सभी काॅलेज स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कार्य करेंः कुलपति प्रो. दिनेश कुमार

0
221

TODAY EXPRESS NEWS ( Ajay verma ) फरीदाबाद, 24 मई – वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, फरीदाबाद ने सभी संबद्ध काॅलेजों से स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम में विद्यार्थियों की भागीदारी को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिये है। इसके अलावा, सभी काॅलेजों को राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद् (नैक) तथा राष्ट्रीय प्रत्यायन बोर्ड (एनबीए) से मान्यता प्राप्त करने के लिए कहा है क्योंकि उच्च शिक्षण संस्थानों के लिए उनके द्वारा प्रदान की जा रही शिक्षण की गुणवत्ता एवं उत्कृष्टता का मूल्यांकन करवाना अनिवार्य है। पलवल जिले के सभी संबद्ध काॅलेजों के प्राचार्याें के साथ एडवांस इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलाॅजी एवं मैनेजमेंट, पलवल में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम एक अनूठा कार्यक्रम तथा विद्यार्थियों के लिए बेहतरीन अवसर है, जिसके द्वारा विद्यार्थी समाज के लिए कुछ करने का अवसर प्राप्त कर सकते है और इंटर्नशिप केे दौरान उनके उत्कृष्ट कार्याें को राष्ट्रीय स्तर पर सम्मान मिलेगा। इसके अलावा, विद्यार्थियों को इंटर्नशिप के दौरान किये गये कार्याें के आधार पर दो अतिरिक्त क्रेडिट प्वाइंट भी प्राप्त होंगे। उन्होंने सभी काॅलेजों को इंटर्नशिप कार्यक्रम में पंजीकरण प्रक्रिया में विद्यार्थियों को सहयोग देने का आग्रह किया ताकि इस कार्यक्रम में विद्यार्थियों की भागीदारी को बढ़ाया जा सके। नैक तथा एनबीए मान्यता प्रक्रिया में हिस्सा लेने के लिए काॅलेजों को प्रोत्साहित करते हुए कुलपति ने कहा कि नैक तथा एनबीए द्वारा आवधिक मूल्यांकन संस्थानों को एक सूचित समीक्षा प्रक्रिया के माध्यम से अपनी क्षमताओं तथा कमियों को जानने का अवसर प्रदान करता है तथा तय मानदंडों पर शिक्षा की गुणवत्ता स्तर में सुधार लाने में मदद करता है। इसलिए, सभी काॅलेजों के लिए जरूरी है कि वे नैक तथा एनबीए मान्यता प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि नैक तथा एनबीए मान्यता के लिए आवेदन करने वाले सभी काॅलेजों को विश्वविद्यालय द्वारा आवश्यक सहयोग व मार्गदर्शन प्रदान किया जायेगा। काॅलेजों के प्राचार्याें द्वारा कुलपति को विश्वविद्यालय द्वारा जारी निर्देशों के अनुरूप उठाये गये कदमों के बारे में भी अवगत करवाया। कुलपति ने प्राचार्याें द्वारा गुणवत्ता सुधार को लेकर दिये गये सुझाव पर भी चर्चा की। बैठक के दौरान डीन (संस्थान) प्रो. संदीप ग्रोवर ने विश्वविद्यालय द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में गुणवत्ता सुधार को लेकर किये जा रहे कार्याें की जानकारी दी। डिप्टी डीन (संबद्धता) डाॅ. आशुतोष दीक्षित ने 2018-19 के लिए संबद्धता प्रक्रिया की जानकारी दी। बैठक का संचालन संबद्धता शाखा की ओर से डाॅ. प्रीति सेठी द्वारा किया गया। इससे पूर्व, कुलपति ने पलवल जिले के विभिन्न कालेजों में स्थापित विश्वविद्यालय के परीक्षा केन्द्रों का दौरा भी किया।


CONTACT : AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY