अन्ना हजारे के समर्थन में बिना परमिशन प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियो को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
510

TODAY EXPRESS NEWS : अन्ना हजारे के समर्थन में लोकपाल की मांग को लेकर फरीदाबाद के बीके चौक पर धरने पर बैठे समाजसेवीयो को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।  हिरासत के दौरान पुलिस के साथ प्रदर्शनकारियो की धक्का – मुक्की भी हुई।  गिरफ्तार किये गए समाजसेवी अनशनकारी बाबा राम केवल , युवा आगाज़ संस्था के जसवंत पवार और आरटीआई एक्टिविस्ट वरुण श्योकन्द को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया क्योंकि इनके पास धरना प्रदर्शन की कोई परमिशन नहीं थी।  बाद में अनशनकारी बाबा रामकेवल और युवा आगाज़ संस्था के जसवंत पवार को पुलिस ने छोड़ दिया जबकि आरटीआई एक्टिविस्ट वरुण श्योकन्द को एक मानहानि के मामले में अदालत द्वारा जारी गिरफ्तारी वारंट के तहत गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर दिया गया।  बताया जाता है की आरटीआई एक्टिविस्ट वरुण श्योकन्द के खिलाफ बल्लभगढ़ के विधायक मूलचंद शर्मा ने एक मामले में दो करोड़ की मानहानि का दावा  किया हुआ था जिस पर अदालत ने आरटीआई एक्टिविस्ट के खिलाफ गिरफ्तारी  का वारंट जारी कर रखा था और आज इस धरने प्रदर्शन के दौरान पुलिस द्वारा उसे गिरफ्तार कर लिया गया।  इस मामले में पुलिस कमिश्नर के प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया उक्त लोग बिना परमिशन के धरना दे रहे थे जबकि धरना देने से पहले शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस से परमिशन लेना आवश्यक होता है. इसी के चलते अनशनकारी बाबा राम केवल , युवा आगाज़ संस्था के जसवंत पवार और आरटीआई एक्टिविस्ट वरुण श्योकन्द को गिरफ्तार किया गया था जिसमे  बाबा राम केवल और जसवंत पवार को छोड़ दिया गया और आरटीआई एक्टिविस्ट वरुण श्योकन्द को मानहानि के एक मुक़दमे में अदालत द्वारा जारी गिरफ्तारी वारंट के तहत गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया।

( टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ के लिए अजय वर्मा की रिपोर्ट )

CONTACT FOR NEWS : JOURNALIST AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY