क्लीनिकल स्टेब्लिशमेंट एक्ट का विरोध – 700 डॉक्टर्स ने किया विरोध प्रदर्शन

0
193
TODAY EXPRESS NEWS ( AJAY VERMA ) हरियाणा क्लीनिकल स्टेब्लिशमेंट एक्ट को लागू करने के विरोध में आई एम ए के बैनर तले आज प्राइवेट नर्सिंग होम्स और कारपोरेट हॉस्पिटल्स के डाक्टरों ने एक दिन का शट डाऊन करते हुए अपना विरोध जताया। विरोध स्वरूप फरीदाबाद के तमाम नर्सिंग होम और सात कारपोरेट हॉस्पिटल आज शट डाऊन रहेंगे और यहाँ तक की एमरजेंसी सेवाएं भी बंद रहेंगी। शहर के तमाम डॉक्टर्स आज सुबह ही बी के चौक पर इकठ्ठा होना शुरू हो गए थे. तमाम डॉक्टर्स ने यहाँ एक सभा का आयोजन किया जिसमे जाने माने डॉक्टर्स ने इस एक्ट के विरोध में अपने विचार रखे. इस शट डाऊन में फरीदाबाद के करीब 225 नर्सिंग होम और 7 कारपोरेट हॉस्पिटल शामिल हुए और यह शट डाउन आज रात 12 बजे तक रहेगा।  डाक्टरों ने चेतवानी दी की यदि उनपर यह एक्स थोपा गया तो वह अनिश्चित कालीन शट डाउन भी कर सकते है. 

फरीदाबाद के बी के चौक पर अपना विरोध प्रदर्शन करते नज़र आ रहे यह सभी डॉक्टर्स आईएमए के बैनर तले हरियाणा क्लीनिकल स्टेब्लिशमेंट एक्ट के विरोध में जमा हुए है. एक दिन के शट डाउन में फरीदाबाद के करीब 225 नर्सिंग होम और 7 कारपोरेट हॉस्पिटल शामिल हैं. एक्ट का पुरजोर विरोध करते हुए आईएमए के जिलाध्यक्ष और अन्य डॉक्टर्स ने बताया की  हरियाणा क्लीनिकल स्टेब्लिशमेंट एक्ट के विरोध में आज उन्होंने तमाम मेडिकल सेवाओं का शट डाउन किया है उन्होंने कहा की इस एक्ट के लागू होने से तमाम छोटे और बड़े नर्सिंग होम्स बंद होने के कागार पर आ  जाएंगे , मेडिकल ट्रीटमेंट महंगा हो जाएगा जो की डॉक्टर्स और मरीजों के हित  में नहीं होगा। हमारी मुख्य मांग यह है की पहले तो यह एक्ट लगना ही नहीं चाहिए और यदि लगाया जाता है तो इसमें संशोधन किया जाना चाहिए। आज फरीदाबाद जिले के तमाम नर्सिंग होम्स और कारपोरेट हॉस्पिटल्स पूर्णता बंद है. उन्होंने कहा की आज किसी भी मरीज का इलाज नहीं किया जाएगा और अगर ऐसे मरीज उनके पास आते है तो उन्हें सरकारी हस्पताल में भेज दिया जाएगा। उन्होंने कहा की विरोध स्वरूप आज उन्होंने यहाँ बीके चौक पर धरना दिया है और इसके बाद मार्च पास्ट करते हुए मुख्यमंत्री में नाम डीसी को ज्ञापन सपा जाएगा। 

CONTACT : AJAY VERMA 9953753769 , 9716316892
EMAIL : faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY