राजकुमार राव का पर्यावरण-अनुकूल गणपति महोत्सव!

0
194

टुडे  एक्सप्रेस न्यूज़। रिपोर्ट मोक्ष वर्मा। बहुमुखी प्रतिभा के धनी राजकुमार राव ने मेनस्ट्रीम और समीक्षकों द्वारा प्रशंसित दोनों फिल्मों में लगातार शानदार प्रदर्शन किया है। विविध किरदारों में सहजता से परिवर्तित होने की अपनी क्षमता के साथ, उन्होंने एक समर्पित फैन बेस और आलोचकों की प्रशंसा समान रूप से अर्जित की है। आइए देखें कि कैसे राजकुमार राव अपने घर पर गणेश चतुर्थी का पर्व मनाते हैं, जो उनके दिल के बहुत करीब है।

राजकुमार राव के गणपति उत्सव का एक उल्लेखनीय पहलू पर्यावरण-मित्रता के प्रति उनकी प्रतिबद्धता है। हर साल, वह प्राथमिक सामग्री के रूप में गेहूं का उपयोग करके अपने हाथों से गणपति की मूर्ति बनाने की अपनी परंपरा को आगे बढ़ाते हैं। यह कार्य उनके कलात्मक प्रतिभा का प्रतीक है। मूर्ति के महीन श्रृंगर के लिए राज आंखें बनाने और इसे सजाने के लिए राजमा और डाल का इस्तेमाल करते हैं। जो बात उनकी शैली को अलग करती है, वह प्राकृतिक और पर्यावरण-अनुकूल सामग्री और रंग का उपयोग करने की उनकी पसंद है।

जहां राजकुमार राव गणेश चतुर्थी को पर्यावरण-अनुकूल तरीके से मनाने के लिए समर्पित हैं, वहीं वह सर्वश्रेष्ठ विकल्प चुनकर अपने करियर में लगातार उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रहे हैं। इस साल, वह ‘श्री’, ‘स्त्री 2’ और ‘मिस्टर एंड मिसेज माही’ सहित कई रोमांचक परियोजनाओं में व्यस्त हैं।

LEAVE A REPLY