फरीदाबाद में फसल अवशेष प्रबंधन के लिए पांच कस्टम हायरिंग सेंटर खोले जाएंगे – उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी

0
455
FILE PHOTO

TODAY EXPRESS NEWS ( Ajay verma )फरीदाबाद, 24 मई। उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी ने कहा कि कृषि एवं कल्याण विभाग की ओर से फरीदाबाद में फसल अवशेष प्रबंधन के लिए पांच कस्टम हायरिंग सेंटर खोले जाएंगे। ये कस्टम हायरिंग सेंटर जिले के प्रगतिशील किसान, सहकारी समितियां, स्वयं सहायता समूह, किसान मेला समूह, पंजीकृत किसान समिति स्थापित कर सकते हैं।  उपायुक्त वीरवार को लघु सचिवालय स्थित सभागार में संबंधित अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कस्टम हायरिंग सेंटर की स्थापना की इच्छुक संस्थाएं या प्रगतिशील किसान 31 मई तक आवेदन कर सकते हैं। प्रदेश सरकार की ओर से फसल अवशेष या पराली के प्रबंधन के लिए कृषि यंत्रों पर 80 फीसदी व अन्य कृषि यंत्रों पर 40 फीसदी अनुदान दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस संबंध में अधिक से अधिक लोगों को जागरूक किया जाएगा। इसके लिए कृषि विभाग द्वारा पंच-सरपंचों को भी जानकारी दी जाएगी, ताकि वे किसानों को कस्टम हायरिंग सेंटर की जानकारी दे सकें। कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उपनिदेशक आत्माराम गोदारा ने बताया कि कस्टम हायरिंग सेंटर की स्थापना के लिए विभाग के जिला कार्यालय या सहायक कृषि अभियंता कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि कस्टम हायरिंग सेंटर में जो कृषि यंत्र उपलब्ध होंगे उनमें लेजर लैंड लेवलर, कॉटन सीड ड्रील, रोटरी प्लो, रीपर, स्ट्रा रिपर, डिस्क हैरो, पावर टिलर, मेज प्लांटर, डीएसआर मशीन, ट्रैक्टर माउंटिड स्पे्रयर, ट्रैन्च ब्लान्टर, कलटीवेटर, पटेटो प्लांटर, पावर हैरो, स्व चालित राईस ट्रांस्प्लांटर, बागवानी मशीने जैसे पॉवर ऑरेटिड फ्रुट ग्रेडरस, ओनियन हारवैस्टर आदि यंत्र हैं।


CONTACT : AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY