MG मोटर इंडिया ने एमजी ई-पे लॉन्च किया

0
427

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ । अजय वर्मा 28 मार्च, 2022 : एमजी मोटर इंडिया ने आज एमजी ई-पे लॉन्च किया है। यह लोन की फौरन अनुमति देने वाला एक ऑनलाइन कार फाइनेंस प्‍लेटफॉर्म है जहां ग्राहकों के संपूर्ण ऑनलाइन ऑटो फाइनेंस के सफर को तेजी से पूरा किया जाएगा। इसका गठन ऑनलाइन कार की खरीद का पारदर्शी और सुविधाजनक समाधान प्रदान करने के उद्देश्य से किया गया है। एमजी ई-पे उपभोक्ताओं को घरों पर रहते हुए लचीले, पारदर्शी और बिना किसी रुकावट के लोन को मंजूरी मिलने की सुविधा प्रदान कर उनकी मदद करेगा। एमजी ने आईसीआईसीआई बैंक, कोटक महिंद्रा प्राइम और ऐक्सिस बैंक से साझेदारी की है, ताकि उपभोक्ताओं को एमजी ई-पे के तहत अनुकूलित और तुरंत ऑटो फाइनेंस लोन मुहैया कराए जा सकें।

एमजी मोटर इंडिया ने ई-एक्सपर्ट और ई-पे के साथ डिजिटल रूप से उपभोक्ताओं के लिए अपनी मनपसंद कार की खोज और खरीदारी के अनुभव को और शानदार बनाया है। ईएक्सपर्ट उपभोक्ताओं को पूरी तरह से डिजिटल अनुभव हासिल करने के शानदार सफर पर ले जाता है। ई-पे ऑनलाइन फाइनेंसिंग के कई लचीले विकल्प उपलब्ध कराकर उपभोक्ताओं के अनुभव को और बढ़ाएगा। इसमें उपभोक्ताओं का कारों की खोज से खरीदारी का सफर पूरी तरह से अनुकूल और सुविधाजनक होगा।

एमजी मोटर इंडिया के मुख्य वाणिज्यिक निदेशक गौरव गुप्ता ने एमजीई-पे के लॉन्‍च पर कहा, “एमजी में हम लगातार अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म को आधुनिक बना रहे हैं, जिससे हम अपने उपभोक्ताओं से जुड़े रह सकें और उन्हें बेहतरीन अनुभव उपलब्ध करा सकें। एमजी के ऑनलाइन खरीदारी के प्लेटफॉर्म से लाखों उपभोक्ताओं की जरूरत प्रभावशाली ढंग से पूरा करने के बाद हम इस दिशा में एक कदम और आगे बढ़े हैं। हमारा इरादा उपभोक्ताओं को ऑनलाइन कार की खरीदारी के लिए परफेक्ट फाइनेंस के समाधान उपलब्ध कराकर कारों की खरीदारी के उनके सफर को आसान बनाना है।”

