तबादले को लेकर सुर्खियों में रहे जस्टिस मुरलीधर को फेयरवेल देने पहुंचा वकीलों का हजूम 

0
1078

Today Express News / Report Ajay Verma / वो कहते है ना हवाओ के विरुद्ध चलने वालो को मुश्किलों का सामना करना पढता है ऐसी ही एक शख्सियत का नाम जस्टिस मुरलीधर है , दिल्ली दंगो को लेकर जिन्होंने दिल्ली पुलिस को सख्त आदेश दिए थे की जिन लोगो ने भड़काऊ भाषण दिए है उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाए।  इस आदेश के देने की रात को ही उनका तबादला सुर्खियों में बना रहा।  … पूरी खबर नीचे पढ़े।

न्यूज़ 18 के सौजन्य से , नई दिल्ली. दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस मुरलीधर (Justice Murlidhar) का तबादला पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय (Punjab & Delhi Highcourt) में कर दिया गया है. इस तबादले के बाद 5 मार्च को जस्टिस मुरलीधर को फेयरवेल दी गई. ये कार्यक्रम दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi Highcourt) में रखा गया. जस्टिस मुरलीधर को फेयरवेल देने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में प्रैक्टिस कर रहे तमाम वकीलों की भीड़ उमड़ आई. जस्टिस मुरलीधर को अलविदा कहने के लिए इतने लोग पहुंचे कि वहां बैठने की जगह तक नहीं बची और लोग सीढ़ियों पर खड़े हो गए. इस फेयरवेल प्रोग्राम की तस्वीर दिल्ली हाईकोर्ट की एडवोकेट नंदिता राव ने अपनी फेसबुक वॉल पर शेयर की है. तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है कि किस तरह काले कोट पहने वकीलों का परिसर में जमावड़ा लगा हुआ है.  सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने ट्वीट कर कहा, “हाईकोर्ट में आज न्यायमूर्ति मुरलीधर को विदाई दी गई, जिन्हें दिल्ली पुलिस को दंगा अधिनियम पढ़कर सुनाने के दिन रात 11 बजे स्थानांतरित कर दिया था. हाईकोर्ट ने कभी किसी जज की इतनी शान से विदाई नहीं देखी. उन्होंने दिखाया कि शपथ के प्रति ईमानदार एक न्यायाधीश संविधान को बनाए रखने और अधिकारों की रक्षा करने के लिए क्या कर सकता है.”

LEAVE A REPLY