गणेश पूजन और वैदिक मंत्रों द्वारा आरंभ किया शिव पार्वती का पूजन विस्तार से बताया शिव रात्रि का महतत्व

0
1292

TODAY EXPRESS NEWS / REPORT / AJAY VERMA / शिवरात्रि के पावन अवसर पर भगवान शंकर जी का गुणगान कीर्तन प्रसिद्ध तिरखा कॉलोनी के श्री 11 रुद्र शिव मंदिर में किया गया जिसमें तिरखा कॉलोनी की सभी बहनों ने भगवान शंकर का गुणगान कीर्तन भजन किया इसमें  केला देवी, पुष्पा देवी, लीलावती , कविता, योगिता ,बबीता, पूजा रानी सुमित्रा, सुमन  समस्त तिरखा कॉलोनी की बहनों ने भगवान शंकर का गुणगान किया इस कीर्तन की मुख्य यजमान कविता देवी ने अपने पुत्री के विवाह के मांगलिक उत्सव को मंगलमय करने के लिए कीर्तन भी किया गया अखिल भारतीय मानव कल्याण ट्रस्ट के प्रदेश अध्यक्ष पंडित तरसेम वत्स ने शिव रात्रि का महतत्व विस्तार से जानकारी दी और बताया कि 21 फरवरी को शाम को 5 बजकर 20 मिनट से 22 फरवरी, शनिवार को शाम सात बजकर 2 मिनट तक विशेष महत्व होगा  पौराणिक मान्यता के अनुसार इसी पावन रात्रि को भगवान शिव ने संरक्षण और विनाश का सृजन किया था। मान्यता यह भी है कि इसी पावन दिन भगवान शिव और देवी पार्वती का शुभ विवाह संपन्न हुआ था

 ईशान संहिता के अनुसार ‘फाल्गुनकृष्णचर्तुदश्याम् आदि देवो महानिशि। शिवलिंगतयोद्भुत: कोटिसूर्यसमप्रभ:। तत्कालव्यापिनी ग्राह्या शिवरात्रिव्रते तिथि:।’ अर्थात् फाल्गुन चतुर्दशी की मध्यरात्रि में आदिदेव भगवान शिव लिंगरूप में अमिट प्रभा के साथ उद्भूत हुए। इस रात को कालरात्रि और सिद्धि की रात भी कहते हैं। यही कारण है कि महाशिवरात्रि के पर्व को शिव साधक बड़ी धूम-धाम से मनाते हैं और पूजा और कीर्तन करते हैं। हिंदू धर्म के अनुसार भगवान शिव पर पूजा करते वक्त बिल्वपत्र, शहद, दूध, दही, शक्कर और गंगाजल से अभिषेक करना चाहिए। ऐसा करने से आपकी सारी समस्याएं दूर होंगी साथ ही मांगी हुई मुराद भी पूरी होगी। महाशिवरात्रि के दिन शुभ काल के दौरान ही महादेव और पार्वती की पूजा की जानी चाहिए तभी इसका फल मिलता है। महाशिवरात्रि पर रात्रि में चार बार शिव पूजन की परंपरा है। ट्रस्ट के राष्टीय महामंत्री हृदयेश सिंह ने बताया कि मानव सेवा ही सच्ची सेवा होती है हम ट्रस्ट के माध्यम से निःस्वार्थ सेवा करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं हम लोग निःशुल्क शिक्षा व कंप्यूटर शिक्षा दे रहे हैं अभी ट्रस्ट के पास 155 बच्चे हैं जो ट्रस्ट की सेवा ले रहे हैं ट्रस्ट की अधिक जानकारी Google पर Akhil Bhartiya Manav Kalyan Trust
से Search कर देख सकते हैं हमें सेवा करने में बहुत अच्छा लगता है इस अवसर पर ट्रस्ट के राष्टीय प्रभारी धर्मेन्द्र चौधरी, राष्टीय उपाध्यक्ष कुवर लखन रावत,  राष्ट्रीय महासचिव महेश शर्मा, कोषाध्यक्ष मधु शर्मा, मीडिया प्रभारी संजय शर्मा, राष्टीय सचिव सुष्मिता भौमिक, राष्टीय सचिव नीलम शर्मा, राष्टीय सचिव नीलम तेवतिया, राष्टीय सचिव पूनम चौधरी, राष्टीय सचिव अर्चना चित्रा, प्रदेश अध्यक्ष संगीता नेगी , प्रदेश अध्यक्ष पंडित तरसेम वत्स, जिला अध्यक्ष यश जैन जिला महामंत्री  लक्ष्मण सक्सेना , ट्रस्टी विमलेश देवी ,सचिव राधिका गुप्ता , नीरज कुमार, वेदवीर सिंह,
संजय शर्मा ,  सुबोध कुमार साह, शिव शंकर राय, राजन कुमार, मनीषा देवी , बेबी देवी, सतपाल सिंह, दिनेश प्रसाद, सुदर्शन सिंह व अन्य बहुत से व गणमान्य नागरिक मौजूद रहे |

LEAVE A REPLY