nurture.farm ने बीमा सेवायें पेश करने के लिए एचडीएफसी एर्गो के साथ साझेदारी की

0
331

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ / रिपोर्ट अजय वर्मा / बेंगलुरु | 07 अक्टूबर 2022 : भारत के प्रमुख एगटेक (एग्रीकल्चर-टेक्नालॉजी) स्टार्ट-अप, nurture.farm ने देश की प्रमुख सामान्य बीमा कंपनी में से एक, एचडीएफसी एर्गो जनरल इंश्योरेंस कंपनी के साथ साझेदारी की है। इस अनुबंध के बाद nurture.farm पर अपने प्‍लेटफॉर्म पर मौजूद 23 लाख किसानों के लिए अपने बीमा समाधानों को बेहतर करेगी और इनका विस्तार करेगी।

किसानों को कृषि चक्र के प्रत्येक चरण में तरह-तरह के जोखिमों का सामना करना पड़ता है। इन जोखिमों में मौसम की अनिश्चितता से लेकर फसल के उत्पादन पर प्रतिकूल प्रभाव, काम की प्रकृति के कारण निजी स्वास्थ्य से संबंधित जोखिम और बाजार में कीमत के उतार-चढ़ाव के कारण किसानों के लिए भारी राजस्व हानि तक कुछ भी या सबकुछ हो सकता है। ज्यादातर किसान महंगे प्रीमियम और इससे जुड़े थकाऊ कागजी कार्रवाई के कारण बीमा का विकल्प नहीं चुनते हैं। दूसरी ओर, इस मुद्दे की व्यापकता के कारण, nurture.farm का लक्ष्य 2022-23 में लगभग 20 लाख किसानों को अपने बीमा समाधान पेश करना है। किसानों का लचीलापन बढ़ाने और जोखिम कम करने वाले समाधान मुहैया कराने के लिए यह निरंतर नवाचार करता रहेगा।

nurture.farm के सीटीओ, श्री प्रणव तिवारी ने कहा, “भारत में बीमा की पहुंच कम होना हमारे किसानों के लिए दुख का कारण है। उन्हें हर तरह के जोखिम जैसे कीड़े, मौसम, कीमत में उतार-चढ़ाव, खेत पर दुर्भाग्य आदि का सामना करना पड़ता है। बीमा उत्पाद की कमी और इन जोखिमों से बचाने वाले बीमा समाधान नहीं होने के कारण वे आर्थिक रूप से कमजोर और शोषण का शिकार होने के मामले अतिसंवेदनशील हैं। एचडीएफसी एर्गो के साथ हमारी साझेदारी का उद्देश्य किसानों के संकट को कम करना है। यह गठजोड़ हमें किसानों को लचीला बनाने और भारत के कृषक समुदाय को स्थायी परिणाम देने के हमारे उद्देश्य के करीब पहुंचने में मदद करेगा।”

इस साझेदारी पर टिप्पणी करते हुए एचडीएफसी एर्गो के अपॉइंटेड एक्चुअरी हितेन कोठारी ने कहा, “एचडीएफसी एर्गो में, हम ग्रामीण समुदाय को वित्तीय सुरक्षा प्रदान देने और स्‍थायी खेती को प्रोत्साहित करने के लिए अभिनव बीमा समाधान लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। फसल बीमा की कम पहुंच को ध्यान में रखते हुए मौसम बीमा उत्पादों का विस्तार जरूरी है। हम nurture.farm के विजन में विश्वास रखते हैं और एक लंबे तथा फायदेमंद सहयोग की आशा करते हैं।”

उत्पादकों, कृषक समुदायों और खाद्य प्रणालियों के लिए एक खुला डिजिटल प्लेटफॉर्म, nurture.farm सक्रिय रूप से कृषि उत्पादों को मजबूत करने, उन्हें भविष्य की पीढ़ियों के लिए लाभदायक और स्‍थायी बनाने के मिशन पर काम कर रहा है। कंपनी को हाल ही में भारत के बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (आईआरडीए) से एक कॉरपोरेट एजेंसी लाइसेंस भी मिला है। यह लाइसेंस nurture.farm को किसानों को लागत प्रभावी कीमतों पर नवीन बीमा समाधानों तक पहुंचने में मदद करने में सक्षम बनाता है। nurture.farm का इरादा किसानों को रिमोट सेंसिंग-आधारित कृषि-स्तरीय बीमा, फसल, स्वास्थ्य और आय के जोखिमों को कम करने की पेशकश करना है। यह भारत के किसानों में आर्थिक लचीलापन लाने में मदद करने के लिए लापता लिंक में से एक है।

