195 कोरोंना पॉजिटिव मामले सामने आये , 115 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया

0
244
Masking has been made compulsory for all people to come out of their homes - Collector Yashpal

Today Express News / Report / Ajay verma / 23 may /   फरीदाबाद में शनि वार रात तक जिले में 195 कोरोंना पॉजिटिव के मामले सामने आये है जिसके बाद शहर के लोगो में दहशत बनी हुई है की आखिरकार रोजाना मामलो में वृद्धि के चलते जन जीवन अस्त व्यस्त हो चुका है वहीँ ऐसे ही मामले सामने आते रहे तो आने वाले समय में हालात और भी बदत्तर हो जाएंगे।

उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डा. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 9493 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 3345 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 6142 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 9228 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 9032 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 8251 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 586 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 195 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 71 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 3 पॉजिटिव मरीजों को घर पर आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 115 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक छह मरीजों की मौत हो चुकी है जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। उन्होंने बताया कि सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया गया है। इसी प्रकार पर्यावरण स्वच्छता और शुद्धीकरण के बारे में सरकारी व निजी विभागों के कर्मचारियों को दैनिक आधार पर प्रशिक्षण दिया जा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण की पृष्ठभूमि को देखते हुए आम जनता को सरकार द्वारा स्वास्थ्य संबंधी हिदायतों की अनुपालना करने की सलाह दी जाती है। लोगो को ध्यान रखना चाहिए कि खाँसी व छींकते समय रूमाल या तौलिया का उपयोग अवश्य करें, हाथों को बार-बार साबुन व पानी से धोते रहें। जब तक बहुत जरूरी न हो, घर से बाहर न निकलें। सार्वजनिक स्थलों व सभाओं में जाने से बचें। जिन लोगों ने हाल ही में कोरोना प्रभावित देशों की यात्रा की है, उन्हें राष्ट्रीय, राज्य या जिला हेल्पलाइन नंबरों पर सूचना देनी चाहिए, उन्हें भारत में आगमन की तारीख से 28 दिनों के लिए सभी से अलग रहना है और किसी से भी स्पर्श करने से बचना है, भले ही उसमें कोई लक्षण न हों।

LEAVE A REPLY