एमजी ई-पे 5 क्लिक और 7 आसान चरणों से उपभोक्ताओं की खरीदारी के सफर को आसान बनाएगा। उपभोक्ताओं के पास अपनी नजदीकी एमजी डीलरशिप के साथ कारों को ऑनलाइन बुकिंग कराने का विकल्प मौजूद होगा। वह अपनी कारों को एसेसरीज, मर्चेंडाइज से कस्‍टमाइज कर सकते हैं, प्रोटेक्‍ट प्‍लान ले सकते हैं। इसके साथ ही उन्हें कई फाइनेंसर्स से पहले से मंजूर लोन तक पहुंच की सुविधा भी मिलेगी। वह लोन की अवधि, राशि और ब्याज दर को अपनी जरूरत और पसंद के अनुसार तय कर सकेंगे। उपभोक्ता घर से कदम बाहर निकाले बिना इन सभी फाइनेंशियल सर्विसेज को ऑनलाइन हासिल कर सकेंगे। वह वास्‍तविक समय में अपने ऋण के आवेदन की स्थिति और मंजूर किए गए लोन के पत्र का तुरंत पता लगा सकेंगे और अपने घर की दहलीज पर अपनी नई कारों की डिलिवरी हासिल कर सकेंगे।
एमजी मोटर इंडिया उपभोक्ताओं को आसानी से और समय पर खरीदारी का अनुभव प्रदान करता है। उपभोक्ताओं को पहले अपनी पसंद की कारों और डीलरों को चुनना पड़ेगा। इसके बाद उन्हें बुकिंग फॉर्म भरना पड़ेगा और बुकिंग राशि का भुगतान करना पड़ेगा। बैंक से पहले से मंजूर लोन का ऑफर मिलने के बाद वह आवेदन पत्र भरकर ऋण के लिए आवेदन कर सकेंगे। वेबसाइट पर लोन की मंजूरी मिलने और बुकिंग की पहली किस्त का भुगतान करने के बाद बैंक उन्हें निर्धारित अवधि में यह ऋण दे देगा और उपभोक्ताओं को उनके घर पर वाहन मिल जाएगा ।
ऑटो उद्योग में पहली बार ऑनलाइन फाइनेंस की सुविधा ऑनलाइन और ऑफलाइन, दोनों में से किसी भी तरीके से कार की बुकिंग कराने वाले उपभोक्ताओं को दी जाएगी। इसमें नए और मौजूदा बैंक उपभोक्ता दोनों शामिल हैं। एमजी की ई-पे की नई कार लोन की सुविधा चार बैंकों (आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, कोटक महिंद्रा प्राइम और ऐक्सिस बैक) के साथ लाइव है। ब्रैंड दूसरे बैंकों और एनबीएफसी के साथ भी अपने पोर्टफोलियो का विस्तार करने के लिए काम कर रहा है, जिससे संभावित खरीदारों को बेहतर विकल्प मुहैया कराए जा सकें।
एमजी ई-पे की सुविधा एमजी वेबसाइट पर लाइव है। अधिकर जानकारी के लिए कृपया https://www.mgmotor.co.in/tools/ebuying पर जाएं।

एमजी मोटर इंडिया के विषय में
साल 1924 में यूके में संस्‍थापित मोरिस गैराजेस के वाहन स्‍पोर्ट्स कार्स, रोडस्‍टर्स और कैब्रियोलेट सीरीज के लिये विश्‍व-प्रसिद्ध थे। अपनी स्‍टाइलिंग, सुंदरता और उत्‍साही प्रदर्शन के कारण एमजी के वाहन कई सेलीब्रिटीज की पसंद थे, जैसे ब्रिटिश प्रधानमंत्री और ब्रिटिश राज परिवार भी शामिल है। यूके के एबिंगडन में साल 1930 में स्‍थापित एमजी कार क्‍लब के हजारों वफादार प्रशंसक हैं, जो इसे कार के एक ब्राण्‍ड के लिये विश्‍व के सबसे बड़े क्‍लबों में से एक बनाते हैं। विगत 96 वर्षों में एमजी एक आधुनिक, भविष्‍यगामी और अभिनव ब्राण्‍ड के तौर पर विकसित हुआ है। हलोल, गुजरात में स्थित उसकी अत्‍याधुनिक विनिर्माण सुविधा 80,000 वाहनों के वार्षिक उत्‍पादन की क्षमता रखती है और वहाँ लगभग 2500 लोग काम करते हैं। सीएएसई (कनेक्‍टेड, ऑटोनॉमस, शेयर्ड और इलेक्ट्रिक) परिवहन के अपने सपने के आधार पर यह तेजतर्रार कारमेकर आज ऑटोमोबाइल सेगमेंट में विभिन्‍न ‘अनुभवों’ को शामिल कर चुका है। इसने भारत में कई ‘पहलों’ की पेशकश की है, जैसे भारत की पहली इंटरनेट एसयूवी- एमजी हेक्‍टर, भारत की पहली प्‍योर इलेक्ट्रिक इंटरनेट एसयूवी- एमजी जेडएस ईवी और भारत की पहली ऑटोनॉमस (लेवल 1) प्रीमियम एसयूवी- एमजी ग्‍लोस्‍टर और पर्सनल एआई असिस्‍टेन्‍ट एवं ऑटोनॉमस (लेवल 2) टेक्‍नोलॉजी वाली भारत की पहली एसयूवी- एमजी एस्‍टर।

LEAVE A REPLY