रेडियो मानव रचना 107.8, कम्युनिटी रेडियो स्टेशन द्वारा ‘स्वास्थ्य संकल्प’ कार्यक्रम श्रृंखला का प्रसारण

0
380
Community Radio Station, Radio Manav Rachna 107.8 broadcasted 'Pledge for Good Health' programme in association with UNICEF India

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ । रिपोर्ट अजय वर्मा । फरीदाबाद, 30 नवंबर, बुधवार: फरीदाबाद के कम्युनिटी रेडियो स्टेशन, रेडियो मानव रचना 107.8 द्वारा जुलाई 2022 – नवंबर 2022 तक ‘स्वास्थ्य संकल्प’ कार्यक्रम श्रृंखला का प्रसारण किया गया | यह कार्यक्रम कम्युनिटी रेडियो एसोसिएशन और यूनिसेफ इंडिया के सौजन्य से रेडियो मानव रचना पर प्रसारित किए गए जिनके अंतर्गत कोरोना महामारी के दौरान हुई समस्याओं के बारे में बात की गई और लोग अभी तक कोरोना के दुष्प्रभावों से किस तरह से जूझ रहे हैं तथा बच्चों से लेकर बुज़ुर्गों को किस तरह अपना ध्यान रखना है, इन सभी विषयों को इन कार्यक्रमों में उठाया गया |

18 एपिसोड्स की इस कार्यक्रम श्रृंखला में कोरोना के टीकाकरण के बारे में बात की गई, फरीदाबाद के गाँवों में घर – घर जाकर लोगों को कोरोना टीकाकरण के दोनों डोज़ के साथ साथ बूस्टर डोज़ की आवश्यकता के बारे में बताया | सोशल वर्कर्स और डॉक्टर्स से साक्षात्कार करके आम जनता को कोरोना के दुष्प्रभावों से बचने के उपाय बताए गए और साथ ही CAB (Covid Appropriate Behaviour) के बारे में उन्हें जागरुक किया गया |

इन कार्यक्रमों में पानी की स्वच्छता और सुरक्षा के विषय में बात करते हुए कई एक्सपर्ट्स के विचार श्रोताओं तक पहुंचाए गए | फरीदाबाद के गाँवों में जाकर सभी को पानी की स्वछता, सुरक्षा और बारिश के समय में किस तरह बारिश के पानी को साफ़ करके घर के कामों में इस्तेमाल किया जा सकता है, जैसे विषयों पर बात की गई और साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर अपनी स्वच्छता का ध्यान कितना ज़रूरी है, इस तरह की पूरी जानकरी श्रोताओं तक पहुंचाई गई |

कोरोना में समय में बच्चों से लेकर बड़ो तक सभी ने शारीरिक समस्याओं के साथ-साथ मानसिक समस्याओं का भी सामना किया, इसीलिए इन कार्यक्रमों में बच्चों, व्यसकों और बुज़ुर्गों के मानसिक स्वास्थय के विषय में भी चर्चा की गई| इसके अलावा, डॉक्टर्स और एक्सपर्ट्स द्वारा कोरोना के बाद भी किस तरह अपने मानसिक स्वास्थय का ख्याल रखना है, ये सभी जानकारी जन – जन तक पहुँचाने का प्रयास किया गया | बच्चों का दोबारा स्कूलों को लौटना, दफ्तरों में कर्मचारियों का वापिस आना, ये सभी विषय इन कार्यक्रमों में उठाए गए, स्कूलों में जाकर छात्रों को जागरूक किया गया कि अपने घर और स्कूल में स्वछता अपनाना और सामाजिक दूरी बनाए रखना कितना आवयश्क है |

कहते हैं कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता है, इसीलिए कोरोना के बाद भी किस तरह का खान-पान हमें अपनाना है, नवजात शिशु से लेकर बुज़ुर्गों को इस तरह का डाइट लेना है, स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को किस तरह अपना और शिशु का ख्याल रखना है, ये सभी जानकारी डॉक्टर्स और एक्सपर्ट्स के माध्यम से लोगों तक पहुंचाई गई | कोरोना समय में गाँवों में ग्राम पंचायतों की भागीदारी, गाँव – गाँव में स्वछता का ध्यान, पर भी बात की गई और साथ ही बाल मजदूरी, बाल विवाह, आर्थिक तंगी, खुले में शौच जैसे गंभीर मुद्दों को भी इन कार्यक्रमों में शामिल किया गया |

इन कार्यक्रमों में रेडियो मानव रचना 107.8 के रेडियो जॉकीज़ भावना, फहीम, सागर, प्रियंका, पूजा और साक्षी की सम्पूर्ण भागीदारी रही और साथ ही कम्युनिटी के आम लोगों को भी इन कार्यक्रमों में शामिल किया गया और कोरोना समय में उनके साथ आपबीती पर भी उनके विचार रेडियो के माध्यम से सभी के साथ सांझा किए गए |

LEAVE A REPLY