युवा अपनी ऊर्जा का सही दिशा में करे उपयोग –ओपी सिहं पुलिस कमिश्नर

0
618
Youth should use their energy in the right direction - OP Singh Police Commissioner

Today Express News / Ajay verma / फरीदाबाद: पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने आज अपने कार्यालय सेक्टर 21C के सभागार में फरीदाबाद शहर के यूथ क्लब युवाओं के साथ बैठक की है। इस दौरान पुलिस कमिश्नर ने कहा कि युवाओं को समस्या की बजाय समाधान का हिस्सा बनना चाहिए, युवाओ से बैठक करने का मकसद है कि युवा समाज निर्माण में अपनी भूमिका अदा करे।  युवा और पुलिस के बीच जितना तालमेल बढेगा उतनी ही आपराधिक गतिविधियां कम होगी और उसका फायदा पूरे समाज को मिलेगा।

पुलिस कमिश्नर ने मौजूद सभी युवाओ को कहा कि नशे से दूर रहे अपनी उर्जा का सही दिशा में उपयोग करे अक्सर देखने में आता है कि कुछ युवा गलत संगत के चलते नशा इत्यादी करने लगते है और जब नशा करने के लिए पैसे नहीं मिलते तो वह चोरी करना शुरू कर देते हैं जो कि उन्हें अपराध जगत में एक कदम ओर आगे ले जाता है।  जब भी आपको अपने एरिया में कोई बच्चा रास्ते से भटका हुआ मिले मतलब गलत कार्य करता हुआ मिले तो उसे अच्छे से समझाएं, उसके परिवारजनों को इसके बारे में सूचित करें, उसे जीवन में शिक्षा के महत्व के बारे में अवगत कराएँ जितना हो सके उस बच्चे को एक सकरात्मक दिशा में आगे बढाने में मदद करें। खेलकूद में हिस्सा लें। खेल-कूद से हमारा मन गलत दिशा में नहीं भटकता है, शरीर में ऊर्जा बनी रहती है, हमेशा सकारात्मक रहे सकारात्मक रहने से हमारे व्यवहार और विचार में सही दिशा में बदलाव आता है।

इस दौरान मौजूद युवा जय प्रकाश झा निवासी सराय ख्वाजा ने बताया कि वह सेना में भर्ती होने की तैयारी कर रहा है ओर उसके साथ 5-6 लड़के और भी है जो तैयारी कर रहे है जिसपर पुलिस आयुक्त ने कहा कि एक एस.पी.ओ. की ड्यूटी लगायेंगे जोकि वह आर्मी में भर्ती होने के लिए कैसे तैयारी की जाती के बारे में पूरी जानकारी देगा और उनकी हर संभव मदद करेगा। लोकेश निवासी सेक्टर 31 ने बताया कि उन्होंने कुछ युवाओं की टीम बना रखी है सभी आपस में मिलकर पैसा इकट्ठा करते है ओर उस पैसो का इस्तेमाल किसी व्यक्ति का इलाज़ कराने में ओर जरुरत पूरी करने में करते है इस पर पुलिस कमिश्नर ने कहा कि अपने एरिया के बीट अधिकारी से संपर्क करें वह आपको कुछ सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों की तरफ से मिलने वाली मदद के बारे में बताएगा।

भुपानी एरिया के रहने वाले रमनदीप ने बताया कि वह आईपीएस बनना चाहता है, जिस पर पुलिस आयुक्त ने कहा कि वह अपने आसपास इस तरह के युवाओं को खोजे जो आईपीएस बनना चाहते है और सभी मिलकर एक फेसबुक पेज बनाए और उससे सभी जुड़े व मुझे भी जोड़े मैं आपकी हर संभव मदद करूँगा।

सेक्टर 17 निवासी कुनाल ने बताया कि वह सड़को व सावर्जनिक स्थानों पर कूड़ा फैंकने वालो के सख्त खिलाफ है जो भी कोई उनके आगे कूड़ा फैंकता है तो वह कूड़ा फैंकने वाले के सामने ही कूड़ा उठाता है और उनको कूड़ा न फैंकने के संबंध में समझाता है।

अनंगपुर के रहने वाले अंशु ने बताया कि वह बीकॉम का छात्र है शाम को 20- 25 बच्चे इकट्ठे होकर कबड्डी, कुश्ती इत्यादि खेल खेलते है और आपस में बैठकर एक दुसरे युवाओं की समस्या सुनते है। जिसपर पुलिस आयुक्त ने कहा कि वह उनका खेल देखने ओर उनके साथ खेलने के लिए आयेंगे।

एस.जी.एम. नगर निवासी कपिल शर्मा ने बताया कि उसने 15-20 लोगो के साथ मिलकर लॉक डाउन में जरूरतमंद लोगो को खाना दिया है और लोगो की मदद की है। बच्चो को गलत चीजों से अवगत कराते है और गलत संगत में चल रहे बच्चो को समझाते है।

एन.आई.टी. एरिया के रहने वाले रविन्द्र ने बताया की वह जिम ट्रेनर है 20-25 लोगो को ट्रेनिंग देता है। युवाओं को बॉडी बनाने के लिए स्ट्राइड का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए स्ट्राइड से ब्रेन हेमरेज का और हार्ट अटैक का खतरा होता है।

डबुआ निवासी धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि उसने b.a. किया है और गवर्नमेंट जॉब की तैयारी कर रहा है पुलिस में जॉब करना चाहता है और एसआई भर्ती होना चाहता है। जिस पर पुलिस कमिश्नर ने एक पीएसआई की ड्यूटी लगाई है और उनको कहा है कि वह उनको भर्ती होने के बारे में बताएं कि कैसे तैयारी करनी चाहिए सभी जानकारी दे।

गांव छायसा निवासी कुलदीप भाटी ने बताया कि उन्होंने एक ग्रुप बना रखा है बच्चों को आर्मी में और पुलिस में भर्ती होने के लिए ट्रेनिंग देते हैं। पुलिस कमिश्नर ने उनको कहा है कि बच्चों को लगातार ट्रेनिंग देते रहें युवाओं का प्रोत्साहन बढ़ाएं प्रशासन की तरफ से जो भी मदद होगी वह की जाएगी।

पुलिस कमिश्नर महोदय ने मौजूद सभी युवाओं को कहा कि कई बार युवा अच्छे कार्य को भी नहीं करते हैं यह कहकर कि यह छोटा काम है उन्होंने कहा कि कोई भी काम छोटा बड़ा नहीं होता, हर अच्छे कार्य से हमें कुछ ना कुछ सीख मिलती है अच्छे कार्य चाहे छोटे हो या बड़े हमें करते रहना चाहिए।

अपने बल को हमेशा सकारात्मक चीज में लगाएं हो सके तो शाम को हमेशा खेलकूद में हिस्सा लें इससे आप गलत काम करने से बचेंगे बल्कि आप अपना शारीरिक और मानसिक विकास भी कर पाएंगे।

कोई भी स्थानीय समस्या होती है उसके लिए युवा आगे आएं और उन समस्याओं का निवारण करें।

उन्होंने एक वाक्य का जिक्र करते हुए कहा कि जैसे चौंच में पानी लेकर चिड़िया जंगल की आग बुझाने का साहस रखती है इसी चीज को मन में रखकर कार्य करें आप अकेले भी बहुत कुछ कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY