इंडियन आर्मी और स्पार्क मिंडा फाउंडेशन ने सहभागिता में जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में 1000 से अधिक दिव्यांग लोगों को सशक्त बनाया

0
151

● जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में छह दिवसीय दिव्यांगजन सशक्तिकरण शिविर का समापन

● शिविर के दौरान दिव्यांगजनों को सशक्त बनाने के लिए 1100 से अधिक उपकरणों का वितरण किया गया

Today Express News | कुपवाड़ा, 04 September, 2023: भारत की अग्रणी ऑटोमोटिव कंपनी, स्पार्क मिंडा की सीएसआर शाखा, स्पार्क मिंडा फाउंडेशन ने जांगली गैरीसन कुपवाड़ा, जम्मू और कश्मीर में 21 से 26 अगस्त 2023 तक एक ‘दिव्यांग सशक्तिकरण शिविर’ का आयोजन किया। इस कैम्प के दौरान फाउंडेशन ने 1000+ दिव्यांगजनों को लाभान्वित किया।

स्पार्क मिंडा फाउंडेशन की चेयरपर्सन श्रीमती सारिका मिंडा ने इंडियन आर्मी को उनकी सहभागिता के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि ‘‘स्पार्क मिंडा फाउंडेशन इंडियन आर्मी को उनके समर्थन के लिए दिल से आभार व्यक्त करती है। हम जम्मू-कश्मीर के लोगों को उनके विश्वास के लिए और उनके सहयोग के लिए धन्यवाद देते हैं।’ कैम्प के दौरान दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग, कैलिपर्स, बैसाखी, श्रवण यंत्र एवं यूडीआईडी पंजीकरण सहायता प्रदान की गई।

आयोजित समापन समारोह में मेजर जनरल गिरीश कालिया, विशिष्ट सेवा मेडल, जनरल ऑफिसर कमांडिंग, वज्र डिजीवन ने कहा कि ‘‘स्पार्क मिंडा फाउंडेशन द्वारा आयोजित इन कैम्प की मैं सराहना करता हूं और घाटी के लोगों तक ये सुविधाएं पहुंचाने के लिए मैं स्पार्क मिंडा फाउंडेशन का धन्यवाद करता हूं।’’

स्पार्क मिंडा फाउंडेशन के द्वारा 2018 में उरी में भी इस तरह का शिविर आयोजित किया गया था।

साल 2023 में उत्तर प्रदेश में भी स्पार्क मिंडा फाउंडेशन ने एक मेगा कैम्प का आयोजित किया।

स्पार्क मिंडा फाउंडेशन के द्वारा सक्षम दिव्यांग सशक्तिकरण कार्यक्रम के अंतर्गत अब तक लगभग 16,000 लोगों को लाभान्वित किया जा चुका है। इसके साथ ही साथ कंपनी के द्वारा 1000 लोगों को स्पार्क मिंडा ग्रुप में रोजगार भी मुहैया कराया गया है। स्पार्क मिंडा फाउंडेशन के 20 सदस्यों की टीम ने इंडियन आर्मी के साथ मिलकर इस शिविर को अंजाम दिया है। फाउंडेशन को 2019 में माननीय राष्ट्रपति एवं भारत के वित्त मंत्री द्वारा सीएसआर के राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया था।

LEAVE A REPLY