nurture.farm के विषय में
nurture.farm, भारत का अग्रणी एग्रीटेक ओपन डिजिटल प्लेटफॉर्म है जो हर किसान के फलने-फूलने के लिए आवश्यक चीजें एक स्थान पर लाता है। ये हैं -प्रौद्योगिकी, समाधान और वित्त। इसका पारितंत्र सभी खाद्य प्रणाली तक पहुंचता है, ग्राहकों के लिए विकल्प का विस्तार करता है-पहुंच को पारदर्शी, किफायती और सभी के लिए तेज़ बनाता है। इस तरह, nurture.farm अनिश्चितता को कम करता है, जिससे किसानों को स्थायी परिणाम प्राप्त करने में मदद मिलती है। 2020 में स्थापित, nurture.farm रिमोट सेंसिंग, फार्म मेकैनिज्म, ऑनलाइन मार्केटप्लेस, ट्रेसेबिलिटी और मार्केट लिंकेज सहित सर्वश्रेष्ठ कृषि समाधानों को एक साथ लाता है। बहुत कम समय में, nurture.farm ने अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए कई भविष्य उन्मुख कदम उठाए हैं। अप्रैल 2020 में लॉन्‍च किए गए nurture.farm ऐप में 2.4 मिलियन (24 लाख) से अधिक किसान शामिल हैं। एग्री -इनपुट्स के लिए बी2बी ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस, नर्चर डॉट रीटेल समाधान ने भी 14 से अधिक राज्यों में उल्लेखनीय रूप से विस्तार किया है और पूरे भारत से 100,000 पंजीकृत एग्री -इनपुट रिटेलर्स हैं। अपने जमीनी स्तर के संचालन को आगे बढ़ाने के लिए, nurture.farm ने भारत का पहला और सबसे बड़ा ग्रामीण गिग-इकोनॉमी (छोटे मोटे काम की अर्थव्यवस्था वाला) मॉडल बनाया है, जिसमें 10 से अधिक राज्यों में 10,000 मजबूत फील्ड वर्कफोर्स तैनात हैं।

अधिक जानने के लिए www.nurture.farm पर जाएं।

एचडीएफसी एर्गो के विषय में:
एचडीएफसी एर्गो जनरल इंश्योकरेंस कंपनी एचडीएफसी लिमिटेड तथा जर्मनी के म्युनिख रे ग्रुप की अग्रणी बीमा कंपनी एर्गो इंटरनेशनल एजी का संयुक्त उपक्रम है। एचडीएफसी एर्गो निजी क्षेत्र में भारत की सबसे बड़ी गैर-जीवन बीमा कंपनियों में से एक है। यह एक डिजिटल फर्स्‍ट कंपनी है जो एआइ फर्स्‍ट कंपनी में बदल रही है। एचडीएफसी एर्गो ग्राहकों को बेहतरीन सेवा अनुभव देने के लिए तकनीकों को लागू करने में अग्रणी है। कंपनी ने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआइ), मशीन लर्निंग (एमएल), नैचुरल प्रोसेसिंग लैंग्वेज (एनएलपी), रोबोटिक्‍स और जेबीएम वाटसन जैसी तकनीकों का इस्तेमाल कर अभिनव एवं नवाचारी उत्‍पादों व सेवाओं का निर्माण किया है। एचडीएफसी एर्गो जनरल इंश्योरेंस प्रोडक्ट्स की पूरी श्रृंखला पेश करती है और इसकी बिक्री प्रक्रिया पूरी तरह से डिजिटल है और लगभग 93% रिटेल पॉलिसीज डिजिटल रूप से जारी की जाती हैं। इसके द्वारा विकसित सेल्फ-हेल्प टेक प्लेटफार्म ने ग्राहकों को 24×7 आधार पर सेल्फ-हेल्प मोड में 58% सेवाओं का वर्चुअल तरीके से लाभ उठाने में सक्षम बनाया है, जबकि 40% ग्राहकों ने सेवाओं का अनुरोध डिजिटल तरीके से किया है।

कंपनी जनरल इंश्योरेंस उत्पादों की पूरी श्रृंखला मुहैया करती है। इसके खुदरा उत्पादों में स्वास्थ्य, मोटर, टू-व्‍हीलर, गृह, यात्रा, साइबर, कृषि, ऋण, और व्यक्तिगत दुर्घटना तथा कॉर्पोरेट क्षेत्र के लिए संपत्ति, सामुद्रिक, इंजीनियरिंग, सामुद्रिक कार्गो, समूह स्वास्थ्य बीमा, और देनदारी बीमा सम्मिलित हैं। चाहे विशिष्ट बीमा उत्पाद हों या एकीकृत ग्राहक सेवा प्रतिदर्श, श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ दावा निपटान प्रक्रिया हो या प्रौद्योगिक रूप से विविध नवाचारी समाधान, कंपनी ने हर टचपॉइंट और उपलब्धि पर अपने ग्राहकों की खुशी और वास्तविक समय में उनकी सेवा सुनिश्चित की है।

अधिक जानकारी के लिए कृपया www.hdfcergo.com पर लॉग ऑन करें

LEAVE A REPLY