एमजी मोटरइंडिया ने कस्टमर्सके माता-पिता की 1500 कारों काकिया सेनेटाइजेशन

0
724
MG Motorindia Sanitizes 1500 Cars Of Customers' Parents
Photo By MG Motors India Pr.

गुरुग्राम, 27 अगस्त, 2020: एमजी मोटर इंडिया ने हाल ही में राष्ट्रव्यापी ‘एमजी सेवा- पैरेंट्स फर्स्ट’ पहल शुरू की है। कार्यक्रम के एक हिस्से के रूप में ऑटोमेकर अपने ग्राहकों के माता-पिता के स्वामित्व वाली कारों को सेनेटाइज कर रहा है। एमजी ने अब तक देशभर में 1500 से अधिक कारों को सेनेटाइज किया है।

माता-पिता के कार का ब्रांड कोई भी हो, यह सेनेटाइजेशन फ्री है। यह पहल वरिष्ठ नागरिकों को सुरक्षित और सेनेटाइज ड्राइविंग अनुभव के लिए एमजी के राष्ट्रव्यापी डीलरशिप नेटवर्क की ओर से की जा रही है। कार के केबिन सुरक्षित और कंटेमिनेशन से मुक्त बनाने के लिए सेनेटाइजेशन प्रक्रिया में इको-फ्रेंडली ‘ड्राई वॉश’ के साथ-साथ सीटों जैसे टच-पॉइंट एरिया भी शामिल हैं।

‘एमजी सेवा- पैरेंट्स फर्स्ट’ पहल का उद्देश्य वरिष्ठ नागरिकों का सम्मान करना है और उनके लिए एक यादगार अनुभव बनाना है। सेनेटाइजेशन प्रोग्राम पूरे जुलाई में चलाया गया और यह 31 अगस्त, 2020 तक जारी रहेगा।

एमजी सेवा के बारे में

एमजी मोटर इंडिया कम्युनिटी और इनवायरनमेंट को अपने बिजनेस के महत्वपूर्ण स्टेकहोल्डर मानती है और इसने एमजी सेवा और सभी फंक्शनल टीमों में सस्टेनेबिलिटी के तहत कई पहल की है।

एमजी सेवा एक ऐसा प्लेटफार्म है जो कम्युनिटी की सेवा करता है। खासकर ऐसी कम्युनिटी के लिए जो सीधे-सीधे कंपनी से जुड़ी है, यानी वडोदरा, हलोल और गुड़गांव में। इस प्रोग्राम के तहत कार निर्माता ने 2019 में छात्राओं की शिक्षा को सपोर्ट करना शुरू किया, और अब तक 60,000 से अधिक लड़कियों को इस पहल का लाभ मिला है। एमजी सेवा की अन्य पहल में बेरोजगार महिलाओं को मास्क बनाने का प्रशिक्षण दिया गया, 100 शिक्षकों को ट्रेनिंग दी गई। गुड़गांव में सड़क सुरक्षा पर 4 लाख से अधिक बच्चों को जागरुक किया गया और 4,000 पुलिस कारों को सैनिटाइज करना शामिल है। इसके अलावा, एमजी ने वड़ोदरा में एमएसएमई कंपनी, मैक्स वेंटिलेटर को वेंटिलेटर के एडवांस उत्पादन की सुविधा के लिए तकनीकी और बुनियादी ढांचे की सहायता प्रदान की। पिछले 2 महीनों में प्रोडक्शन 4 गुना तक बढ़ गया है। हाल ही में कार निर्माता ने 100 से अधिक हेक्टर कारों को फ्रंटलाइन हेल्थवर्कर्स के लिए उपलब्ध कराया और उसी के हिस्से के रूप में हेक्टर एम्बुलेंस दान दी। कंपनी यह सुनिश्चित करने में सबसे आगे रही है कि प्रवासी मजदूरों को देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान भोजन प्राप्त हो सके।

एमजी मोटर इंडिया के बारे में

1924 में यूके में स्थापित मॉरिस गैराज वाहन अपनी स्पोर्ट्स कारों, रोडस्टर्स और कैब्रियोलेट सीरीज के लिए विश्व प्रसिद्ध थे। ब्रिटिश प्रधानमंत्रियों और यहां तक कि ब्रिटिश शाही परिवार सहित कई मशहूर हस्तियों के बीच एमजी वाहनों की बहुत मांग की गई थी, खासकर उनके स्टाइल, एलिगेंस और स्पिरिटेड परफॉर्मंस की वजह से। यूके के एबिंगडन में 1930 में स्थापित एमजी कार क्लब के हजारों लॉयल फैन हैं, जो इसे किसी एक कार ब्रांड के लिए दुनिया के सबसे बड़े क्लबों में से एक बनाता है। एमजी पिछले 96 वर्षों में एक मॉडर्न, फ्यूचरिस्टिक और इनोवेटिव ब्रांड के रूप में विकसित हुआ है। एमजी मोटर इंडिया का गुजरात के हलोल में अपना कार मैन्यूफेक्चरिंग प्लांट है। एमजी मोटर इंडिया ने अपने कोर में डायवर्सिटी को रखा है और उसके वर्कफोर्स में 31% हिस्सेदारी महिलाओं की है। यह ऑटोमोटिव स्पेस में सबसे ज्यादा है। अधिक जानकारी https://www.mgmotor.co.in/mg-sewa पर प्राप्त की जा सकती है।

LEAVE A REPLY