यूनाइटेड किंगडम का स्टूडेंट आवासीय बाज़ार : आपके जानने योग्य ज़रूरी बातें?

0
218

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ । कैंब्रिज यूनिवर्सिटी और ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी जैसे प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों में सफल कॅरियर के लिए दाखिला लेने के इच्छुक भारतीय स्टूडेंट्स की संख्या लगातार बढ़ रही है। इस उद्देश्य से वर्ष 2022 में भारत से ब्रिटेन जाने वाले स्टूडेंट्स की संख्या 1,17,965 थी, जो वर्ष 2019 में इस प्रकार के स्टूडेंट्स की संख्या से 215% ज्यादा है। इस बढ़ोतरी में हाल में वीज़ा प्रक्रिया में हुए बदलाव के अलावा इस तथ्य का योगदान है कि स्टूडेंट्स अब नौकरी के लिए 2 वर्षों के वीज़ा और पढ़ाई के लिए 1-2 वर्षों के वीज़ा (डिग्री में लगने वाले समय के आधार पर) का लाभ उठा सकते हैं, जिसके कारण यूके में उच्च शिक्षा की पढ़ाई करने का आकर्षण बढ़ा है।

यूके में स्टूडेंट्स की संख्या लगातार बढ़ने के साथ, स्टूडेंट्स के लिए हाउसिंग के इंफ्रास्ट्रक्चर का नामांकन में वृद्धि के साथ तालमेल बनाना आवश्यक हो गया है।

स्टूडेंट आवास का परिदृश्य
विशेषकर लंदन, बर्मिंघम, एडिनबर्ग, और नॉटिंघम जैसे बड़े शहरों में विश्वविद्यालयों के निकट आवास के लिए माँग ज्यादा है और इन्हें काफी तेजी से खरीदा जा रहा है। नतीजतन, स्टूडेंट्स शहर से बाहर सस्ते आवास की खोज कर रहे हैं और कॉलेज के लिए लम्बे समय के यातायात और पार्ट-टाइम काम की व्यवस्था कर रहे हैं। कुछ स्टूडेंट्स सेमेस्टर्स के बीच बदली करते हुए अल्प-कालिक आवास या स्थायी आवास की भी इच्छा कर सकते हैं। लेकिन अल्प-कालिक आवास की उपलब्धता सीमित हो सकती है।

भविष्‍य की राह
हालाँकि, विश्वविद्यालय या प्राइवेट आवास के लिए हमेशा से माँग रही है, लेकिन पर्पज़ली बिल्ट स्टूडेंट अकोमडेशन (पीबीएसए) का आकर्षण हाल में बढ़ा है और स्टूडेंट्स के बीच ये ज्यादा लोकप्रिय हो गए हैं। पीबीएसए रहने के लिए सही जगह खोजने का तनाव और चिंता कुछ हद तक दूर करने में आकर्षक हो सकते हैं। पूरे यूके में, पीबीएसए प्रदाता अपने निवासी स्टूडेंट्स की सुरक्षा को प्राथमिकता देते है, जिससे स्टूडेंट्स को सबसे महत्वपूर्ण चीज, यानी अपनी पढ़ाई और व्यक्तिगत विकास पर ध्यान केन्द्रित करने में मदद मिलती है। वे स्टूडेंट्स को आवास में प्रवेश करने के पहले सुरक्षा के सभी उपाय करते हैं, और आवास के भीतर तथा बाहर दोनों जगह पर स्टूडेंट के लिए सुरक्षित व्यवस्‍था के लिए सत्यापन में काफी ध्यान लगाते हैं। वे स्टूडेंट्स के आरामदायक आवास का आनंद उठाने के लिए सभी आधुनिक सुविधायें (जैसे कि, जिम, केलेस एंट्री, आदि) मुहैया करते हैं। वैसे, अल्पकालिक आवास की उपलब्धता संपत्ति के मालिक पर निर्भर करती है, इसलिए स्टूडेंट्स के पास परस्पर फायदेमंद अनुबंध करने के लिए पीबीएसए प्रदाताओं के साथ सौदेबाजी करने का विकल्प है।

निष्कर्ष
सफल वैश्विक कॅरियर बनाने की दिशा में यूके में उच्च शिक्षा प्राप्त करना एक शानदार विकल्प है। लेकिन, स्टूडेंट्स को पहले से योजना बनाकर उपयुक्त आवास खोज लेना चाहिए। इस तरह के आवास (पीबीएसए के जैसा) का चुनाव करना, जहाँ आस-पास में काफी हलचल हो और स्टूडेंट्स के लिए पार्ट-टाइम काम के प्रचुर अवसर उपलब्ध हों, हमेशा बेहतर होता है। ऐसी सुविधायें प्राइवेट हाउसिंग की अपेक्षा ज्यादा सुरक्षित होती हैं और ये स्टूडेंट्स को आधुनिक सुविधायें तथा वित्तीय अवसर प्रदान करने के लिए जानी जाती हैं। इन पहलुओं पर पहले से सक्रिय और जानकार रहकर स्टूडेंट्स यूके में अपनी शैक्षणिक सफलता के सफ़र को आसान और संतोषप्रद बना सकते हैं।श्री सायंतन बिस्‍वास, को-फाउंडर, यूनिएको (यूनीस्कॉलर्स की विस्तारित इकाई)

LEAVE A REPLY