Video : सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद अरावली के कान्त एन्क्लेव में बने अवैध निर्माण को प्रशासन ने ध्वस्त किया।

0
648

TODAY EXPRESS NEWS : बहुचर्चित कांत एंक्लेव में आखिरकार आज पीला पंजा चल ही गया, सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद सुबह से ही कांत एंक्लेव में फाॅरेस्ट विभाग तोडफोड कर रहा है, 11 सितम्बर 2018 को सुप्रीम कोर्ट ने फरीदाबाद में अरावली पर्वतीय इलाके में अवैध तरीके से निर्मित कांत एंक्लेव को 31 दिसंबर तक पूरी तरह ढहा देने का आदेश दिया था। मगर कोर्ट में पीडित परिवारों द्वारा याचिका दायिर करने के बाद समय लगा। जिसमें बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान एल एन पराशर ने कोर्ट में कांत एंक्लेव को तोडने की याचिका दायिर की और पार्टी बन गये। आज उन्हें खुशी हैं कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की पालना हो रही है जिससे अब अरावली बच पायेगी और जीव जंतुओं को उनका बसेरा मिल पायेगा।

सुप्रीम कोर्ट ने 11 सितम्बर 2018 को आदेश जारी करते हुए कहा था कि अरावली पर 18 अगस्त 1992 के बाद हुए अवैध निर्माण ढहा दिए जाएँ, जिसके आदेश के तहत आज कांत एंक्लेव में बडी तोडफोड की गई। सुबह से ही कांत एंक्लेव में फाॅरेस्ट विभाग तोडफोड मशीन लेकर पहुंचा और मकान तोडना शुरू कर दिया।

बता दें कि 11 सितम्बर 2018 को सुप्रीम कोर्ट ने कांत एंक्लेव को तोडने के लिये फाॅरेस्ट विभाग को 31 दिसबंर का समय दिया था मगर पीडित परिवारों ने कोर्ट में याचिका दायिर करवाई और मामला लटक गया, इस दौरान बार एसोसिएशन  के पूर्व प्रधान एल एन पराशर ने सुप्रीम कोर्ट में कांत एंक्लेव को तोडने के लिये याचिका दायिर कर दी और पार्टी बन गये।
इस बारे में बार एसोसिएशन  के पूर्व प्रधान एल एन पराशर से बात की गई तो उन्होंने बताया कि आज उन्हें खुशी है कि आखिरकार आज कांत एंक्लेव में तोडफोड की जा रही है, अब अरावली बच पायेगी और वहां रहने वाले जीव जंतुओं को फिर से बसेरा मिलेगा। जिसके लिये वह सुप्रीम कोर्ट को बार – बार धन्यवाद करते हैं।

( टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ के लिए अजय वर्मा की रिपोर्ट )


CONTACT FOR NEWS : JOURNALIST AJAY VERMA – 9716316892 – 9953753769
EMAIL : todayexpressnews24x7@gmail.com , faridabadrepoter@gmail.com

LEAVE A REPLY