीने के लिये पानी है । यदि है भी तो वहाँ पीने के लिये भी पानी कर्मचारी को खुद अपने वेतन से वहन करना पड़ता है । फील्ड में काम करने वाले हारे थके कर्मचारियों को बैठ कर चैन की सांस लेने के लिये सेन्टरों पर फर्नीचर, टेबल, मेज, कुर्सी तक नही है ।

बिजली निगम के ज्यादातर कंप्लेंड सेन्टर इतने बदतर हालातों से जूझते हुए दयनीय स्तिथि में हैं । कि शौचालय की सुविधा से कर्मचारी कोसों दूर है । निगम के हालातों पर नजर डालें तो ज्यादातर कंप्लेंड सेन्टर ही अस्थायी हैं । जिनके लिये यूनियन पदाधिकारी ने ऐसे ही गम्भीर मुद्दों पर एजेन्डे के जरिये इन्हें स्थायी करने की माँग को कई बार रखा है । लेकिन दयनीय हालातों से गुजर रहे इन कंप्लेंड सेन्टरों की ओर बिजली निगम के किसी भी अधिकारी ने अपना ध्यान केन्द्रित नही किया । चिलचिलाती गर्मी के इस 40℃ के आग उबलते तापमान में कर्मचारी कैसे काम करे ।

ज्यादातर सभी कंप्लेंड सेन्टर दिक्कतों से जूझ रहे । जिनमे बल्लभगढ़ डिवीजन के सीकरी कंप्लेंड सेन्टर, सिटी-वन का टयूबवेल नम्बर-आठ, सिटी-टू का नगलू कॉलोनी और पाली सबडिवीजन का भाँख़री यदि अधिकारियों ने इन सभी परेशानियों पर कर्मचारियों की समस्याओं का निवारण नही किया । तो आगामी आने वाले सप्ताह में यूनियन के बैनरतले सभी कर्मचारी ऐसे अधिकारियों के खिलाफ अपना वर्क सस्पेंड कर कार्यालयों का घेराव करेगी और विरोध का रास्ता अख्तियार करते हुए अपना प्रदर्शन करेगी । इस विरोध प्रदर्शन से किसी भी तरह की हानि या शान्ति भंग होगी तो इसके लिये सीधे तौर पर फरीदाबाद बिजली निगम के अधिकारी जिम्मेदार होंगे ।

LEAVE A REPLY