प्रयागराज मंडल में 34 लाख से अधिक लोग करते है तंबाकू उत्पादों का उपयेाग

0
540

Today Express News / Report / U.P. / Ajay Verma / प्रयागराज 17 मार्च। प्रयागराज मंडल में करीब 34 लाख से अधिक लोग तंबाकू व अन्य धूम्रपान उत्पादों का उपभोग किसी न किसी रुप में करते है, जोकि बेहद चिंताजनक है। जिसके चलते यंहा पर प्रतिवर्ष 12 हजार से अधिक लोगों की मौत हो रही है। वंही 1 लाख 91 हजार लोग उतरप्रदेश में अपनी जान इससे गवंा रहें है। यह बात मंगलवार को आलामेलू चैरीटेबल फाउंडेशन (टाटा ट्रस्ट), संबध हैल्थ फाउंडेशन (एसएचएफ) द्वारा के तंबाकू मुक्त उतरप्रदेश पर आयेाजित पत्रकार वार्ता में सामने आई। इस अवसर पर वायस आॅफ टोबेको विक्टिमस (वीओटीवी) के पैट्रन व कैंसर रोग विशेषज्ञ कमला नेहरु अस्पताल की डा. राधा रानी घेाष ने कहा, ‘‘ वर्तमान समय में अस्पताल में जो कैंसर के मरीज आते है उनमें अधिकत की आयु कम हेाती है, खासकर युवा वर्ग की संख्या इसमें अधिक हेाती है। इस चकाचैंध भरे समय में हमारी युवा पीढ़ी पूरी तरह से पथभ्रष्ट हो रही है। इसे बचाना बेहद जरुरी है। इसके लिए हम सभी को सकारात्मक रुप से पहल करनी होगी। उन्होने कहा कि “तंबाकू जनित बीमारियों का ईलाज व ऑपरेशन दोनेंा ही कष्टदायक और काफी तकलीफदायी हेाता है और वे इसके बाद गुणवत्तावाला जीवन नहीं जी पाते हैं। इससे उनके परिवार को भी आर्थिक संकट से गुजरना पड़ता है। साथ ही हमारे युवाअेां में तंबाकू व अन्य धूम्रपान उत्पादों के बढ़ते प्रयोग से युवा वर्ग खासकर शिक्षारत बच्चों व युवाअेंा पर शारीरिक व मानसिक रुप से प्रभाव पड़ रहा है। डा.घोष ने कहा जेा लेाग पहले तंबाकू का सेवन करते है और कैंसर से ग्रसित हो जाते है तब उन्हे इसका सेवन करने लिए पछतावा होता है। अगर हम समाज से तंबाकू जैसी महामारी को खत्म करते हैं, तो हम 50 प्रतिशत कैंसर और 90 प्रतिशत मुंह के कैंसर को रोक सकेंगे। इनका मुख्य कारण तंबाकू है। इसे रोकने में पुलिस जैसी कानून लागू करने वाली संस्थाएं केाटपा के प्रभावी कार्यान्वयन कर हमारी युवा पीढ़ी को बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती हैं।

LEAVE A REPLY