आवश्यक सामान की हाइपरलोकल डिलीवरी के क्षेत्र में शिपरॉकेट ने किया प्रवेश

0
994

Today Express News / Report / Ajay Verma /  17 अप्रैल,2020:  कोविड-19 के प्रकोप और पूरे देश में लॉकडाउन की अवधि तीन मई तक बढ़ाने के फैसले को ध्यान में रखते हुए डी2सी विक्रेताओं के लिए टेक-इनेबल्ड लॉजिस्टिक एग्रीगेटर शिपरॉकेट ने आवश्यक वस्तुओं के लिए हाइपरलोकल डिलीवरी सेवाएं शुरू की हैं। इस नई सेवा के जरिये ब्रांड ई-कॉमर्स कंपनियों को खाद्य पदार्थों, किराना सामान और फार्मास्यूटिकल्स बेचने में सक्षम करेगा, जो शैडोफैक्स के डिलीवरी पार्टनर्स की विशेषज्ञता का लाभ उठाकर 8 किलोमीटर के दायरे में ऑर्डर भेजेगा।

नई सेवा अहमदाबाद, दिल्ली, जयपुर, मुंबई, पुणे, फरीदाबाद, नोएडा, गुरुग्राम और इसी तरह 14 प्रमुख शहरों में शुरू की गई है।
इस साझेदारी के साथ शिपरॉकेट अपने अनुभवी डिलीवरी प्रोवाइडर्स के जरिये आवश्यक वस्तुओं की बिना किसी परेशानी के डिलीवरी की सुविधा प्रदान करेगा। इस सेवा का लाभ उठाते हुए ब्रांड सीधे उपभोक्ताओं तक पहुंचने में सक्षम होंगे और सेम डे और नेक्स्ट डे डिलीवरी कर सकेंगे। वजन पर कोई प्रतिबंध या रिटर्न पर अतिरिक्त शुल्क नहीं होने से शिपरॉकेट किसी भी ब्रांड को सभी ऑर्डर 79 रुपए/5किमी की मामूली दर पर डिलीवर करने की अनुमति देगा।
नई सेवा के शुभारंभ पर बोलते हुए शिपरॉकेट के सीईओ और सह-संस्थापक श्री साहिल गोयल ने कहा, “ई-कॉमर्स पर विक्रेता डिलीवरी एंजेट्स की अनुपलब्धता के कारण ऑर्डर डिलीवरी में देरी करते हैं और अपने ग्राहकों को खो देते हैं। मौजूदा परिस्थिति में ग्राहक अपने ऑर्डर को पोस्ट करने के बाद एक दिन से अधिक समय तक इंतजार करना पसंद नहीं करते, खासकर आवश्यक वस्तुओं के लिए। शिपरॉकेट हाइपरलोकल यह सुनिश्चित करेगा कि ग्राहक उसी दिन या अगले दिन अपने ऑर्डर प्राप्त कर लें और यह काम शैडोफैक्स के अनुभवी डिलीवरी एजेंटों की मदद से किया जाता है। इस तरह के अनिश्चित और चुनौतीपूर्ण समय में शिपरॉकेट विक्रेताओं को तेजी से डिलीवर करने या अंतिम व्यक्ति तक जल्द से जल्द डिलीवरी पहुंचाने में मदद कर ग्राहक अनुभव को बेहतर बनाने और लाभदायक व्यवसाय निरंतरता बनाए रखने की अनुमति देगा। ”
साझेदारी पर बात करते हुए, भारत के सबसे बड़े क्राउडसोर्स लॉजिस्टिक्स प्लेटफॉर्म शैडोफैक्स के सीईओ अभिषेक बंसल ने कहा, “वर्तमान स्थिति में लॉकडाउन की सफलता इस बात पर निर्भर करती है कि लोगों को समय पर आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता रहे। शिपरॉकेट के साथ हमारी साझेदारी महत्वपूर्ण है और इससे हम लोगों को उनके भरोसेमंद स्टोरों से कुछ ही घंटों के भीतर आवश्यक वस्तुओं की हाइपरलोकल डिलीवरी सुनिश्चित करने के लिए सतत प्रयासरत हैं। यह साझेदारी ओम्नीचैनल के माध्यम से प्रौद्योगिकी और लॉजिस्टिक सेवा की संयुक्त पेशकश है, जो खुदरा विक्रेताओं, हाइपरमार्केट, फार्मेसियों और जिनके कई आउटलेट्स हैं, उन्हें ग्राहकों को तुरंत सेवा देने में सक्षम बनाएगी।”
2016 में शुरू किया गया शिपरॉकेट ई-कॉमर्स के क्षेत्र में कार्यरत एमएसएमई के साथ काम करता है, 220 देशों और भारत में 26 हजार पिन कोड्स पर शिपमेंट प्रदान करता है। आज ब्रांड के पास 1.5 लाख विक्रेता हैं और वह 15 कोरियर पार्टनर्स के साथ काम कर रहा है।
शिपरॉकेट के बारे में-
शिपकोर एक नए जमाने का लॉजिस्टिक्स एग्रीगेशन प्लेटफॉर्म है जो ई-कॉमर्स सेक्टर में काम करने वाले एमएसएमई के लिए वैश्विक और घरेलू शिपिंग को संचालित करता है। शिपरॉकेट 15 कोरियर पार्टनर्स के साथ लगभग 220 देशों और भारत में 26,000 पिन कोड्स पर डिलीवर करता है। 2016 में शुरू हुए शिपरॉकेट के पास आज 1.5 लाख विक्रेता हैं और अब तक $120 मिलियन से अधिक का जीएमवी चला चुके हैं। प्लेटफ़ॉर्म के कुछ यूएसपी में एआई-संचालित रिकमंडेशन इंजन, कॉस्ट-इफेक्टिवनेस (घरेलू और अंतरराष्ट्रीय शिपिंग दरों के साथ), टाइम-इफिशियंसी, डेटा-ड्रिवन अप्रौच और विक्रेताओं के लिए आसानी-से-उपयोग किया जा सकने वाले इंटीग्रेटेड इकोसिस्टम शामिल हैं (शिपरॉकेट 360 और शिपरॉकेट सोशल सहित) शामिल हैं। इसने पूरे भारत में ई-कॉमर्स शिपिंग के लिए अगली पीढ़ी के लॉजिस्टिक इनेबलर के रूप में उभरते हुए अपने ऑपरेशनल/ टारगेट जियोग्राफी या बिजनेस वॉल्युम पर ध्यान दिए बिना कस्टमरों को जोड़ा और कुल मिलाकर 300 प्रतिशत की साल-दर-साल वृद्धि दर हासिल करने में प्लेटफार्म को सक्षम किया है।

LEAVE A REPLY