कभी भारत की शान माने जाने वाले शारदा विश्वविद्यालय के अवशेषों को अब पाकिस्तान से भारत लाया जाएगा

0
140

TODAY EXPRESS NEWS : भारत में बन रहे पहले कौशल विकास विश्वविद्यालय का निर्माण पृथला विधानसभा क्षेत्र के गांव दुधोला में चल रहा है जिसके निर्माण कार्य में तेजी लाने के लिए मुख्यमंत्री के सलाहकार दीपक मंगला पृथला के विधायक टेकचंद शर्मा और विश्वविद्यालय के वीसी राज नेहरू ने निर्माण कार्य का जायजा लिया और कहां की भारत की पहली ऐसी यूनिवर्सिटी बनी है जिसमें युवाओं को अपनी संस्कृति के साथ-साथ जो भी लेटेस्ट ईशु होते हैं उनके बारे में भी कोर्स चलाए हुए हैं जिससे हमारे देश के बच्चों को शिक्षा के साथ-साथ रोजगार भी उपलब्ध हो रहा है और यह विश्वविद्यालय पहला ऐसा विश्वविद्यालय है जिसमें बिना कैंपस के कक्षाएं चल रही हैं और बच्चे अपना कोर्स कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि सरकार को पत्र लिखा गया है कि कभी दुनिया के लिए शिक्षा का स्रोत रहे शारदा विश्वविद्यालय जो कि अब पाकिस्तान में है लेकिन कभी भारत की शान माना जाता था और दुनिया भर से लोग यहां शिक्षा लेने के लिए आते थे। और अब शारदा विश्वविद्यालय के अवशेषों को पाकिस्तान से यहां लाने के लिए उन्होंने भारत सरकार को एक पत्र लिखा है ताकि भारत की धरोहर को यहां पर स्थापित किया जा सके।

वही पृथला के विधायक टेकचंद शर्मा ने कहा कि भारत की पहली यूनिवर्सिटी है जो पृथला में स्थापित की जा रही है और क्षेत्र की जनता को इसका लाभ भी मिलना शुरू हो गया है क्योंकि बच्चे कोर्स कर रहे हैं और साथ ही उन को रोजगार भी मिल रहा है।

वही मुख्यमंत्री के सलाहकार दीपक मंगला ने बताया कि आज शायद युवाओं को इस की महत्वता का पता नहीं चल रहा है लेकिन जल्द ही जब युवा रोजगार पाकर एक नई शुरुआत करेंगे तो यह अपने आप में बहुत ही अच्छी पहल होगी जोकि केवल मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अच्छी सोच का ही परिचायक होगा।

( टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ के लिए अजय वर्मा की रिपोर्ट )


CONTACT FOR NEWS : JOURNALIST AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY