इस साल अति तेज रफ्तार से होंगे सड़कों, फ्लाईओवर और रेलवे के काम – उपमुख्यमंत्री

0
738
Deputy CM Dushyant Chautala
file photo JJp pr

TODAY EXPRESS NEWS / AJAY VERMA / चंडीगढ़, 29 फरवरी। आगामी वित्त वर्ष में हरियाणा में सड़कों, रेलमार्गों और फ्लाईओवर आदि के क्षेत्र में काम ऐतिहासिक गति से होने जा रहे हैं। उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की ओर से प्रस्तुत किए गए बजट में शामिल की गई लोकनिर्माण की योजनाएं राज्य के इतिहास में सर्वाधिक हैं और इनके पूरा होने पर हमारे गांवों और शहरों में जनजीवन बहुत आसान हो जाएगा। उप-मुख्यमंत्री ने बताया कि पीडबल्यूडी विभाग की योजना अगले वर्ष में 14 शहरों में नए बाइपास और 2 शहरों के निर्माणाधीन बाईपास को पूरा करने की है। उन्होंने बताया कि सोनीपत, टोहाना, कोसली, हथीन, पुन्हाना, पिनंगवा, छुछकवास, बहादुरगढ़, गोहाना और उचाना में नए बाइपास बनाने की योजना है जबकि पिंजौर और भिवानी के बाइपास पर चल रहा काम इसी साल पूरा हो जाएगा। इनके अलावा करनाल, कुरुक्षेत्र, जींद और नरवाना में बाइपास निर्माण के लिए केंद्र सरकार से आग्रह किया गया है ताकि इनका निर्माण नेशनल हाइवे अथॉरिटी कर सके। एक महत्वपूर्ण घोषणा के तहत राज्य सरकार गांवों को जोड़ने वाले 5 करम यानी 27.5 फीट चौड़े सभी कच्चे रास्तों को पक्का करेगी। उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने सरपंचों, जिला परिषद सदस्यों और आम नागरिकों से इस योजना का फायदा उठाने का आह्वान किया और कहा कि वे इस बारे में पीडब्ल्यूडी विभाग को प्रस्ताव पहुंचाएं। साथ ही इस साल के बजट में राज्य के सभी नेशनल हाइवे, स्टेट हाइवे और मुख्य जिला सड़कों पर रेलवे क्रासिंग को खत्म करने का फैसला लिया गया है। इन सभी फाटकों की जगह रेलवे ओवरब्रिज या अंडरब्रिज बनाने का विशेष कार्यक्रम चलाया जाएगा। उपमुख्यमंत्री ने बताया कि इस वक्त राज्य में रेलवे लाइनों पर 40 ओवरब्रिज या अंडरब्रिज बनाने का काम चल रहा है जो एक क्रांतिकारी कदम है। दुष्यंत चौटाला ने याद दिलाया कि 2014 से पहले राज्य में कुल 64 रेलवे ओवरब्रिज या अंडरब्रिज ही थे। राज्य के बजट में बताया गया है कि केंद्र सरकार से नेशनल हाइवे अथॉरिटी के जरिये हरियाणा में कई सड़कों, फ्लाईओवर आदि के निर्माण का आग्रह किया गया है। इनमें पंचकुला में एनएच-22 पर फ्लाईओवर, पटौदी बाईपास, गुरुग्राम-पटौदी-रेवाड़ी सड़क, दिल्ली-रोहतक मार्ग पर 5 अंडरपास और सर्विस रोड, अंबाला और भिवानी में रिंग रोड, करनाल, कुरुक्षेत्र, जींद और नरवाना में बाइपास, रोहतक-जींद 4 लेन मार्ग का दोबारा निर्माण, करनाल जिले के कंबोपुरा गांव का अंडरपास, यमुनानगर बाइपास पर अंडरपासों का निर्माण, पलवल-अलीगढ़ रोड पर ईस्टर्न पेरिफिरल रोड के लिए इंटरचेंज का निर्माण, नूंह-अलवर रोड को 4 लेन करने और नारनौल-महेंद्रगढ़-चरखी दादरी मार्ग को 4 लेन बनाया जाना शामिल है। हवा में चलेगी कैथल-कुरुक्षेत्र में ट्रेन, खत्म होंगे भीड़भाड़ वाले 8 फाटक एक अन्य महत्वपूर्ण कदम का जिक्र करते हुए उप-मुख्यमंत्री ने बताया कि कैथल और कुरुक्षेत्र में रेलवे लाइन पर एलिवेटिड ट्रैक बनाने का प्रस्ताव है यानी वहां रेल लाइन जमीन से ऊपर बनाई जाएगी। इससे कुरुक्षेत्र में 5 और कैथल में 3 रेलवे फाटक खत्म हो जाएंगे। दुष्यंत चौटाला ने खुशी जाहिर की कि राज्य सरकार जींद में पांडु पिंडारा के पास नया रेलवे स्टेशन बनाने पर विचार कर रही है जहां से रोहतक, नरवाना, पानीपत, सोनीपत और भविष्य में हांसी के लिए ट्रेन चलेंगी। उन्होंने कहा कि इससे जींद शहर का नक्शा ही बदल जाएगा और शहर आधुनिकता की ओर बढ़ेगा। गड्ढा ठीक नहीं हुआ तो ठेकेदार पर जुर्माना, शिकायतकर्ता को इनाम राज्य की सड़कों की मरम्मत की दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए सरकार ने फैसला लिया है कि हरपथ मोबाइल एप पर की गई गड्ढों की शिकायत अगर 96 घंटे में दूर नहीं होती है तो सरकार शिकायतकर्ता को 100 रुपये प्रोत्साहन राशि देगी और ठेकेदार पर 1000 रुपये प्रतिदिन जुर्माना लगाएगी। उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने इन सभी योजनाओं के लिए आवश्यक कदम उठाए जाने और इन्हें बजट में शामिल किए जाने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल का धन्यवाद किया है। उन्होंने कहा कि लोकनिर्माण विभाग राज्य के इन्फ्रास्ट्रक्चर को आधुनिक और देश में सर्वश्रेष्ठ बनाने के लिए तेज़ी से काम करेगा और सभी निर्माण अच्छी गुणवत्ता के साथ किए जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY