समय के साथ युवाओं की सोच भी बदल रही है – नया प्रयास

0
445
TODAY EXPRESS NEWS ( AJAY VERMA ) समय के साथ युवाओं की सोच भी बदल रही है। अब नए साल पर बड़ी संख्या में युवा कहीं घुमने जाने की बजाए समाज में सकारात्मक कार्य कर खुशी बटोर रहे हैं। नया प्रयास संस्था के पदाधिकारियों ने नए साल के पहला सप्ताह ऐसे कॉलोनियों व स्लम में जाकर बीता रहे हैं। जहां सुविधाओं से वंचित बच्चे अधिक संख्या में है। वे उनके बीच विभिन्न प्रतियोगिता का आयोजन कर उनके सपनों को पंख लगा रहे हैं।
पेंटिंग प्रतियोगिता का किया आयोजन
संस्था के सदस्यों ने बाटा चौक के नजदीक स्थित स्लम में पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया। जब बच्चों ने कागज पर कल्पनों के रंग भरे तो उनकी खुशी देखते बन रही थी। ये बच्चे मूलभूत सुविधाएं से वंचित हैं। लेकिन इनमें चित्रकारी व गायन की प्रतिभा देख सभी दंग थे। स्लम में रहने वाली 9 साल की अंजलि ने बताया की पेंटिंग  करना उसे अच्छा लगता है। इसके लिए कभी-कभी  रद्दी में कुछ पेपर और कलर मिल जाता है। उसी  से प्रैक्टिस करती है।
समाज के प्रति युवाओं को संवेदनशील बनाना है लक्ष्य
संस्था के अध्यक्ष सरोज कुमार ने बताया की युवाओं की टीम ने  किसी होटल में पार्टी करने के बजाए  ऐसे बच्चो के साथ नया साल मनाने का निर्णय लिया जिससे बच्चों को रचनात्मक होने के प्रति जागरूक कर समाज के मुख्यधरा से जोड़ा जा सके। उन्होंने  बताया की सभी बच्चे स्पेशल होते है और उन्हें तराशा जाए। तो वो किसी ऊंचाई तक जा सकता है। इसके साथ समाज में युवाओं को सामाजिक कार्यों के प्रति संवेदनशील बनाना भी लक्ष्य है। संस्था के उपाध्यक्ष विकास कुमार व आशीष शर्मा ने बच्चों की कॉउंसलिंग कर उन्हें पढऩे के लिए मोटीवेट किया। निशांत इंडस्ट्रीज के मैनेजिंग डायरेक्टर रविंदर सिंह ने बच्चों को गिफ्ट दे कर प्रोत्साहित  किया। इस अवसर पर  प्रशांत खत्री, संदीप, राकेश, सतवीर, तनूजा, अंकिता, गुडिय़ा, स्नेहा, खुशबू, रवि, अवधेश यादव, अक्षय यादव, मनीष एंथोनी, गजेंद्र सिंह, संतोष कुमार, घनश्याम राजवर, सौरभ कुमार आदि मौजूद थे।
CONTACT : AJAY VERMA 9953753769 , 9716316892
EMAIL : faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY