फ्री बिजली-पानी देने लगेंगे तो होगा दुरुपयोग: कृष्णपाल गुर्जर

0
497
Faridabad Industries Association - sep 2021

टुडे एक्सप्रेस न्यूज़ / रिपोर्ट / अजय वर्मा / फरीदाबाद। केंद्रीय ऊर्जा एवं भारी उद्योग राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि सरकार बिजली-पानी फ्री में देने लगेगी तो उसका कितना दुरुपयोग होगा इसकी कल्पना नहीं की जा सकती है। जब किसी चीज के लिए हमें भुगतान ही नहीं करना होगा तो उसका उपयोग कम और दुरुपयोग ज्यादा होगा। केंद्रीय राज्यमंत्री शनिवार शाम सूरजकुंड स्थित एक होटल में फरीदाबाद इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (एफआईए) की 68वीं वार्षिक आम सभा में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। इस मौके पर प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा बतौर विशिष्ट अतिथि मौजूद थे। समारोह में उद्योगपति सुनील गुलाटी को लाइफ टाइम एचीवमेंट सम्मान से नवाजा गया।

समारोह का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। एफआईए प्रधान बीआर भाटिया ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए उनको उद्योगों के समक्ष आने वाली समस्याओं के बारे में बताया। खासकर पानी और आधारभूत ढांचे की कमी के कारण उद्योगों को काफी परेशानियां झेलनी पड़ती हैं। बीआर भाटिया ने कहा कि उद्योगों में पानी की किल्लत है। उन्होंने सुझाव दिया कि फरीदाबाद मैट्रोपोलेटियन डेवलेपमेंट एथोरिटी द्वारा उपलब्ध करवाए जा रहे पानी को नगर निगम की लाइनों के माध्यम से उद्योगों को आपूर्ति की जाए तो इससे काफी हद तक समस्या का समाधान हो सकता है। श्री भाटिया ने पिछले सप्ताह औद्योगिक क्षेत्र की सड़कों के निर्माण कार्य के शुभारंभ के लिए केंद्रीय राज्यमंत्री का धन्यवाद करते हुए सेक्टर-चार औद्योगिक क्षेत्र की सड़कों को भी बनवाने की मांग की।

उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा कि अगर हमें अच्छी सड़कें, साफ पानी और भरपूर बिजली चाहिए तो उसके लिए भुगतान करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि पिछले सात-आठ सालों में शहर में आपूर्ति के क्या हालात थे, उद्यमियों से बेहतर कौन जान सकता है। बिजली निगम घाटे में चल रहे थे, मगर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयासों से न केवल बिजली निगम घाटे से उबरकर लाभ में आए हैं, बल्कि प्रदेश के अधिकतम गांवों में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति हो रही है, जहां कभी 8 घंटे बिजली आती थी। कृष्णपाल गुर्जर ने बताया कि पूरे देश में बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन लाख करोड़ का बजट दिया है, मगर इसका लाभ उन्हीं राज्यों को दिया जाएगा जो अपने सिस्टम में सुधार करेंगे। लोगों को फ्री में बिजली देने के लिए तो राज्यों को पैसा नहीं दिया जा सकता।

प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार भविष्य में आने वाली समस्याओं के लिए अभी से समाधान ढूंढ रही है। फरीदाबाद में पानी की किल्लत है, हालांकि रैनीवेल की एक और नई लाइन की टेस्टिंग हो चुकी है और जल्द ही ओल्ड फरीदाबाद जोन में रैनीवेल से आपूर्ति शुरू हो जाएगी। भविष्य में आबादी बढ़ने के साथ ही पानी की मांग भी बढ़ेगी। फरीदाबाद में सुचारू रूप से जलापूर्ति के लिए यमुना पर बैराज बनाने की जरुरत है। पानी के लिए रैनीवेल पर और काम करना पड़ेगा। फरीदाबाद विधानसभा से विधायक नरेंद्र गुप्ता ने बताया कि दीपावली से पहले शहर की सभी सड़कों की मरम्मत कर दी जाएगी। इस मौके पर मुख्य रूप से मंडलायुक्त संजय जून, जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव सहित प्रसिद्ध उद्योगपति केसी लखानी, एफआईए के महासचिव जसमीत सिंह, कोषाध्यक्ष एससी भाटिया, नरेंद्र अग्रवाल, एचएल भूटानी, प्रदीप मोहंती, शम्मी कपूर, एसएस बांगा, वीके मलिक, विजय जिंदल, रमणीक प्रभाकर, जीएस त्यागी, एचके बतरा सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।
——
ये हुए सम्मानित
– नवदीप चावला, चेयरमैन, सीएसआर पैनल, एफआईए
– नरेंद्र अग्रवाल, चेयरमैन, एनवायरमेंट पैनल, एफआईए
– विजय जिंदल, चेयरमैन, एक्सपोर्ट एवं इंटरनेशनल ट्रैड पैनल
– टीएम ललानी, चेयरमैन, इनकम टैक्स पैनल
– सतीश भाटिया, वाइस चेयरमैन, जीएसटी पैनल
– एसएस सौरोत, चेयरमैन, एचआर एवं आईआर पैनल
– केसी लखानी, चेयरमैन, इंफ्रास्ट्रक्चर पैनल
– सतीश गौसांई, चेयरमैन, एमएसएमई पैनल
– एसके तनेजा, चेयरमैन, सेमिनार एवं ट्रैनिंग पैनल
– एचएल भूटानी, चेयरमैन, स्किल डेवलपमेंट पैनल
– ऋषि अग्रवाल, गोल्फ पैनल
– एसके कपूर, चेयरमैन, क्लीन एवं ग्रीन पैनल
– संजय गुलाटी, चेयरमैन, लॉ एडं आर्डर पैनल
– राजन घई, वाइस चेयरमैन, एनर्जी एवं एचईआरसी पैनल
– सुुनील गुलाटी, चेयरममैन, मेंबरशिप प्रमोशन पैनल
– संजीव खेमका, चेयरमैन, पॉलिसी मैकिंग एवं रिफार्म पैनल
– एसके जैन, चेयरमैन, स्टार्टअप पैनल
– आर. महेश्वरी, चेयरमैन, टैक्सटाइल पैनल
– राज भाटिया, चेयरमैन, बैंकिंग एवं फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन पैनल

LEAVE A REPLY