बच्चों को शिक्षित करने का कार्य कर रहा है डा. अनिल मलिक स्कूल : राजेश भाटिया

0
298

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ । रिपोर्ट अजय वर्मा । फरीदाबाद। श्री सिद्धपीठ हनुमान मंदिर एनआईटी नंबर एक में संचालित डा. अनिल मलिक सीनियर सैकेंडरी स्कूल के संस्थापक डा. अनिल मलिक की पुण्यतिथि पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस मौके पर मंदिर के प्रधान राजेश भाटिया सहित गणमान्य लोगों व अध्यापकों ने डा. अनिल मलिक चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया।

उपस्थितजनों को संबोधित करते हुए राजेश भाटिया ने कहा कि डा. अनिल मलिक ने वर्षाे पहले जो पौधा रोपा था, आज वह वट वृक्ष के रूप में बच्चों को शिक्षित करने का काम कर रहा है, उन्होंने कहा कि जो पहले डा. अनिल मलिक ने की थी, उसके लिए वह सदैव हमारे दिलों में जिंदा रहेंगे। श्री भाटिया ने कहा कि स्कूल में बच्चों को शिक्षित होते देख उन्हें बहुत खुशी होती है क्योंकि यहां गरीब व जरूरतमंद बच्चों को शिक्षित किया जा रहा है, जो आने वाले समय में देश का भविष्य बनेंगे। उल्लेखनीय है कि यह स्कूल 1975 में डॉक्टर रघुनाथ राय जी के सुपुत्र श्री अनिल मलिक द्वारा प्रारंभ किया गया था परंतु अप्रैल 1981 में उनकी मृत्यु के पश्चात स्कूल का नाम उन्हीं के नाम से प्रसिद्ध है। उन्होंने बताया कि इस स्कूल की प्रथम अध्यापिका श्रीमती लाज अरोड़ा एवं श्रीमती शकुुंतला मेहंदीरत्ता रही।  1975 से 1985 तक यह स्कूल आठवीं कक्षा तक था, 1985 से 1992 तक नौंवीं, दसवीं तक था तथा 1992 में यह स्कूल 12वीं तक हो गया। अब यह स्कूल स्व. डा. श्री रघुनाथ राय के पुत्र श्री विनोद कुमार मलिक के संरक्षण में प्रधान राजेश भाटिया द्वारा संचालित किया जा रहा है।

इस मोके पर प्रधान राजेश भाटिया, विनोद मलिक एवं स्कूल के बच्चों के संग नन्द राम पहिल, जनक भाटिया, मोक्षित भाटिया सचिन भाटिया, प्रेम बब्बर तथा स्कूल अद्यापिकाओं में सोनिया अरोड़ा, सुमन अरोड़ा, रजनी बजाज, नीतू भाटिया, हिमानी गुलाटी, शोभा शर्मा, मान्या रतड़ा, रेखा वधवा, रेखा जोहरा, अनु भाटिया, प्रवेश भाटिया, सोनिया ठकराल, मोनिका विरमानी,अशोक कुमार, रिंकल भाटिया, चाहत, नूपुर, सुनीता, सीमा भाटिया, इंदु दस्वाल, विकास शर्मा व् अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे

LEAVE A REPLY