पेटीएम ने 9 ज्‍योतिर्लिंगों और हरिद्वार में महाशिवरात्रि स्‍पेशल क्‍यूआर कोड्स लगाए

0
264

– उपभोक्‍ताओं को मिली पेटीएम वॉलट, पेटीएम यूपीआई लाइट, पेटीएम यूपीआई, पेटीएम पोस्‍टपेड, डेबिट एवं क्रेडिट कार्ड्स और नेटबैंकिंग के साथ भुगतान करने की सहूलियत

– पेटीएम भारत में ऑफलाइन भुगतानों में अग्रणी है, जिसके पास 31 मिलियन से मर्चेंट्स हैं

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ । रिपोर्ट अजय वर्मा । 27 फरवरी 2023 : वन97 कम्‍युनिकेशंस लिमिटेड (ओसीएल), जिसके पास पेटीएम ब्रांड का स्‍वामित्‍व है, ने देश के 9 ज्‍योतिर्लिंगों और उनके आस-पास के मंदिर परिसरों में विशेष क्‍यूआर कोड्स की व्‍यवस्‍था कर भारत के सबसे महत्‍वपूर्ण त्‍यौहारों में से एक, महाशिवरात्रि का उत्‍सव मनाया। भारत में क्‍यूआर और मोबाइल पेमेंट्स की पहल करने वाली इस कंपनी ने महाशिवरात्रि के लिये एक स्‍पेशल क्‍यूआर कोड डिजाइन किया था, जिस पर भगवान शिव की फोटो थी।

म‍हाशिवरात्रि देशभर में शनिवार, 18 फरवरी 2023 को मनाई गई थी। देश भर में 12 ज्‍योतिर्लिंग मौजूद हैं जिनमें से गुजरात में सोमनाथ, मध्‍यप्रदेश में महाकालेश्‍वर और ओंकारेश्‍वर, झारखण्‍ड में बैद्यनाथ, महाराष्‍ट्र में भीमाशंकर, तमिलनाडु में रामेश्‍वरम, गुजरात में नागेश्‍वर, वाराणसी में काशी विश्‍वनाथ और औरंगाबाद में घृष्‍णेश्‍वर ज्‍योतिर्लिंग में पेटीएम ने विशेष क्‍यूआर कोड्स की व्‍यवस्‍था की थी।

कंपनी ने उत्‍तराखण्‍ड के हरिद्वार और ऋषिकेश तथा कोयंबटूर के ईशा फाउंडेशन में भी महाशिवरात्रि स्‍पेशल क्‍यूआर कोड की व्‍यवस्‍था की थी। इस प्रकार, इन पवित्र स्‍थलों पर दर्शन के लिये जाने वाले भक्‍त वहाँ की दुकानों और भोजनालयों में पेटीएम क्‍यूआर कोड्स को स्‍कैन कर भुगतान कर सके।

पेटीएम क्‍यूआर कोड से छोटे और मझोले दुकानदार शून्‍य अग्रिम शुल्‍क और शून्‍य एमडीआर पर डिजिटल भुगतान ले सकते हैं। कंपनी ऑफलाइन भुगतान में अग्रणी है और 31 मिलियन से ज्‍यादा व्‍यापारी भागीदार पेटीएम के माध्‍यम से भुगतान ले रहे हैं। कंपनी उपभोक्‍ताओं को पेटीएम वॉलट, पेटीएम यूपीआई लाइट, पेटीएम यूपीआई, पेटीएम पोस्‍टपेड, डेबिट एवं क्रेडिट कार्ड्स तथा नेटबैंकिंग के साथ भुगतान में लचीलापन भी देती है।

LEAVE A REPLY