एनएचपीसी ने अपना 49वां स्थापना दिवस मनाया।

0
337

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़। रिपोर्ट अजय वर्मा। एनएचपीसी ने 7 नवंबर 2023 को एनएचपीसी निगम मुख्यालय, फरीदाबाद और अपने सभी क्षेत्रीय कार्यालयों, पावर स्टेशनों और परियोजनाओं में अपना 49वां स्थापना दिवस मनाया।

इस अवसर पर संबोधित करते हुए आर.के. विश्नोई, सीएमडी, एनएचपीसी ने सभी एनएचपीसी कार्मिकों को शुभकामनाएं दीं।आर.के. विश्नोई ने बताया कि वर्ष 2022-23 में एनएचपीसी और संयुक्त उपक्रम द्वारा कुल 30350 मिलियन यूनिट विद्युत उत्पादन किया गया है जो अब तक का सर्वाधिक उत्पादन है।उन्होंने यह भी बताया कि गत वर्ष पीएएफ़ 88.75% रहा जो अब तक का सर्वाधिक है।सीएमडी, एनएचपीसी ने आगे कहा कि वित्तीय वर्ष 2022-23 में अभी तक का सर्वाधिक समेकित कर पश्चातलाभ (पीएटी) रु. 3834 करोड़ है जो कि पिछले रिकॉर्ड रु. 3538 करोड़ के मुकाबले 8.3% ज्यादा है।श्रीआर.के. विश्नोई ने विद्युत मंत्रालय, भारत सरकार और विशेष रूप से माननीय केंद्रीय मंत्री (विद्युत, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा) आर. के. सिंह का आभार प्रकट किया, जिनके कुशल नेतृत्व में जल विद्युत क्षेत्र में नयी ऊर्जा का संचार हुआ है और इसका प्रत्यक्ष लाभ एनएचपीसी को नयी परियोजनाओं के रूप में मिल रहा है।

इस अवसर पर एनएचपीसी के निदेशक (कार्मिक) उत्तम लाल ने स्वागत भाषण दिया। उत्तम लाल ने कहा कि एनएचपीसी स्थापना दिवस उन सभी एनएचपीसी कार्मिकों को याद करने का एक विशेषक्षण है जिन्होंने इस की स्थापना के बाद से एनएचपीसी के विकास में योगदान दिया है।

समारोह का एक विशेष आकर्षण नए एनएचपीसी ध्वज का अनावरण और एनएचपीसी आई टी एंड सी और मानव संसाधन विभाग द्वारा विकसित एनएचपीसी कार्मिकों के लिए एक विशेष वैवाहिक पोर्टल ‘बंधन’ का शुभारंभ था।समारोह के दौरान, विभिन्न श्रेणियों जैसे सर्वश्रेष्ठ पावर स्टेशन, सर्व श्रेष्ठ निर्माणाधीन परियोजना, अनुकरणीय प्रतिबद्धता, एनएचपीसी के स्टार और दसवीं और बारहवीं कक्षा के स्टार छात्र एनएचपीसी पुरस्कार योजना (2022-23) के विजेताओं को भी सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर आर.पी. गोयल, निदेशक (वित्त), बिश्वजीत बासु, निदेशक (परियोजनाएं), आर.के. चौधरी, निदेशक (तकनीकी), संतोषकुमार, सीवीओ और एनएचपीसी के स्वतंत्र निदेशक डॉ. उदय सखाराम निर्गुडकर, प्रोफेसर (डॉ.) अमित कंसल, प्रोफेसर (डॉ.) रश्मी शर्मा रावल और जी जी जोसेफ उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY