स्कूलों का सीएजी ऑडिट कराने के लिए मंच द्वारा शुरु किए गए हल्ला बोल अभियान को पेरेंट्स का मिला जबरदस्त समर्थन

0
911

Today Express News / Ajay Verma / 24 जून हरियाणा अभिभावक एकता मंच द्वारा प्राइवेट स्कूलों का सीएजी से ऑडिट कराने के लिए चलाए जा रहे हल्ला बोल अभियान को प्रदेश के अभिभावकों का जबरदस्त समर्थन मिल रहा है। तीन दिन में इस अभियान से 5000 से ज्यादा पेरेंट्स व जागरूक नागरिक जुड़ चुके हैं। इस अभियान की शुरुआत 21 जून को प्रदेश स्तरीय ऑनलाइन मीटिंग में मंच की ओर से मुख्यमंत्री मनोहर लाल को ट्वीट के माध्यम से पत्र भेजकर की गई थी। इस ट्वीट को अब तक 151 अभिभावकों ने आगे मुख्यमंत्री को रिट्वीट किया है और 5000 से ज्यादा पेरेंट्स ने अभियान को समर्थन प्रदान किया है। मंच ने मुख्यमंत्री को ट्वीट के माध्यम से कहा है कि शिक्षा के व्यवसायीकरण को रोकने के लिए, हर साल बढ़ाई जाने वाली फीस की वैधानिकता जांचने के लिए सभी प्राइवेट स्कूलों का सीएजी से ऑडिट कराना बहुत जरूरी है क्योंकि इस कार्य के लिए बनाई गई फीस एंड फंड्स रेगुलेटरी कमेटी पूरी तरह से विफल हुई है।मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा व जिला सचिव डॉ मनोज शर्मा ने बताया कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए टि्वटर, फेसबुक, व्हाट्सएप, सोशल मीडिया का इस्तेमाल किया जा रहा है और इस अभियान से प्रत्येक जिले के जागरूक अभिभावकों, एनजीओ ,सामाजिक संस्थाओं, छात्र, अभिभावक व कर्मचारी संगठनों को जोड़ा जा रहा है। इन संगठनों की ओर से भी मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मांग की जा रही है कि प्राइवेट स्कूलों द्वारा किए जा रहे शिक्षा के व्यवसायीकरण पर पूरी तरह से रोक लगाने के लिए सभी प्राइवेट स्कूलों के पिछले 10 सालों के खातों की जांच व ऑडिट सीएजी से कराई जाए। कैलाश शर्मा ने बताया कि इस विषय पर ऑल इंडिया पेरेंट्स एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष व उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठ एडवोकेट अशोक अग्रवाल की ओर से पहले ही 5 मई को और रिमाइंडर के तौर पर 10 जून को मुख्यमंत्री को पत्र लिखा जा चुका है। और अब मंच इस विषय पर अभिभावकों का समर्थन प्रदान करने के लिए पूरे प्रदेश में हल्ला बोल अभियान चला रहा है जिसको अभिभावकों का व्यापक समर्थन मिल रहा है।

लिंक ट्विटर
👇
👆
DO YOUR BIT
हल्ला बोल-अभियान,
#CAGauditofPvtSchools
स्कूल वाले कहते हैं, हम घाटे में
आइए! CAG Audit करवाएं

LEAVE A REPLY