टियर-2 और टियर-3 शहरों में ईकॉमर्स सेलर पिकर के ऑल-इन-वन मोबाइल ऐप के साथ लॉजिस्टिक लाभ प्राप्त कर रहे हैं

0
465
All-in-one ecommerce seller pickrr in Tier-2 and Tier-3 cities

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ / रिपोर्ट / अजय वर्मा / नई दिल्ली, सास आधारित (SaaS-based) लॉजिस्टिक स्टार्टअप पिकर ने अपने उपयोग में आसान मोबाइल एप्लिकेशन को लॉन्च करने की घोषणा की है। पिकर एसएमबी (SMBs) और डी2सी (D2C) ब्रांड्स को एंड-टू-एंड लॉजिस्टिक्स और वेयरहाउसिंग सॉल्युशन प्रदान करता है। पिकर के नए मोबाइल ऐप उद्देश्य टियर-2 और टियर-3 बाजारों में ब्रांड्स को लॉजिस्टिक के मामले में प्रतिस्पर्धियों के मुकाबले बढ़त प्रदान करना है। यह मोबाइल ऐप छोटे ब्रांड्स को डेटा से संचालित ऑपरेशनल दक्षता, डेटा इंटेलिजेंस तक पहुंच और ग्राहकों को मजबूत संचार सूट के साथ सशक्त बनाने की पिकर की लॉन्ग-टर्म प्रतिबद्धता के अनुरूप है। पिकर लॉजिस्टिक क्षेत्र में एकमात्र ऐसा ब्रांड है जो 10 क्षेत्रीय भाषाओं में अपना डैशबोर्ड प्रदान करता है।

अत्याधुनिक ऐप मजबूत टेक्नोलॉजी ढांचे पर बनाया गया है और इसके एडवांस और तब भी उपयोग में आसान फीचर्स के माध्यम से ई-कॉमर्स विक्रेताओं को एक सहज लॉजिस्टिक अनुभव देने के लिए डिज़ाइन किया गया है। पिकर के ऐप के साथ वे चलते-फिरते अपने बिजनेस के परफॉर्मंस और रेवेन्यू का व्यापक विश्लेषण प्राप्त कर सकते हैं। इस ऐप के यूजर अपने ग्राहकों की संपूर्ण ऑर्डर प्रोसेसिंग यात्रा के बारे में भी अपडेट रह सकते हैं, उनके ऑर्डर ट्रैक कर सकते हैं और रियल-टाइम में पैकेज के फ्रेट रेट्स की गणना कर सकते हैं, और किसी भी प्रश्न या समस्या के लिए 24×7 कस्टमर सर्विस सपोर्ट प्राप्त कर सकते हैं।

ऐप के लॉन्च के बारे में अपने इनसाइट्स शेयर करते हुए पिकर के सह-संस्थापक और सीईओ रितिमान मजूमदार ने कहा, “टियर 2 और टियर-3 बाजारों में बिजनेस की बहुत बड़ी संभावना है। कोविड-19 ने एक कैटेलिस्ट के रूप में काम किया है और बिजनेस को ऑनलाइन शिफ्ट किया है, जहां या तो वे बाज़ारों में सीधे बेच रहे हैं या सीधे उपभोक्ताओं को बेच रहे हैं। पिकर उन व्यवसायों को सरल और समर्थन देने के लिए प्रतिबद्ध है, जिन्होंने डेटा की शक्ति का उपयोग करके ऑनलाइन बिक्री में परिवर्तन किया है। उपयोग में आसान, डेटा लाइट पिकर एप्लिकेशन को लॉन्च करना मल्टीलिंग्वल डैशबोर्ड को लॉन्च करने के बाद स्वाभाविक अगला कदम था। टियर 2- टियर-3 बाजारों में हमारी स्वीकृति बहुत अधिक है, जो पिकर के लिए तीन गुना विकास को भी बढ़ावा दे रही है।”

पिकर का मोबाइल ऐप लॉन्च ऐसे समय में हुआ है जब भारत में ई-कॉमर्स विक्रेता फेस्टिव भीड़ का अनुभव कर रहे हैं। कोविड-19 मामलों के कम होने के साथ ग्राहकों की मांग बढ़ रही है और त्योहारों के महीनों में बढ़ती मांग को देखते हुए व्यवसायों के सामने लॉजिस्टिक्स के विभिन्न पहलुओं को संभालना बहुत बड़ी चुनौती बन रहा है- जिसमें ऑर्डर लेने से लेकर पैकेजिंग और लास्ट-मील डिलीवरी तक रिवर्स लॉजिस्टिक्स तक शामिल है। इस पृष्ठभूमि में पिकर की बिल्कुल नई पेशकश ऑनलाइन विक्रेताओं के कंधों से लॉजिस्टिक्स का बोझ हटाकर राहत के रूप में सामने आई है।

LEAVE A REPLY